Monday, March 4, 2024
Homeदेश-समाजCAA के खिलाफ धरना में जहाँ पहुँचते थे नेता-एक्टिविस्ट, बाइक से आकर 5 लोगों...

CAA के खिलाफ धरना में जहाँ पहुँचते थे नेता-एक्टिविस्ट, बाइक से आकर 5 लोगों ने बरसाई अंधाधुंध गोलियाँ

धरने पर फायरिंग की सूचना पर पहुँचे पुलिस के आला अधिकारियों ने मौजूद लोगों से मामले में पूछताछ की। घटनास्थल से एक देसी कट्टा, एक खोखा और कई कारतूस बरामद किया गया है और पूरे मामले की छानबीन की जा रही है।

बिहार के गया जिले में पिछले कई माह से सीएए के खिलाफ चल रहे अनिश्चितकालीन धरने पर बीते दिन कुछ बाईक सवार आरोपितों ने अंधाधुंध फायरिंग कर दी। इससे धरने पर बैठे प्रदर्शनकारियों में भगदड़ मच गई। हालाँकि किसी के भी हताहत होने की खबर नहीं है। वहीं मौजूद लोगों ने तीनों आरोपितों को पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया है, जिनसे पुलिस लगातार पूछताछ कर रही है। दरअसल गया जिले के चाकंद के बारा समेत कटारी हिल के शांति बाग, शेरघाटी एवं इमामगंज समेत कई स्थलों पर सीएए, एनपीआर और एनआरसी के खिलाफ अनिश्चतकालीन धरना चल रहा है।

वहीं गया-पटना हाइवे के किनारे बारा गाँव के पास संविधान बचाओ-देश बचाओ संघर्ष समिति के बैनर तले सीएए के खिलाफ चल रहे धरने के पास बुधवार देर शाम को पाँच बाईक सवार आरोपितों ने अचानक से हवाई फायरिंग कर दी। गोली आवाज सुनते ही धरने पर बैठे प्रदर्शनकारियों के बीच अफरा-तफरी मच गई। वहीं लोगों ने तत्काल शोर मचाकर तीन आरोपितों को हथियार सहित दबोच लिया। जबकि दो आरोपित किसी तरह मौका पाकर फरार हो गए। इसके बाद लोगों ने तीनों आरोपितों को जमकर पीटा और फिर पुलिस के हवाले कर दिया।

धरने पर फायरिंग की सूचना पर पहुँचे पुलिस के आला अधिकारियों ने मौजूद लोगों से मामले में पूछताछ की। सिटी एसपी राकेश कुमार ने बताया कि घटनास्थल से एक देसी कट्टा, एक खोखा और कई कारतूस बरामद किया गया है और पूरे मामले की छानबीन की जा रही है। इसके बाद से ही पुलिस हिरासत में लिए तीनों आरोपितों से मामले को लेकर पूछताछ कर रही है। आपको बता दें कि धरना स्थल पर फायरिंग करने वाले आरोपितों की पहचान चतरा के प्रतापपुर थाना के लिपटा गाँव के कमलेश यादव, खिजरसराय के चिरैली गाँव के हरिवंश वर्मा और परैया थाना के फुरहुरिया गाँव के वीरू कुमार के रूप में हुई है।

गौरतलब है कि गया जिले में कई स्थानों पर सीएए के खिलाफ चल रहे धरने में प्रदर्शनकारी बड़ी संख्या में अपनी माँगों को लेकर शामिल हो रहे हैं। इतना ही नहीं, इन धरनों में राजद, कॉन्ग्रेस, वामपंथी दलों एवं अन्य पार्टियों के कई नामचीन नेता, विधायक, सांसद एवं अन्य एक्टिविस्ट शामिल होकर अपना समर्थन दे चुके हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘तुम्हें इंटरव्यू देकर भारत की छवि नहीं बिगाड़ सकती’: महिला बाइक राइडर ने बरखा दत्त को धोया, दुमका गैंगरेप पर कहा- ‘झारखंड सरकार चूड़ी...

बरखा दत्त ने महिला राइडर को संपर्क करके बात करना चाहा लेकिन कंचन ने उन्हें करारा जवाब दिया और उसका स्क्रीनशॉट भी सोशल मीडिया पर डाला।

पाकिस्तान में भीख के पैसों से हुआ चुनाव… लेकिन प्रधानमंत्री बनते ही शाहबाज शरीफ ने कहा – कश्मीर को करवाएँगे आजाद

शहबाज शरीफ ने पाकिस्तानी नेताओं की मजबूरी बन चुके कश्मीर का राग अलापने में देरी नहीं की। उन्होंने कश्मीर का जिक्र संसद में किया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
418,000SubscribersSubscribe