Monday, November 29, 2021
Homeदेश-समाजबेटी से छेड़खानी की शिकायत की तो नूर आलम और तार मोहम्मद ने पीट-पीटकर...

बेटी से छेड़खानी की शिकायत की तो नूर आलम और तार मोहम्मद ने पीट-पीटकर मार डाला

अहमद की पिटाई की खबर सुन उसका बेटा अरशद भी मौके पहुॅंचा। नूर और तार मोहम्मद ने उसकी भी पिटाई की। बकौल अरशद हमले में उसका सिर फट गया। जब स्थानीय लोग मौके पर जुटे तो दोनों फरार हो गए।

बिहार के सीवान में एक बाप को अपनी बेटी के साथ हुई छेड़खानी की शिकायत करना भारी पड़ गया। बेटी की छेड़खानी की शिकायत करने पर उसे अपनी जान से हाथ धोना पड़ा। अहमद अली की बेटी 20 दिसंबर की सुबह 7 बजे टहलने निकली थी। इसी दौरान गाँव के ही नूर आलम के पुत्र जुबरे आलम और गुड्डू ने उसके साथ छेड़खानी की।

बेटी ने जब इस घटना के बारे में बताया तो अहमद शिकायत लेकर नूर आलम के घर गया। जब अहमद ने नूर से उसके बेटे जुबरे आलम की करतूत की शिकायत की तो वह आग-बबूला हो गया। नूर आलम ने तार मोहम्मद के साथ मिलकर अहमद के साथ गाली-गलौज की और फिर उसको मारने भी लगे। अहमद के बेटे अरशद ने इस घटना के बार में प्रभात खबर को बताते हुए कहा कि नूर आलम ने अहमद को जान से मारने की नीयत से उसकी गर्दन पर जानलेवा प्रहार किया। ये वार इतना तगड़ा था कि अहमद मूर्छित होकर जमीन पर गिर पड़ा।

अरशद ने बताया कि जब उसे इस बारे में पता चला तो वह भी मौके पर पहुँचा। उसके वहाँ पहुँचने पर उनलोगों ने अरशद की भी पिटाई करनी शुरू कर दी। अरशद का कहना है कि नूर आलम और तार मोहम्मद ने उसके सिर पर इतनी जोर से वार किया कि उसका सिर फट गया और वो घायल हो गया। इसके बाद स्थानीय लोग इकट्ठा होने लगे, जिसे देखकर दोनों वहाँ से फरार हो गए।

ग्रामीणों ने अहमद और अरशद को गुठनी पीएचसी में भर्ती करवाया। अरशद ने बताया कि दोनों की हालत देखते हुए सीवान सदर के लिए रेफर कर दिया गया। वहाँ पर भी हालत में सुधार न होने पर पटना पीएमसीएच में भर्ती करवाया गया। जहाँ अहमद की रात 8:30 बजे मौत हो गई।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘जिनके घर शीशे के होते हैं, वे दूसरों पर पत्थर नहीं फेंका करते’: केजरीवाल के चुनावी वादों पर बरसे सिद्धू, दागे कई सवाल

''अपने 2015 के घोषणापत्र में 'आप' ने दिल्ली में 8 लाख नई नौकरियों और 20 नए कॉलेजों का वादा किया था। नौकरियाँ और कॉलेज कहाँ हैं?"

‘शरजील इमाम ने किसी को भी हथियार उठाने या हिंसा करने के लिए नहीं कहा, वो पहले ही 14 महीने से जेल में’: इलाहाबाद...

इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने अपनी टिप्पणी में कहा कि शरजील इमाम ने किसी को भी हथियार उठाने या हिंसा करने के लिए नहीं कहा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
140,506FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe