Saturday, June 15, 2024
Homeदेश-समाजBYJU'S के मालिक के ठिकानों पर ED का छापा: ₹28000 करोड़ के FDI की...

BYJU’S के मालिक के ठिकानों पर ED का छापा: ₹28000 करोड़ के FDI की मिली जानकारी, एजेंसी ने जब्त किए आपत्तिजनक दस्तावेज और डिजिटल डेटा

छापेमारी में ईडी ने यह भी पाया है कि बायजूस के नाम से ऑनलाइन लर्निंग प्लेटफॉर्म चलाने वाली कंपनी 'थिंक एंड लर्न प्राइवेट लिमिटेड' कंपनी ने साल 2011 से 2023 के बीच 28000 करोड़ रुपए का प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (FDI) हासिल किया था।

प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने ऑनलाइन लर्निंग प्लेटफॉर्म बायजूस (BYJU’S) के मालिक रवींद्रन बायजू के बेंगलुरु स्थित 3 ठिकानों पर छापेमारी की है। इस छापेमारी में ईडी ने 28000 करोड़ रुपए के एफडीआई का रिकॉर्ड मिला है। ईडी ने यह कार्रवाई शनिवार (29 अप्रैल, 2023) को फॉरेन एक्सचेंज मैनेजमेंट एक्ट (FEMA) के तहत की।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, रवींद्रन बायजू की कंपनी ‘थिंक एंड लर्न प्राइवेट लिमिटेड’ को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने कई समन भेजे थे। लेकिन कंपनी ने इन समन को अनदेखा करते हुए किसी तरह का जवाब नहीं दिया। ऐसे में, ईडी ने रवींद्रन बायजू और उनकी कंपनी से जुड़े ठिकानों पर छापेमारी की। इस छापेमारी में ईडी ने कई डिजिटल डेटा समेत कई आपत्तिजनक दस्तावेज जब्त किए हैं। ईडी ने समन लोगों द्वारा की गई शिकायतों के बाद जारी किए थे।

छापेमारी में ईडी ने यह भी पाया है कि बायजूस के नाम से ऑनलाइन लर्निंग प्लेटफॉर्म चलाने वाली कंपनी ‘थिंक एंड लर्न प्राइवेट लिमिटेड’ कंपनी ने साल 2011 से 2023 के बीच 28000 करोड़ रुपए का प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (FDI) हासिल किया था। यही नहीं, कंपनी ने FDI के नाम पर कई देशों में 9754 करोड़ रुपए ट्रांसफर किए हैं। इसके अलावा कंपनी ने विज्ञापन और मार्केटिंग खर्च के नाम पर करीब 944 करोड़ रुपए खर्च किए थे।

वहीं, कंपनी ने वित्तीय वर्ष 2020-2021 से न तो अपना फाइनेंशियल स्टेटमेंट तैयार किया और न ही बैंक खातों का ऑडिट कराया था।

क्या बोली कंपनी…

ईडी की इस कार्रवाई को लेकर बायजूस के एक प्रवक्ता ने कहा है कि ईडी ने नियमित जाँच के तहत छापेमारी की है। ईडी द्वारा माँगी गई सभी जानकारी और आवश्यक दस्तावेज कंपनी ने ईडी को दे दिए हैं। अधिकारियों के साथ मिलकर यह प्रयास किया जा रहा है कि उनके पास सभी आवश्यक जानकारी हों। इस मामले को जल्द ही सुलझा लिया जाएगा।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NSA, तीनों सेनाओं के प्रमुख, अर्धसैनिक बलों के निदेशक, LG, IB, R&AW – अमित शाह ने सबको बुलाया: कश्मीर में ‘एक्शन’ की तैयारी में...

NSA अजीत डोभाल के अलावा उप-राज्यपाल मनोज सिन्हा, तीनों सेनाओं के प्रमुख के अलावा IB-R&AW के मुखिया व अर्धसैनिक बलों के निदेशक भी मौजूद रहेंगे।

अब तक की सबसे अधिक ऊँचाई पर पहुँचा भारत का विदेशी मुद्रा भंडार, उधर कंगाली की ओर बढ़ा पाकिस्तान: सिर्फ 2 महीने का बचा...

एक तरफ पाकिस्तान लगातार बर्बादी की कगार पर पहुँच रहा है, तो दूसरी तरफ भारत का विदेशी मुद्रा भंडार लगातार बढ़ता जा रहा है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -