Saturday, June 22, 2024
Homeदेश-समाजसीएम खट्टर के आगमन का विरोध कर रहे 'किसानों' ने रोड जाम कर पुलिस...

सीएम खट्टर के आगमन का विरोध कर रहे ‘किसानों’ ने रोड जाम कर पुलिस पर किया ‘जानलेवा हमला’, लाठी चार्ज: देखें वीडियो

सीएम के आगमन का विरोध कर रहे किसानों ने बस्तारा टोल प्लाजा पर जाम लगा दिया और पुलिस को पीटने लगे। इसके बाद पुलिस ने किसानों पर लाठीचार्ज कर दिया। किसानों के अन्य साथियों को जैसे ही लाठीचार्ज की सूचना मिली उन्होंने पूरे प्रदेश में रोड और टोल जाम कर दिए।

नए कृषि कानूनों को लेकर करीब एक साल से तथाकथित किसान विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। हरियाणा में शनिवार को (28 अगस्त) कृषि कानूनों के साथ भाजपा नेताओं के कार्यक्रमों का विरोध कर रहे किसानों ने हर जिले की तरह भिवानी में भी दो जगह रोड को जाम कर दिया। यही नहीं उन्होंने पुलिस पर जान लेवा हमला भी किया।

बताया जा रहा है कि करनाल में आज निकाय एवं पंचायत चुनाव की तैयारियों को लेकर भाजपा की प्रदेश स्तरीय बैठक का आयोजन किया गया। रिपोर्ट्स के मुताबिक, बैठक में सीएम मनोहर लाल खट्टर समेत भाजपा के 6 सांसद, छह राज्य सभा सांसद, 12 विधायक, पूर्व विधायक और लोकसभा व विधानसभा चुनाव लड़ चुके प्रत्याशियों के अलावा संगठन के पदाधिकारी पहुँचे।

वहीं, सीएम के आगमन का विरोध कर रहे किसानों ने बस्तारा टोल प्लाजा पर जाम लगा दिया और पुलिस को पीटने लगे। इसके बाद पुलिस ने किसानों पर लाठीचार्ज कर दिया। किसानों के अन्य साथियों को जैसे ही लाठीचार्ज की सूचना मिली उन्होंने पूरे प्रदेश में रोड और टोल जाम कर दिए। कालका शिमला हाईवे स्थित चंडीमंदिर टोल प्लाजा पर आज दोपहर करीब सवा तीन बजे किसानों ने जाम लगा दिया। इससे वहाँ के स्थानीय लोगों का जीवन प्रभावित हुआ।

बीजेपी कार्यकर्ता जवाहर यादव ने अपने ट्विटर हैंडल पर एक वीडियो शेयर किया है। उन्होंने लिखा, ”कस्सी से पुलिस के जवानों पर जानलेवा हमला करता, मासूम और लूटापिटा किसान।”

इससे पहले भी यादव ने एक वीडियो शेयर किया था, जिसमें उन्होंने लिखा था, ”देखो किसान पहले पुलिस को पीट रहा है या पहले पुलिस को किसान।”

हरियाणा के एडीजीपी नवदीप सिंह विर्क ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया कि करनाल में बस्तारा टोल प्लाजा के पास आज दोपहर 12 बजे कुछ किसान प्रदर्शनकारियों ने जबरदस्ती राष्ट्रीय राजमार्ग को जाम कर करनाल शहर की तरफ जाने की कोशिश की। पुलिस ने उन्हें जाने से रोका तो कुछ प्रदर्शनकारियों ने पुलिस बल पर पथराव किया।

उन्होंने बताया कि उसके बाद नियमानुसार पुलिस ने हलका बल प्रयोग किया और उन्हें वहाँ से हटाया। इसमें 4 किसान और 10 पुलिसकर्मियों को चोट आई है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, किसानों ने भिवानी में कितलान टोल पर भिवानी-दादरी हाइवे और प्रेमनगर गाँव में भिवानी-हिसार हाइवे जाम कर रोष जताया। इससे स्थानीय लोगों को खासा दिक्कतों का सामना करना पड़ा।

करनाल एसडीएम आयुष सिन्हा ने वायरल वीडियो पर कहा कि पुलिसकर्मियों का विरोध करने वाले किसानों ने उन पर हमला किया। जगह-जगह पर उन्होंने पथराव करना शुरू कर दिया। इस दौरान पुलिस बल का प्रयोग करना पड़ा।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नालंदा विश्वविद्यालय को ब्राह्मणों ने ही जलाया था, 11वीं सदी का शिलालेख है साक्ष्य!!

नालंदा विश्वविद्यालय को ब्राह्मणों ने ही जलाया था, बख्तियार खिलजी ने नहीं। ब्राह्मण+बुर्के वाली के संभोग को खोद निकाला है इस इतिहासकार ने।

10 साल जेल, ₹1 करोड़ जुर्माना, संपत्ति भी जब्त… पेपर लीक के खिलाफ आ गया मोदी सरकार का सख्त कानून, NEET-NET परीक्षाओं में गड़बड़ी...

परीक्षा आयोजित करने में जो खर्च आता है, उसकी वसूली भी पेपर लीक गिरोह से ही की जाएगी। केंद्र सरकार किसी केंद्रीय जाँच एजेंसी को भी ऐसी स्थिति में जाँच सौंप सकती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -