Monday, June 17, 2024
Homeदेश-समाजवही अजमेर, वही शिकारी, सेक्स स्कैंडल की वैसी ही साजिश… सहेली के कहने पर...

वही अजमेर, वही शिकारी, सेक्स स्कैंडल की वैसी ही साजिश… सहेली के कहने पर इंस्टाग्राम पर की दोस्ती, हुआ गैंगरेप: अरबाज और इरफान गिरफ्तार

पीड़िता के पिता की शिकायत पर ये केस दर्ज किया है। पीड़िता के पिता ने पुलिस को बताया कि अक्तूबर 2023 में कोचिंग सेंटर पर उनकी बेटी की एक लड़की से दोस्ती हुई थी। उसी लड़की ने बेटी को इंस्टा पर एक लड़के से दोस्ती करने को कहा।

राजस्थान के अजमेर में 11वीं की लड़की के साथ गैंगरेप का मामला सामने आया है। मुख्य आरोपित का नाम इरफान है। उसने पहले अपनी एक सहेली के जरिए पीड़िता को इंस्टाग्राम से दोस्ती के जाल में फाँसा, फिर उसके साथ गैंगरेप किया और बाद में लड़की को वीडियो वायरल करने की धमकी देकर प्रताड़ित करने लगा। उसने उससे 5 लाख रुपए तक ऐंठे और बाद में 10 लाख रुपए माँगने लगा।

अब पुलिस ने पीड़िता के पिता की शिकायत पर ये केस दर्ज किया है। पीड़िता के पिता ने पुलिस को बताया कि अक्तूबर 2023 में कोचिंग सेंटर पर उनकी बेटी की एक लड़की से दोस्ती हुई थी। उसी लड़की ने बेटी को इंस्टा पर इस लड़के से दोस्ती करने को कहा। बेटी ने उस समय तो वो आईडी ब्लॉक कर दी, मगर फिर से उस सहेली ने बेटी की दोस्ती उस लड़के से करवाई। फिर एक दिन उसके इंस्टा का आईडी पासवर्ड चुरा लिया और आईडी का दुरुपयोग शुरू कर दिया।

अश्लील चैट्स करके बेटी को ब्लैकमेल किया गया, उस पर शारीरिक संबंध के लिए दबाव बनाया गया, आपत्तिजनक तस्वीरें लेकर उसे वायरल करने की धमकी देकर उससे पैसे माँगे गए। लड़की इतना परेशान हो गई कि वो घर में चोरी करके उन लोगों को पैसे देने लगी। जब भी ये लोग लड़की से पैसे लेने आते तो उसके साथ अश्लील हरकतें करते। इरफान ने पीड़िता के साथ संबंध बनाने को कहता।

मार्च 2024 में इरफान की डिमांड बढ़ने लगी। उसने लड़की से 10 लाख रुपए की डिमांड की। रकम सुनकर लड़की डिप्रेशन में आ गई। वहीं जब घर में रखी नकदी गायब होने के बारे में उससे पूछा गया तो उसने अपने साथ हुई घटना के बारे में सब कुछ बताया। पिता ने लड़की की बातें सुनने के बाद पुलिस को बताया है कि उनकी बेटी के साथ 5 लोगों ने गैंगरेप किया है।

बता दें कि इस मामले में मुख्य आरोपित इरफान, उसके साथी अरबाज सहित एक और को हिरासत में लिया गया है। क्रिश्चियन गंज थाने के सीआई अरविंद सिंह ने इस मामले में कहा कि ये केस गंभीर है और इसमें कई बड़ी गिरफ्तारियाँ हो सकती हैं। बाकी लोगों की तलाश चल रही है। वहीं जिस लड़की ने दोस्ती कराई फसके बारे में भी पता लगाया जा रहा है। जाँच अधिकारी ने बताया कि सीओ नॉर्थ रुद्रप्रताप शर्मा ने जानकारी दी है कि आरोपित इरफान के फोन से अश्लील फोटो मिले हैं। इनकी फॉरेंसिक जाँच कराई जाएगी।

अजमेर सेक्स स्कैंडल

गौरतलब है कि इसी अजमेर से 90 के दशक में एक बड़ा सेक्स स्कैंडन सामने आया था। तब, 100 से ज्यादा लड़कियों को फँसाकर उनके साथ रेप किया गया था। फारुक चिश्ती, नफीस चिश्ती और अनवर चिश्ती- इस कांड के मुख्य आरोपित थे। तीनों ही यूथ कॉन्ग्रेस के लीडर थे। फारूक उस समय इंडियन यूथ कॉन्ग्रेस की अजमेर यूनिट का अध्यक्ष था। नफीस चिश्ती कॉन्ग्रेस की अजमेर यूनिट का उपाध्यक्ष था। अनवर चिश्ती अजमेर में पार्टी का ज्वाइंट सेक्रेटरी था। साथ ही तीनों अजमेर के ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह के खादिम भी थे।

बताया जाता है कि आरोपितों ने सबसे पहले एक बिजनेसमैन के बेटे के साथ कुकर्म कर उसकी अश्लील तस्वीर उतारी और उसे अपनी गर्लफ्रेंड को लाने के लिए मजबूर किया। उसकी गर्लफ्रेंड से रेप के बाद उसकी अश्लील तस्वीरें निकाल ली और लड़की को अपनी सहेलियों को लाने के लिए कहा गया। फिर यह सिलसिला ही चल पड़ा। एक के बाद एक लड़की के साथ रेप करना, न्यूड तस्वीरें लेना, ब्लैकमेल कर उसकी भी बहन/ सहेलियों को लाने के लिए कहना और उन लड़कियों के साथ भी यही घृणित कृत्य करना- इस चेन सिस्टम में 100 से ज्यादा लड़कियों के साथ भी शर्मनाक कृत्य किया।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सेजल, नेहा, पूजा, अनामिका… जरूरी नहीं आपके पड़ोस की लड़की ही हो, ये पाकिस्तान की जासूस भी हो सकती हैं: जानिए कैसे ISI के...

पाकिस्तानी ISI के जासूस भारतीय लड़कियों के नाम से सोशल मीडिया पर आईडी बना देश की सुरक्षा से जुड़े लोगों को हनीट्रैप कर रहे हैं।

ऋषिकेश AIIMS में भर्ती अपनी माँ से मिलने पहुँचे CM योगी आदित्यनाथ, रुद्रप्रयाग हादसे के पीड़ितों को भी नहीं भूले

उत्तराखंड के ऋषिकेश से करीब 50 किलोमीटर की दूरी पर स्थित यमकेश्वर प्रखंड का पंचूर गाँव में ही योगी आदित्यनाथ का जन्म हुआ था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -