Tuesday, March 5, 2024
Homeदेश-समाज'...महिलाएँ राजनीति करती घूम रही हैं, पूरा मजा आ रहा है': यति नरसिंहानंद के...

‘…महिलाएँ राजनीति करती घूम रही हैं, पूरा मजा आ रहा है’: यति नरसिंहानंद के खिलाफ़ 2 FIR दर्ज, BJP महिलाओं को लेकर वीडियो में की थी गंदी बात

अपने ट्वीट में रेखा शर्मा ने तजिंदर सिंह बग्गा, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी को टैग करते हुए एफआईआर की सूचना दी। इससे पहले भाजपा नेता तजिंदर पाल बग्गा ने इस वीडियो को देखने के बाद यूपी पुलिस से और रेखा शर्मा से नरसिंहानंद के ख़िलाफ़ एक्शन लेने को कहा था।

गाजियाबाद के डासना स्थित शिव शक्ति धाम मंदिर के पुजारी यति नरसिंहानंद सरस्वती की विवादित वीडियो वायरल होने के बाद उनके विरुद्ध मुकदमा दर्ज हुआ है। राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने इस बाबत दो एफआईआर के स्क्रीनशॉट शेयर करते हुए यह जानकारी दी।

एफआईआर गाजियाबाद जिले के थाना मसूरी में आईपीसी की धारा 505 (1) (सी), 509, 504 और आईटी एक्ट की धारा 67 के तहत दायर की गई है। यति नरसिंहानंद सरस्वती के ख़िलाफ़ दोनों एफआईआर 31 अगस्त को ही की गई हैं।

अपने ट्वीट में रेखा शर्मा ने तजिंदर सिंह बग्गा, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी को टैग करते हुए एफआईआर की सूचना दी। इससे पहले भाजपा नेता तजिंदर पाल बग्गा ने इस वीडियो को देखने के बाद यूपी पुलिस से और रेखा शर्मा से नरसिंहानंद के ख़िलाफ़ एक्शन लेने को कहा था। जिसके बाद महिला आयोग ने संज्ञान लेते हुए नरसिंहानंद सरस्वती के खिलाफ FIR दर्ज करने और तुरंत गिरफ्तार करने के लिए उत्तर प्रदेश पुलिस के डीजीपी को पत्र लिखा था।

वीडियो में क्या कहा?

बता दें कि यति नरंसहानंद सरस्वती की वीडियो वायरल होने के बाद से यह पूरा मामला गरमाया हुआ है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, वीडियो में वह कहते हैं, “ये अमूल्य ज्ञान कहीं दुनिया में सुनने को नहीं मिलेगा। राजनीति में जो महिलाएँ दिखाई पड़ती थीं वो किसी न किसी एक नेता की &%$# हुआ करती थीं। या किसी बड़े नेता की बेटी-बहन या बहू-पत्नी…उसके बाद आई समाजवादी पार्टी वालों की सरकार, वहाँ भी महिला किसी एक की ही होती थी। फिर आई मायावती की सरकार, ये औरतों वाला मामला उनकी सरकार में नहीं चलता था। वहाँ कोई भी नेता किसी भी औरत को टिकट नहीं दिलवा सकते। न वादा कर सकते कि मैं तुम्हारी सिफारिश बहनजी से कर दूँगा। पता चला कि बहनजी ने उसका ही टिकट काट दिया।”

<

नरसिंहानंद ने आगे कहा, “इसके बाद आई ईमानदार सरकार और बहुत चरित्रवान लोगों की सरकार, अब सरकारी ठेकों का रेट हो गया 10 पर्सेंट…खुला रेट। BJP में जितनी भी महिलाएँ दिखाई दे रही हैं, वह एक नेता के पास गईं और दूसरे के पास नहीं तो दूसरा उनका काम नहीं करेगा…तीसरे से काम है तो तीसरे के पास जाना है। अब ये हैं ईमानदार और चरित्रवान लोग। ये है राजनीति। जितनी महिलाएँ राजनीति करती घूम रही हैं, पूरा मजा आ रहा है। मैं कह तो कुछ नहीं सकता, मातृशक्ति हैं…मैं मातृशक्ति को प्रणाम करता हूँ।”

वीडियो वायरल के बाद माँगी माफी

इस वीडियो के संबंध में न्यूज इंडिया को दिए बयान में यति नरसिंहानंद ने सफाई देते हुए कहा था कि अगर भाजपा इस वीडियो पर कार्रवाई कर रही है, तो कार्रवाई उनका अधिकार है, कार्रवाई होनी चाहिए, इसका स्वागत होगा। आगे उन्होंने कहा, “ये अनऑफिशियल चर्चा हो रही थी और किसी अपने ने उसे रिकॉर्ड करके बड़े शातिराना ढंग से एडिट किया और फिर वायरल कर दिया। उससे लग रहा है कि मैं महिलाओं के बारे में अपशब्द कह रहा हूँ जबकि ये सच नहीं है। वो मेरी बात का अर्थ का अनर्थ किया गया हैं। मैं सब सिस्टम में महिलाओं का जो शोषण होता है उस पर चर्चा कर रहा था। मैं कह रहा था कि राजनीति आज बॉलीवुड से भी गंदा धंधा है। यहाँ हर स्तर महिलाओं का शोषण हो रहा है। मैं केवल उन लोगों के साथ चर्चा कर रहा था। वीडियो धोखे से रिकॉर्ड करके सिर्फ विश्वासघात हुआ है। वीडियो वैसा नहीं है जैसा मैंने कहा है। लेकिन फिर भी वीडियो में जो शब्द थे मैं उसके लिए माताओं, बहनों, बेटियों से क्षमा चाहता हूँ। “

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जिसे कॉन्ग्रेस ने बनाया था विधायक दल का नेता, वही BJP में शामिल: अरुणाचल प्रदेश में कॉन्ग्रेस की हालत खस्ता, पार्टी के साथ बस...

साल 2019 में 60 सदस्यी विधानसभा सीट में कॉन्ग्रेस द्वारा 4 सीटें जीतीं गई थी। इनमें से 3 विधायक अब पार्टी का हाथ छोड़ चुके हैं।

साइबर फ्रॉड को रोकेग चक्षु (Chakshu), केंद्र सरकार ने लॉन्च की नई सेवा: धमकाने, फ्रॉड करने वालों के नंबर होंगे ब्लॉक, अनचाहे कॉल-मैसेज से...

साइबर फ्रॉड पर लगाम लगाने के लिए भारत सरकार ने लॉन्च की चक्षु योजना। अब साइबर अपराधियों की डिटेल भेजी जाएगी गृह मंत्रालय को।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
418,000SubscribersSubscribe