Friday, August 19, 2022
Homeदेश-समाजमस्जिद में हनुमान चालीसा पढ़ने-पढ़ाने वाले BJP नेता व मौलवी को भरना पड़ा ₹10...

मस्जिद में हनुमान चालीसा पढ़ने-पढ़ाने वाले BJP नेता व मौलवी को भरना पड़ा ₹10 लाख का मुचलका

खेकड़ा क्षेत्र के विनयपुर गांव में बीजेपी नेता मनुपाल बंसल ने मंगलवार को मस्जिद में मौलाना से इजाजत लेने के बाद भाईचारे के लिए मस्जिद में हनुमान चालीसा का पाठ किया था। मौलाना अली हसन ने कथित तौर पर इसकी इजाजत दी थी।

उत्तर प्रदेश के बागपत के विनयपुर गाँव स्थित मस्जिद में हनुमान चालीसा और गायत्री मंत्र का पाठ करने के मामले में स्थानीय पुलिस ने भाजपा नेता और मौलवी से मुचलका (बॉन्ड) भरवाया। खेकड़ा थाने के पुलिस निरीक्षक अनिल कुमार ने शुक्रवार (नवंबर 6, 2020) को जानकारी दी कि 5-5 लाख रुपए का मुचलका बनाया गया और उस पर भाजपा नेता मनुपाल बंसल और मौलवी अली हसन से हस्ताक्षर करवाए गए। इसके बाद उन्हें छोड़ दिया गया।

पुलिस का कहना है कि इस घटना को लेकर कहीं भी किसी भी प्रकार का तनाव नहीं है और स्थिति पूरी तरह सामान्य है। हाल ही में खबर आई थी कि मस्जिद में हनुमान चालीसा और गायत्री मंत्र का पाठ करने की अनुमति देने वाले मौलवी को मुस्लिम समाज के लोगों ने बैठक कर के मस्जिद से निकाल दिया है। पुलिस ने इस घटना को असत्य बताते हुए कहा कि मौलाना अली हसन को निकाले जाने की खबर सही नहीं है।

पुलिस ने बताया कि मौलवी को कुछ दिनों के लिए घर भेजा गया है और वो कुछ ही दिनों में वापस आ जाएँगे। वहीं भाजपा जिला कार्यकारिणी सदस्य एवं जनसंख्या फाउंडेशन के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मनुपाल बंसल ने दावा किया है कि भाजपा या उनकी संस्था का इस घटना से कोई लेना-देना नहीं है और ये उनका व्यक्तिगत निर्णय था। उन्होंने मौलवी को निकाले जाने की बात पर कहा कि ये गलत है क्योंकि उन्होंने तो भाईचारे का सन्देश दिया था।

दरअसल बागपत में खेकड़ा क्षेत्र के विनयपुर गाँव में भाजपा की जिला कार्यकारिणी सदस्य एवं जनसंख्या फाउंडेशन के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मनुपाल बंसल मंगलवार (नंवबर 3, 2020) को मस्जिद में पहुँचे थे। उनका कहना था कि मौलाना अली हसन से इजाजत लेने के बाद उन्होंने भाईचारे के लिए पवित्र स्थान मस्जिद में हनुमान चालीसा का पाठ किया। हनुमान चालीसा के पाठ को फेसबुक पर लाइव किया गया और गायत्री मंत्र का पाठ भी किया गया था। 

इससे पहले एक अलग घटना में उत्तर प्रदेश में मथुरा के एक मंदिर में नमाज पढ़ने के बाद गोवर्धन इलाके की ईदगाह में चार युवकों ने हनुमान चालीसा का पाठ किया था। ईदगाह मस्जिद में मंगलवार (नवंबर 3, 2020) सुबह किए गए इस हनुमान चालीसा पाठ का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ तो पुलिस एक्शन में आई और तत्काल चारों युवकों को हिरासत में ले लिया गया था। युवकों का शांतिभंग की धाराओं में चालान कर जेल भेज दिया गया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NYT के जिस ‘विज्ञापन’ पर सिसोदिया को दुनिया में बेस्ट बता रहे CM केजरीवाल, उसमें प्राइवेट स्कूल की तस्वीर होने का दावा

NYT के जिस विज्ञापन पर अपनी पीठ थपथपा रहे केजरीवाल, उसमें तस्वीर दिल्ली के मयूर विहार स्थित 'मदर मेरी स्कूल' के छात्र-छात्राओं की तस्वीर लगी है।

‘वो हिन्दू क्रिकेटर है, उससे नहीं मिलना चाहता’: वीडियो से सामने आई मदरसे के नाबालिग छात्र की सोच, लोग बोले – बचपन से देते...

वायरल वीडियो में देखा जा सकता है कि नाबालिग बच्चा सिर्फ इसलिए बांग्लादेशी क्रिकेटर सौम्य सरकार से नहीं मिलना चाहता है, क्योंकि वो हिंदू हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
215,248FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe