Wednesday, May 22, 2024
Homeदेश-समाज₹600 करोड़ के ड्रग्स के साथ धराए 14 पाकिस्तानी तस्कर, अधिकारियों को देख बरसाने...

₹600 करोड़ के ड्रग्स के साथ धराए 14 पाकिस्तानी तस्कर, अधिकारियों को देख बरसाने लगे थे गोलियाँ: ATS ने एजेंसियों संग मिल कर बिछाया था जाल

ऑपरेशन के दौरान गिरफ्तारी से बचने की कोशिश में पाकिस्तानी नागरिकों ने एटीएस अधिकारियों पर अपनी नाव चढ़ाने की कोशिश की। इतना ही नहीं, उन्होंने अधिकारियों पर फायरिंग भी की। इसके बाद भारतीय एजेंसियों के जवानों ने जवाबी कार्रवाई की जवाब में गोलियाँ चलाईं। आखिरकार नाव को कब्जे में लेकर सभी संदिग्धों को पकड़ लिया गया।

गुजरात एंटी टेररिस्ट स्क्वॉयड (ATS) ने नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (ACB) और इंडियन कोस्ट गॉर्ड के साथ मिलकर अंतर्राष्ट्रीय समुद्री सीमा के पास से लगभग 86 किलोग्राम ड्रग्स के साथ 14 पाकिस्तानी नागरिकों को पकड़ा है। इस ड्रग्स की कीमत अंतर्राष्ट्रीय बाजार में लगभग 600 करोड़ रुपए है। दरअसल, इस खेप के बारे में पिछले कुछ दिनों से खुफिया इनपुट मिल रही थी।

इस ऑपरेशन को लेकर इंडियन कोस्ट गार्ड ने X पोस्ट में कहा, “गुजरात एटीएस और एनसीबी की ओर से समुद्र में रात भर किए गए ऑपरेशन में वेस्ट अरेबियन सी में पाकिस्तानी नाव को पकड़ा गया है। इसमें 14 पाकिस्तानी क्रू मेंबर सवार थे। उनके पास से 86 किलोग्राम ड्रग्स पकड़ा गया है, जिसकी कीमत लगभग 600 करोड़ रुपए है। पिछले महीने 80 किलोग्राम ड्रग्स पकड़ा गया था।”

ऑपरेशन के दौरान गिरफ्तारी से बचने की कोशिश में पाकिस्तानी नागरिकों ने एटीएस अधिकारियों पर अपनी नाव चढ़ाने की कोशिश की। इतना ही नहीं, उन्होंने अधिकारियों पर फायरिंग भी की। इसके बाद भारतीय एजेंसियों के जवानों ने जवाबी कार्रवाई की जवाब में गोलियाँ चलाईं। आखिरकार नाव को कब्जे में लेकर सभी संदिग्धों को पकड़ लिया गया।

दरअसल, खुफिया इनपुट के आधार पर भारतीय एजेंसियाँ पिछले दो दिनों से अंतरराष्ट्रीय सीमा के निकट तलाशी अभियान चला रही थीं। अभी एक दिन पहले ही एनसीबी ने गुजरात और राजस्थान में ‘म्याऊं म्याऊं’ कहलाने वाली प्रतिबंधित दवा मेफेड्रोन का बनाने वाली तीन प्रयोगशालाओं का भंडाफोड़ कर सात लोगों को गिरफ्तार किया था। साथ ही लगभग 300 करोड़ रुपए के नशीले पदार्थ जब्त किए।

इससे पहले नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने गुजरात एटीएस के साथ मिलकर 12 मार्च 2024 को भी एक ऑपरेशन चलाया था। इस ऑपरेशन के दौरान एक पाकिस्तानी नाव को जब्त किया था। इस नाव पर 60 पैकेट ड्रग्स जब्त किए गया थे। वहीं, 6 पाकिस्तानियों को गिरफ्तार किया गया था। इनकी कीमत लगभग 450 करोड़ रुपए थी।

उससे भी पहले 26 फरवरी 2024 को एजेंसी ने अरब सागर में पोरबंदर तट से पाँच पाकिस्तानी नागरिकों को चरस सहित 3,300 किलोग्राम नशीले पदार्थों के साथ पकड़ा था। इस अभियान में नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी), भारतीय नौसेना और गुजरात आतंकवाद निरोधी दस्ते ने हिंद महासागर में तट से लगभग 60 समुद्री मील दूर अंजाम दिया था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ध्वस्त कर दिया जाएगा आश्रम, सुरक्षा दीजिए’: ममता बनर्जी के बयान के बाद महंत ने हाईकोर्ट से लगाई गुहार, TMC के खिलाफ सड़क पर...

आचार्य प्रणवानंद महाराज द्वारा सन् 1917 में स्थापित BSS पिछले 107 वर्षों से जनसेवा में संलग्न है। वो बाबा गंभीरनाथ के शिष्य थे, स्वतंत्रता के आंदोलन में भी सक्रिय रहे।

‘ये दुर्घटना नहीं हत्या है’: अनीस और अश्विनी का शव घर पहुँचते ही मची चीख-पुकार, कोर्ट ने पब संचालकों को पुलिस कस्टडी में भेजा

3 लोगों को 24 मई तक के लिए हिरासत में भेज दिया गया है। इनमें Cosie रेस्टॉरेंट के मालिक प्रह्लाद भुतडा, मैनेजर सचिन काटकर और होटल Blak के मैनेजर संदीप सांगले शामिल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -