Tuesday, June 18, 2024
Homeदेश-समाज'एक मिनट भी नहीं लगेगा, SC/ST एक्ट का मुकदमा करा दूँगा': DM, SDM, CO...

‘एक मिनट भी नहीं लगेगा, SC/ST एक्ट का मुकदमा करा दूँगा’: DM, SDM, CO सबको चंद्रशेखर ‘रावण’ ने सरेआम धमकाया, वीडियो वायरल

"अगर आपको नहीं पता है तो मैं बता देता हूँ। अगर आपने 7 दिन में पैसा इनके खाते में नहीं भेजा ना, तो आप पर, CO साहब पर और DM साहब पर भी SC-ST एक्ट का मुकदमा करा दूँगा।"

उत्तर प्रदेश की ‘आज़ाद समाज पार्टी’ के अध्यक्ष चंद्रशेखर आज़ाद ‘रावण’ का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें वो SC-ST एक्ट लगाने की धमकी देते हुए दिखाई दे रहे हैं। इस वीडियो में वो एक अधिकारी से पूछते हैं, “आप कब आए यहाँ?” इस पर उक्त अधिकारी जवाब देता है – “27 तारीख़ को।” फिर चंद्रशेखर आज़ाद ‘रावण’ कहते हैं, “फिर भी 7 दिन के भीतर पैसा जमा कराना होता है। मैं आपके खिलाफ SC-ST एक्ट का मुकदमा करा सकता हूँ, आपको पता है?”

इसके बाद वो कहते हैं, “अगर आपको नहीं पता है तो मैं बता देता हूँ। अगर आपने 7 दिन में पैसा इनके खाते में नहीं भेजा ना, तो आप पर, CO साहब पर और DM साहब पर भी SC-ST एक्ट का मुकदमा करा दूँगा। बहुत छोटा सा काम है मेरे लिए, एक मिनट भी नहीं लगेगा कराने में। आप चाहते हो मुकदमा में फँसना?” बता दें कि चंद्रशेखर आज़ाद ‘रावण’ ‘भीम आर्मी’ नामक संगठन के भी संस्थापक हैं, जिसे विभिन्न दलित संगठनों को मिला कर बनाया गया है।

वीडियो औरैया जिले का बताया जा रहा है। वहाँ वो बृजेश कुमार नामक एक मृतक के पत्नी और बच्चों से मिलने के लिए गए थे। उनकी 22 जनवरी, 2023 को हत्या कर दी गई थी। बृजेश कुमार की हत्या से लगभग एक साल पहले उनकी माँ की भी लाश भी एक खेत से मिली थी। बताया जा रहा है कि उनके पिता जयप्रकाश की भी हत्या ही हुई थी। हालाँकि, बहादुरपुर गाँव के रहने वाले इस परिवार के लोगों की हत्या के आरोप किसी पर साबित नहीं हुए।

बृजेश कुमार की विधवा आरती देवी ने गजेंद्र सिंह समेत 4 लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी। इस मामले में गजेंद्र सिंह की गिरफ़्तारी भी हुई थी। परिवार ने चंद्रशेखर आज़ाद ‘रावण’ से हस्तक्षेप करने की गुहार लगाई थी। 7 फरवरी, 2024 को वो यहाँ पहुँचे थे। इसी दौरान उन्होंने SDM को धमकी दी। पिछले कुछ वर्षों में SC-ST एक्ट के दुरुपयोग के कई मामले सामने आए हैं। सुप्रीम कोर्ट एक बार इस कानून को निरस्त भी कर चुका है, लेकिन भारी विरोध प्रदर्शन के बाद इसे संसद के माध्यम से आपस लाना पड़ा था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NEET-UG में 0.001% की भी लापरवाही हुई तो… : सुप्रीम कोर्ट ने NTA और केंद्र सरकार को नोटिस जारी कर माँगा जवाब

सुप्रीम कोर्ट ने अहम टिप्पणी करते हुए कहा कि अगर 0.001 प्रतिशत भी किसी की खामी पाई गई तो हम उससे सख्ती से निपटेंगे।

तेजस्वी यादव के बगल में खड़े इस राजा को देखिए, वहीं के व्यवसायी को सुपारी देकर मरवाया जहाँ से माँ थी RJD उम्मीदवार: हत्या...

बिहार के पूर्णिया में 2 जून, 2024 को हुई एक व्यवसायी गोपाल यादुका की हत्या की सुपारी राजद नेता बीमा भारती के बेटे राजा ने दी थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -