Wednesday, June 29, 2022
Homeदेश-समाजमुहर्रम: ताजिया जुलूस के सामने आए CISF जवान पर चाकू से हमला, 5 पुलिसकर्मी...

मुहर्रम: ताजिया जुलूस के सामने आए CISF जवान पर चाकू से हमला, 5 पुलिसकर्मी घायल

जख्मी जवानों को देखकर गाँव वाले सड़क पर उतर आए और उन्होंने गुस्से में ताजिया जुलूस रोक दिया। बाद में, जुलूस में शामिल लोग ग्रामीणों पर पथराव करने लगे।

बिहार के भागलपुर में अकबर थाना क्षेत्र के सिमराहा गाँव में ताजिया जुलूस में शामिल लोगों ने CISF जवानों से मारपीट करके उनपर चाकू से वार कर दिया।

जवानों की गलती सिर्फ़ इतनी थी कि जहाँ से ये जुलूस गुजर रहा था, वे वहाँ बाइक लेकर उनके सामने पड़ गए। जिसके बाद जुलूस में शामिल लोगों ने उनकी बाइक रोक दी, लेकिन फिर भी जवान आगे बढ़ने के लिए अड़े रहे।

इस कहासुनी में मामला इतना बढ़ गया कि बाद में दोनों पक्षों की ओर से पथराव की स्थिति बन गई। जिसको शांत करवाने की कोशिश में 5 पुलिसकर्मी घायल हो गए।

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो चिड़ैया गाँव के सीआइएसएफ के जवान बाइक से स्टेशन जा रहे थे, उनकी बाइक को रोका गया, उन पर हमला हुआ और मुहर्रम के जुलूस में शामिल एक युवक ने तो सीआईएसएफ के जवान पर चाकू से भी वार किया। इस कारण जवान बुरी तरह से घायल हो गया। बाद में उग्र भीड़ से बचने के लिए जवान अपनी बाइक को छोड़कर वहाँ से भाग गए और अपने गाँव पहुँचकर परिजनों को इसकी सूचना दी।

जख्मी जवानों को देखकर गाँव वाले सड़क पर उतर आए और उन्होंने गुस्से में ताजिया जुलूस रोक दिया। बाद में, जुलूस में शामिल लोग ग्रामीणों पर पथराव करने लगे।

घटना की जानकारी थोड़ी देर बाद आला अधिकारियों को दी गई और घटना के 3 घंटे बाद खुद एसएसपी, डीएम सहित कई अधिकारी घटना स्थल पर पहुँचे। जिला से अतिरिक्त पुलिस को बुलाया गया और सुरक्षा के इंतजाम किए गए।

बाद में बड़ी मशक्कत से आला अधिकारियों ने दोनों पक्षों को समझाया और सभी को घटनास्थल से हटा दिया गया। लेकिन आक्रोशित लोगों ने रेलवे ट्रैक पर भी प्रदर्शन किया और पथराव शुरू कर दिया। जिससे यातायात 2 घंटे तक प्रभावित रहा। शांति समिति की बैठक में दोनों पक्ष के लोगों को बुलाया गया, जहाँ उन्हें समझाने की कोशिश जारी है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘इस्लाम ज़िंदाबाद! नबी की शान में गुस्ताखी बर्दाश्त नहीं’: कन्हैया लाल का सिर कलम करने का जश्न मना रहे कट्टरवादी, कह रहे – गुड...

ट्विटर पर एमडी आलमगिर रज्वी मोहम्मद रफीक और अब्दुल जब्बार के समर्थन में लिखता है, "नबी की शान में गुस्ताखी बर्दाश्त नहीं।"

कमलेश तिवारी होते हुए कन्हैया लाल तक पहुँचा हकीकत राय से शुरू हुआ सिलसिला, कातिल ‘मासूम भटके हुए जवान’: जुबैर समर्थकों के पंजों पर...

कन्हैयालाल की हत्या राजस्थान की ये घटना राज्य की कोई पहली घटना भी नहीं है। रामनवमी के शांतिपूर्ण जुलूसों पर इस राज्य में पथराव किए गए थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
200,277FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe