Sunday, September 19, 2021
Homeदेश-समाजशिवसैनिकों ने मुंबई में अब डिलीवरी बॉय के साथ की गुंडई: मारपीट मामले में...

शिवसैनिकों ने मुंबई में अब डिलीवरी बॉय के साथ की गुंडई: मारपीट मामले में 4 गिरफ्तार, 2 फरार

पिछले महीने दादर में शिवसेना और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हुई थी। इसके बाद शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा था कि ‘शिवसैनिक सर्टिफाइड गुंडे होते हैं और हमें किसी से भी सर्टिफिकेट लेने की ज़रूरत नहीं है।’

महाराष्ट्र पुलिस ने मुंबई के कांदीवली इलाके में डिलीवरी बॉय के साथ मारपीट करने के आरोप में 4 शिवसेना कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया है। रिपोर्ट्स के अनुसार गुरुवार (29 जुलाई 2021) को कांदीवली ईस्ट के पोइसर इलाके के जय हिंद चॉल में रहने वाले ई-कॉमर्स डिलीवरी एजेंट राहुल शर्मा ने समता नगर पुलिस स्टेशन में शिवसेना कार्यकर्ताओं के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी।

शिकायत में शर्मा ने बताया कि वह एक ई-कॉमर्स साइट के लिए डिलीवरी एजेंट का काम करते हैं। वह एक पार्सल की डिलीवरी के लिए पोइसर इलाके में गया हुआ था। तेज बारिश होने पर भीगने से बचने के लिए उसने शिवसेना के पोइसर शिवाजी मैदान स्थित ब्रांच ऑफिस के शेल्टर के नीचे शरण ली।

इसी दौरान ऑफिस में मौजूद शिवसेना नेता चंद्रकांत निनेवे, शर्मा के पास आया और डिलीवरी पार्सल ले लिया। शर्मा ने बताया कि जब उन्होंने निनेवे से पार्सल को सुरक्षित तौर पर पकड़ने के लिए कहा तो शिवसेना नेता ने गालियाँ देनी शुरू कर दी। पुलिस के अनुसार दोनों के बीच बातचीत बढ़ गई और निनेवे ने 5 अन्य शिवसेना कार्यकर्ताओं के साथ शर्मा के साथ मारपीट की।

पुलिस ने बताया कि घटना की शिकायत दर्ज होने के बाद 6 लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है, जिनमें से 4 आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया गया है और 2 आरोपित अभी भी फरार चल रहे हैं। महाराष्ट्र पुलिस ने बताया कि आईपीसी की संगत धाराओं के अंतर्गत 6 शिवसेना कार्यकर्ताओं के खिलाफ केस दर्ज किया गया है और मामले की जाँच की जा रही है।

ज्ञात हो कि पिछले महीने दादर में शिवसेना और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हुई थी। इसके बाद शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा था कि ‘शिवसैनिक सर्टिफाइड गुंडे होते हैं और हमें किसी से भी सर्टिफिकेट लेने की ज़रूरत नहीं है।’ उन्होंने दावा किया था कि शिवसैनिक ये ‘गुंडागिरी’ मराठी लोगों के लिए करते हैं। राउत ने इस दौरान भाजपा युवा मोर्चा को चेताया भी था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सिख नरसंहार के बाद छोड़ दी थी कॉन्ग्रेस, ‘अकाली दल’ में भी रहे: भारत-पाक युद्ध की खबर सुन दोबारा सेना में गए थे ‘कैप्टेन’

11 मार्च, 2017 को जन्मदिन के दिन ही कैप्टेन अमरिंदर सिंह को पंजाब में बहुमत प्राप्त हुआ और राज्य में कॉन्ग्रेस के लिए सत्ता का सूखा ख़त्म हुआ।

अडानी समूह के हुए ‘The Quint’ के प्रेजिडेंट और एडिटोरियल डायरेक्टर, गौतम अडानी के भतीजे के अंतर्गत करेंगे काम

वामपंथी मीडिया पोर्टल 'The Quint' में बतौर प्रेजिडेंट और एडिटोरियल डायरेक्टर कार्यरत रहे संजय पुगलिया अब अडानी समूह का हिस्सा बन गए हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,067FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe