Monday, August 2, 2021
Homeदेश-समाजबेटी से छेड़खानी का किया विरोध तो आलम और जहाँगीर ने मार डाला, वीडियो...

बेटी से छेड़खानी का किया विरोध तो आलम और जहाँगीर ने मार डाला, वीडियो बनाते रहे पड़ोसी

घटना में मुस्लिमों के आरोपित होने के कारण इलाक़े में तनाव का माहौल है। बीमार बेटी के साथ छेड़खानी, बाप की हत्या और चाकुओं के वार से घायल भाई अस्पताल में जिंदगी और मौत की लड़ रहा लड़ाई!

दिल्ली स्थित मोती नगर क्षेत्र के बसई दारापुर में एक व्यक्ति की चाकू घोंप कर हत्या कर देने का मामला सामने आया है। मृतक की पहचान 51 वर्षीय धुव राज त्यागी के रूप में हुई है। यह वारदात मृतक त्यागी की बेटी से छेड़छाड़ किए जाने के बाद हुई। इस दौरान पीड़िता का भाई भी घायल हो गया। मामले में पुलिस ने 2 नाबालिग समेत 4 लोगों को गिरफ़्तार किया है। गिरफ़्तार आरोपितों का नाम मोहम्मद आलम और जहाँगीर ख़ान है। पुलिस ने बताया कि ध्रुव राज त्यागी अपने परिवार समेत बसई दारापुर में रहा करते थे। रविवार की रात वह बेटी और बेटे के साथ अस्पताल से लौट रहे थे। घर पहुँचने से कुछ दूर पहले ही पाँच-छह लोगों से उनका रास्ता रोक लिया। इसके बाद विवाद शुरू हो गया। जहाँगीर और आलम समेत उसके कुछ अन्य गुर्गे साथियों ने रास्ता देने से मना कर दिया। ऐसे में मृतक त्यागी ने पहले अपनी बेटी को घर पहुँचाया और फिर लौट कर छेड़खानी कर रहे लड़कों के पिता से शिकायत करने पहुँचे। इसी बीच में उन पर धारदार हथियारों से हमला किया गया। बाप को बचाने आए पीड़िता का भाई भी बुरी तरह जख्मी हुआ है, उस पर भी चाकुओं से वार किया गया है।

पड़ोसियों ने भी दिखाई असंवेदशीलता (साभार: दैनिक जागरण)

घटना में मुस्लिमों के आरोपित होने के कारण इलाक़े में तनाव का माहौल है। क्षेत्र में अच्छी-ख़ासी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है। घटना की रात को ध्रुव त्यागी की बेटी से छेड़खानी की गई, जिसका पीड़िता के पिता व भाई ने विरोध किया। छेड़खानी का विरोध करने का परिणाम त्यागी को अपनी जान देकर चुकानी पड़ी क्योंकि उन पर हमला कर दिया गया और उनके बेटे को भी बेरहमी से पीटा गया। सभी आरोपित त्यागी के पड़ोसी हैं और उसी गली में रहते हैं। पीड़िता का भाई भी ज़िंदगी और मौत से जूझ रहा है। उसका अस्पताल में इलाज चल रहा है। स्थानीय अख़बारों के मुताबिक़, वारदात के वक़्त लोग बीच-बचाव करने की जगह वीडियो बना रहे थे।

मृतक त्यागी के बेटे का नाम अनमोल है। ख़बरों के अनुसार, छेड़खानी के बाद त्यागी आरोपितों को समझाने उसके घर में गए, जिसके बाद उन सबने मिलकर त्यागी पर लाठी-डंडे और चाकुओं से हमला कर दिया। उन्होंने पत्थरों से भी हमला किया। बाद में पीड़िता व उसका भाई अनमोल अपने पिता को बचाने के लिए गए तो अनमोल को भी चाकू घोंप दिया गया। इसके बाद मामले की जानकारी पुलिस को दी गई। त्यागी की अस्पताल में इलाज के दौरान सोमवार (मई 13, 2019) को मौत हो गई। इस घटना के बाद परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है।

दैनिक जागरण के स्थानीय संस्करण में छपी ख़बर

किसी को भी अंदेशा नहीं था कि छेड़खानी का विरोध करने और मनचलों को समझाने के बाद वो लोग इतना बड़ा विवाद खड़ा कर देंगे। परिजनों के अनुसार, इस घटना के समय कई पड़ोसी मौजूद थे लेकिन किसी ने भी बीच-बचाव नहीं किया। इस वारदात के बाद आसपास के लोग भी आक्रोशित हैं। पुलिस ने आईपीसी 302 (हत्या), 506 (आपराधिक धमकी) और 509 (महिला का अपमान) के तहत केस दर्ज कर पड़ोसी मोहम्मद आलम (20 साल) और जहाँगीर खान (45 साल) को गिरफ़्तार कर लिया है। वहीं दो नाबालिगों को भी पुलिस ने पकड़ा है। ये घटना मोती नगर पुलिस स्टेशन की है।

सारे आरोपित इस घटना के बाद भाग खड़े हुए थे लेकिन सोमवार को उन्हें विभिन्न जगहों से पकड़ा गया। दोनों आरोपित नाबालिगों को ‘Observation Home’ में भेज दिया गया है। जब छेड़खानी की घटना हुई, तब त्यागी अपनी बेटी को अस्पताल से दिखा कर लौट रहे थे। पीड़िता की तबियत पहले से ही ख़राब थी। ये वारदात रात के 2 बजे हुई। मामला दो समुदायों से जुड़ा होने के कारण पूरे क्षेत्र में अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया गया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘एक गोल्ड मेडल अनवर सरदार को भी’: उधर टोक्यो ओलंपिक में इजरायल का राष्ट्रगान बजा, इधर सोशल मीडिया पर अनु मलिक की धुनाई

उधर टोक्यो ओलंपिक में इजरायल का राष्ट्रगान बजा, इधर सोशल मीडिया पर बॉलीवुड के बड़े संगीतकारों में से एक अनु मलिक की लोगों ने धुनाई चालू कर दी।

इंडिया जीता… लेकिन सब गोल पंजाबी खिलाड़ियों ने किया: CM अमरिंदर सिंह के ट्वीट में भारत-पंजाब अलग-अलग क्यों?

पंजाब मुख्यमंत्री ने ट्वीट में कहा, ”इस बात को जानकर खुश हूँ कि सभी 3 गोल पंजाब के खिलाड़ी दिलप्रीत सिंह, गुरजंत सिंह और हार्दिक सिंह ने किए।”

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,611FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe