Saturday, May 18, 2024
Homeदेश-समाजदिल्ली के स्कूलों के बाद अस्पतालों में बम रखे होने की अफवाह: बुरारी के...

दिल्ली के स्कूलों के बाद अस्पतालों में बम रखे होने की अफवाह: बुरारी के बाद संजय गाँधी मेमोरियल अस्पताल में अफरातफरी, IGI एयरपोर्ट को भी धमकी

दिल्ली के 2 अस्पतालों में बम की धमकी मिली है। बम की धमकी ई-मेल के माध्यम से दी गई, जिसके बाद अफरातफरी मच गई।

दिल्ली के दर्जनों अस्पतालों में बम की धमकी के बाद अब दिल्ली के 2 अस्पतालों में बम की धमकी मिली है। बम की धमकी ई-मेल के माध्यम से दी गई, जिसके बाद अफरातफरी मच गई। ये मामला रविवार (12 मई 2014) का है, जहा दिल्ली के बुरारी में स्थित सरकारी अस्पताल और मंगोलपुरी में स्थित संजय गाँधी मेमोरियल अस्पताल में बम की सूचना मिली। इसके अलावा इंदिरा गाँधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर भी बम रखने की सूचना मिली।

दिल्ली फायर सर्विस के मुताबिक, बुराड़ी सरकारी अस्पताल और मंगोलपुरी के संजय गाँधी अस्पताल में बम की धमकी वाले ईमेल मिले। सूचना के बाद बम निरोधक दस्ता और अग्निशमन अधिकारियों की कई टीमें मौके पर पहुँच गई और अस्पताल में सघन तलाशी अभियान छेड़ दिया। दिल्ली पुलिस के डीसीपी (उत्तर) मनोज मीणा ने बताया कि, अभी तक की जाँच में कुछ भी संदिग्ध नहीं मिला है।

दिल्ली पुलिस ने मामले में अपना बयान जारी करते हुए कहा कि, “बुराड़ी अस्पताल में बम की धमकी के संबंध में एक ईमेल प्राप्त हुआ था। स्थानीय पुलिस, बम निरोधक टीमें (बीडीटी) अस्पताल में हैं। अभी तक कुछ भी संदिग्ध नहीं मिला है।” डीसीपी (बाहरी) जिमी चिरम ने कहा कि, पुलिस ने बम पता लगाने वाली टीम के साथ मंगोलपुरी के संजय गाँधी मेमोरियल अस्पताल में विस्तृत तलाशी ली और कोई संदिग्ध सामान नहीं मिला है।

बताया जा रहा है कि अस्पतालों के अलावा IGI एयरपोर्ट को भी बम से उड़ाने की धमकी दी गई है। बताया जा रहा है कि बम से उड़ाने की धमकी मिलने के बाद सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया गया है।

बता दें कि कुछ दिन पहले दिल्ली और नोएडा के कई स्कूलों को ठीक इसी की तर्ज पर ईमेल के जरिए धमकी दी गई थी। जिससे स्कूली बच्चों, टीचर्स और माता-पिता काफी घबरा गए थे। जानकारी मिलने पर एक-एक स्कूल की तलाशी ली गई थी और यहाँ तक कि जिन स्कूलों को मेल नहीं आया था, उनके स्टूडेंट्स को भी वापस घर भेज दिया गया था। हालाँकि तलाशी में कुछ भी नहीं मिला था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जिसे वामपंथन रोमिला थापर ने ‘इस्लामी कला’ से जोड़ा, उस मंदिर को तोड़ इब्राहिम शर्की ने बनवाई थी मस्जिद: जानिए अटाला माता मंदिर लेने...

अटाला मस्जिद का निर्माण अटाला माता के मंदिर पर ही हुआ है। इसकी पुष्टि तमाम विद्वानों की पुस्तकें, मौजूदा सबूत भी करते हैं।

रोफिकुल इस्लाम जैसे दलाल कराते हैं भारत में घुसपैठ, फिर भारतीय रेल में सवार हो फैल जाते हैं बांग्लादेशी-रोहिंग्या: 16 महीने में अकेले त्रिपुरा...

त्रिपुरा के अगरतला रेलवे स्टेशन से फिर बांग्लादेशी घुसपैठिए पकड़े गए। ये ट्रेन में सवार होकर चेन्नई जाने की फिराक में थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -