Sunday, July 25, 2021
Homeदेश-समाजगैंगरेप के बाद 2 Km पैदल चल कर थाना पहुँचीं साध्वी, 'माँ बीमार है'...

गैंगरेप के बाद 2 Km पैदल चल कर थाना पहुँचीं साध्वी, ‘माँ बीमार है’ कह कर ले गए थे आरोपित

साध्वी ने बताया कि बलात्कार के बाद वे काफ़ी देर तक बेहोश रहीं और उन्हें सुबह होश आया। आरोपितों में 2 उनके परिचित हैं। दो ओरिपियों को वे जानती नहीं हैं। वे रास्ते में बारी-बारी से गाड़ी में सवार हुए थे।

बिहार के नवादा जिला स्थित ककोलत के एक आश्रम में रहने वाली एक साध्वी के साथ बलात्कार की ख़बर आई है। वह मूल रूप से उत्तर प्रदेश के बस्ती की रहने वाली है। गैंगरेप करने वाले उनके परिचित ही थे। साध्वी ने महिला थाना में बताया कि कुछ लोगों ने उन्हें उनके माँ के बीमार होने की सूचना दी। बाद में गाड़ी में जब वह उन्हीं लोगों के साथ अपने पैतृक घर जा रही थी, तो एक सुनसान जगह पर ले कर उनके साथ रेप किया गया। अरियरी थाना क्षेत्र के फूलचोढ़ गाँव में ये घटना हुई

आरोपितों ने 25 वर्षीय साध्वी को अपने साथ ले जाने के लिए उनके माँ के बीमार होने की झूठी ख़बर दी थी। पुलिस ने बताया है कि मामले की जाँच की जा रही है। मंगलवार (अक्टूबर 29, 2019) को साध्वी की मेडिकल जाँच कराई जाएगी। इस घटना में जीवन पटेल नाम के एक युवक का नाम सामने आया है। उसे 2017 में आश्रम से चोरी के आरोप में निकाल दिया गया था। पीड़िता ने उसके अलावा कमलनाथ चौधरी का आरोपित के रूप में नाम लिया है।

ककोलत के जिस आश्रम में ये घटना हुई है, उसमें स्त्री-पुरुष दोनों ही रहते हैं। जहाँ ये घटना हुई, वो क्षेत्र ककोलत और शेखपुरा के बीच में पड़ता है। सामूहिक बलात्कार करने के बाद आरोपित साध्वी को वहीं छोड़ फरार हो गए। थाने में शिकायत दर्ज कराने के लिए उन्हें 2 किलोमीटर पैदल चल कर जाना पड़ा। बाद में ग्रामीणों के सहयोग से वह थाने पहुँची और वहाँ शिकायत दर्ज कराई गई।

2 वर्ष पूर्व इसी आश्रम की 3 साध्वियों के साथ बलात्कार की घटना सामने आई थी। उस मामले को पुलिस ज़मीन पर कब्जे करने वाले एंगल से भी देख रही थी। महिला थाना ने जानकारी दी है कि आरोपितों की गिरफ़्तारी के लिए यूपी पुलिस से संपर्क साधा गया है। साध्वी ने बताया कि बलात्कार के बाद वे काफ़ी देर तक बेहोश रहीं और उन्हें सुबह होश आया। आरोपितों में 2 उनके परिचित हैं। दो ओरिपियों को वे जानती नहीं हैं। वे रास्ते में बारी-बारी से गाड़ी में सवार हुए थे।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘सचिन पायलट को CM बनाओ’: कॉन्ग्रेस के बड़े नेताओं के सामने जम कर हंगामा, मंत्रिमंडल विस्तार से पहले बुलाई थी बैठक

राजस्थान में मंत्रिमंडल में फेरबदल से पहले ही मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पूर्व मुख्यमंत्री सचिन पायलट के समर्थकों के बीच बहस और हंगामेबाजी हुई।

‘गाँधी की हत्या के बाद कॉन्ग्रेस ने करवाया था ब्राह्मणों का नरसंहार, पुलिस ने दर्ज नहीं किया एक भी केस’: इतिहासकार का खुलासा

लेखक व इतिहासकार विक्रम सम्पत ने कहा है कि महात्मा गाँधी की हत्या के बाद ब्राह्मण-विरोधी नरसंहार कॉन्ग्रेस नेताओं ने करवाया था। एक भी केस दर्ज नहीं किया गया था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,128FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe