Wednesday, June 29, 2022
Homeदेश-समाजबुलंदशहर में रात के अँधेरे में उपद्रवियों ने 'नवग्रह मंदिर' पर बोला हमला, रामदरबार...

बुलंदशहर में रात के अँधेरे में उपद्रवियों ने ‘नवग्रह मंदिर’ पर बोला हमला, रामदरबार की मूर्ति टूटने पर लोगों में रोष

कुछ उपद्रवियों ने बुलंदशहर के सिकंदराबाद एसडीएम कॉलोनी स्थित 'नवग्रह मंदिर' में दीवार फाँदकर महला बोल दिया। इस दौरान घंटों तक मचाए गए उत्पाद में उपद्रवियों ने लंबे डंडे की मदद से राम दरबार में लगी लक्ष्मण की मूर्ति को पूरी तरह से खंडित कर दिया। इतना ही नहीं इस दौरान उपद्रवियों ने मंदिर परिसर में बने पुजारी के.......

उत्तर प्रदेश के जिला बुलंदशहर के ‘नवग्रह मंदिर’ में गुरुवार (21 मई, 2020) रात को अँधेरे का फायदा उठाकर उपद्रवियों ने हमला बोल दिया। मंदिर में घंटों तक मचाए गए उत्पात में रामदबार की एक मूर्ति पूरी तरह से खंडित हो गई। सुबह में इसकी जानकारी पुजारी के द्वारा जैसे ही इलाके के लोगों को हुई। लोगों के अंदर रोष व्याप्त हो गया। सूचना पर पहुँची बुलंदशहर पुलिस मामले की जाँच में जुट गई है।

जानकारी के मुताबिक गुरुवार की रात कुछ उपद्रवियों ने बुलंदशहर के सिकंदराबाद एसडीएम कॉलोनी स्थित ‘नवग्रह मंदिर’ में दीवार फाँदकर महला बोल दिया। इस दौरान घंटों तक मचाए गए उत्पाद में उपद्रवियों ने लंबे डंडे की मदद से राम दरबार में लगी लक्ष्मण की मूर्ति को पूरी तरह से खंडित कर दिया। इतना ही नहीं इस दौरान उपद्रवियों ने मंदिर परिसर में बने पुजारी के कमरे के ताले को भी तोड़ने का भरपूर प्रयास किया, हालाँकि उपद्रवी इसमें कामयाब नहीं हो सके।

हर रोज की तरह शुक्रवार (22 मई, 2020) की सुबह करीब पाँच बजे मंदिर में पूजा अर्चना के लिए पुजारी पंडित आशीष उपाध्याय पहुँचे तो वह मंदिर में टूटी मूर्तियों को देखकर दंग रह गए। पुजारी ने बताया कि जब मंदिर की छत पर पहुँचे तो उन्होंने देखा कि उनके कमरे के ताले को भी एक लम्बे सरिया की मदद से तोड़ने का प्रयास किया गया, लेकिन वह इसे तोड़ नहीं सके।

इसकी जानकारी इलाके के लोगों को मिलते ही मौके पर लोगों की भीड़ जमा हो गई और घटना को लेकर अपना रोष व्यक्त करने लगी।

मामले का वीडियो:

साभार: पत्रिका

वहीं मंदिर समिति की सूचना के बाद तत्काल थाना पुलिस मौके पर पहुँची गई। घटना स्थल पर पहुँची पुलिस ने मंदिर के पुजारी के साथ आस-पास के लोगों से भी पूछताछ की और फिर मामले की जाँच में जुट गई।

एसएचओ सिकंदराबाद के मुताबिक घटना बीती रात की है। मंदिर में स्थापित लक्ष्मण की मूर्ति का एक हाथ खण्डित हुआ है। घटना के संबंध में थाना सिकंदराबाद पर सुसंगत धाराओं में अभियोग पंजीकृत कर अग्रिम विधिक कार्यवाही की जा रही है। फिलहाल कहा जा रहा है कि कानून व्यवस्था संबंधित कोई समस्या नहीं है।

सीओ गोपाल चौधरी के मुताबिक मंदिर में कुछ शरारती तत्वों ने इस घटना को अंजाम दिया है तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज किया जाएगा और जल्द से जल्द मूर्तियों को मंदिर में लगवाया जाएगा।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘इस्लाम ज़िंदाबाद! नबी की शान में गुस्ताखी बर्दाश्त नहीं’: कन्हैया लाल का सिर कलम करने का जश्न मना रहे कट्टरवादी, कह रहे – गुड...

ट्विटर पर एमडी आलमगिर रज्वी मोहम्मद रफीक और अब्दुल जब्बार के समर्थन में लिखता है, "नबी की शान में गुस्ताखी बर्दाश्त नहीं।"

कमलेश तिवारी होते हुए कन्हैया लाल तक पहुँचा हकीकत राय से शुरू हुआ सिलसिला, कातिल ‘मासूम भटके हुए जवान’: जुबैर समर्थकों के पंजों पर...

कन्हैयालाल की हत्या राजस्थान की ये घटना राज्य की कोई पहली घटना भी नहीं है। रामनवमी के शांतिपूर्ण जुलूसों पर इस राज्य में पथराव किए गए थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
200,255FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe