मुहर्रम: ताजिया जुलूस के सामने आए CISF जवान पर चाकू से हमला, 5 पुलिसकर्मी घायल

जख्मी जवानों को देखकर गाँव वाले सड़क पर उतर आए और उन्होंने गुस्से में ताजिया जुलूस रोक दिया। बाद में, जुलूस में शामिल लोग ग्रामीणों पर पथराव करने लगे।

बिहार के भागलपुर में अकबर थाना क्षेत्र के सिमराहा गाँव में ताजिया जुलूस में शामिल लोगों ने CISF जवानों से मारपीट करके उनपर चाकू से वार कर दिया।

जवानों की गलती सिर्फ़ इतनी थी कि जहाँ से ये जुलूस गुजर रहा था, वे वहाँ बाइक लेकर उनके सामने पड़ गए। जिसके बाद जुलूस में शामिल लोगों ने उनकी बाइक रोक दी, लेकिन फिर भी जवान आगे बढ़ने के लिए अड़े रहे।

इस कहासुनी में मामला इतना बढ़ गया कि बाद में दोनों पक्षों की ओर से पथराव की स्थिति बन गई। जिसको शांत करवाने की कोशिश में 5 पुलिसकर्मी घायल हो गए।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो चिड़ैया गाँव के सीआइएसएफ के जवान बाइक से स्टेशन जा रहे थे, उनकी बाइक को रोका गया, उन पर हमला हुआ और मुहर्रम के जुलूस में शामिल एक युवक ने तो सीआईएसएफ के जवान पर चाकू से भी वार किया। इस कारण जवान बुरी तरह से घायल हो गया। बाद में उग्र भीड़ से बचने के लिए जवान अपनी बाइक को छोड़कर वहाँ से भाग गए और अपने गाँव पहुँचकर परिजनों को इसकी सूचना दी।

जख्मी जवानों को देखकर गाँव वाले सड़क पर उतर आए और उन्होंने गुस्से में ताजिया जुलूस रोक दिया। बाद में, जुलूस में शामिल लोग ग्रामीणों पर पथराव करने लगे।

घटना की जानकारी थोड़ी देर बाद आला अधिकारियों को दी गई और घटना के 3 घंटे बाद खुद एसएसपी, डीएम सहित कई अधिकारी घटना स्थल पर पहुँचे। जिला से अतिरिक्त पुलिस को बुलाया गया और सुरक्षा के इंतजाम किए गए।

बाद में बड़ी मशक्कत से आला अधिकारियों ने दोनों पक्षों को समझाया और सभी को घटनास्थल से हटा दिया गया। लेकिन आक्रोशित लोगों ने रेलवे ट्रैक पर भी प्रदर्शन किया और पथराव शुरू कर दिया। जिससे यातायात 2 घंटे तक प्रभावित रहा। शांति समिति की बैठक में दोनों पक्ष के लोगों को बुलाया गया, जहाँ उन्हें समझाने की कोशिश जारी है।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

अमित शाह, राज्यसभा
गृहमंत्री ने कहा कि पिछले वर्ष इस वक़्त तक 802 पत्थरबाजी की घटनाएँ हुई थीं लेकिन इस साल ये आँकड़ा उससे कम होकर 544 पर जा पहुँचा है। उन्होंने बताया कि सभी 20,400 स्कूल खुले हैं। उन्होंने कहा कि 50,000 से भी अधिक (99.48%) छात्रों ने 11वीं की परीक्षा दी है।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

114,891फैंसलाइक करें
23,419फॉलोवर्सफॉलो करें
122,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: