Sunday, May 26, 2024
Homeदेश-समाजबेटी के प्रेमी को अब्बा आशिक ने अशरफ संग मिलकर मार डाला, नाटक रचा...

बेटी के प्रेमी को अब्बा आशिक ने अशरफ संग मिलकर मार डाला, नाटक रचा ट्रेन से एक्सिडेंट का

लड़की के पिता ने पहले दानिश को समझाने की बहुत कोशिश की। लेकिन जब वह नहीं माना तो उससे बात करने के बहाने बुलाकर उसकी हत्या कर दी। इस मामले के संबंध में...

मध्य प्रदेश के सागर जिले में अपने ही गाँव की एक लड़की से प्रेम करना युवक को महँगा पड़ गया। जहाँ, दोनों के रिश्ते के बारे में मालूम पड़ते ही लड़की के अब्बा आशिक और उसके ममेरे भाई अशरफ ने मिलकर उसे पहले मौत के घाट उतारा और बाद में उसकी मौत को दुर्घटना में बदलने के लिए उसका शव और उसकी मोटरसाइकल को रेलवे पटरी पर जाकर फेंक दिया।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पुलिस को खुरई ग्रामीण थाना क्षेत्र के बरोदिया निवासी दानिश कुरैशी नामक मुस्लिम युवक का शव 31 जनवरी 2020 को रेलवे पटरी से मिला था। जहाँ उसकी माशूका के पिता और भाई ने पूरी घटना को दूसरा एंगल देने का पूरा प्रयास किया। मगर घटनास्थल के पास मिले बाइक के पुर्जों ने पूरा मामले को तह तक खोल दिया।

दरअसल, दानिश के शव के पोस्टमॉर्टम में उसके गले पर रस्सी के निशान मिले। जिससे साफ हो गया कि ये मामला दुर्घटना का नहीं है। इसके बाद पुलिस ने अपनी पड़ताल शुरू की। पड़ताल में पुलिस को रेलवे ट्रैक से बाइक के पुर्जे मिले। इन्हें पुलिस ने जमा किया और इंजन नंबर से उस बाइक के मालिक का पता लगाया।

पुलिस के मुताबिक लड़की के पिता ने पहले दानिश को समझाने की बहुत कोशिश की। लेकिन जब वह नहीं माना तो उससे बात करने के बहाने बुलाकर उसकी हत्या कर दी। इस मामले के संबंध में साहर के एसपी अमित सांघी ने मुख्य आरोपित आशिक को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि अशरफ नाम का दूसरा आरोपित फरार है, इसलिए उसकी तलाश जारी है।

गौरतलब है कि इससे पहले भी कई बार इस तरह के मामले आए हैं। जहाँ पिता ने अपनी इज्जत की खातिर या तो अपनी बेटी को मार दिया या फिर उसके प्रेमी को। अभी पिछले साल अक्टूबर का ही मामला है जब राजस्थान के सीकर जिले में कथित तौर पर अहम की खातिर एक पिता ने कुछ लोगों के साथ मिलकर अपनी बेटी और उसके प्रेमी की पीट-पीट कर हत्या कर दी थी और बाद में उनका शव पहाड़ी इलाके में फेंक दिया था। इसके अलावा यूपी के बरेली से भी ऐसा मामला आया जब बेटी के प्रेम संबंध से नाराज होकर उसके पिता ने अपने रिश्तेदारों के साथ मिलकर उसके प्रेमी को मौत के घाट उतारा था और बाद में शव को जंगल में फेंक दिया था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सेलिब्रिटियों का ‘तलाक’ बिगाड़े न समाज के हालात… इन्फ्लुएंस होने से पहले भारतीयों को सोचने की क्यों है जरूरत

सेलिब्रिटियों के तलाकों पर होती चर्चा बताती है कि हमारे समाज पर ऐसी खबरों का असर हो रहा है और लोग इन फैसलों से इन्फ्लुएंस होकर अपनी जिंदगी भी उनसे जोड़ने लगे हैं।

35 साल बाद कश्मीर के अनंतनाग में टूटा वोटिंग का रिकॉर्ड: जानें कितने मतदाताओं ने आकर डाले वोट, 58 सीटों का भी ब्यौरा

छठे चरण में बंगाल में सबसे अधिक, जबकि जम्मू कश्मीर में सबसे कम मतदान का प्रतिशत रहा, लेकिन अनंतनाग में पिछले 35 साल का रिकॉर्ड टूटा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -