Wednesday, July 28, 2021
Homeदेश-समाजगुलशन बानो अपनी रिश्तेदार नाबालिग बच्ची को देह व्यापार में धकेलना चाहती थी, UP...

गुलशन बानो अपनी रिश्तेदार नाबालिग बच्ची को देह व्यापार में धकेलना चाहती थी, UP पुलिस ने किया गिरफ्तार

गुलशन बानो ने नाबालिग पीड़िता को बलिया में कैद करके रखा था। नाबालिग पीड़िता का परिवार मूल रूप से बिहार का रहने वाला है। जब इसकी सूचना UP पुलिस को दी गई तो...

उत्तर प्रदेश के बलिया से एक घटना सामने आई है। इसमें एक नाबालिग लड़की को गुलशन बानो नाम की उसकी ही रिश्तेदार देह व्यापार में धकेलने का प्रयास कर रही थी। हालाँकि ऐसा होने के पहले ही सिटी मजिस्ट्रेट, बलिया पुलिस और बाल कल्याण समिति (CWC) के अधिकारियों ने उसे सुरक्षित बरामद कर लिया। नाबालिग पीड़िता का परिवार मूल रूप से बिहार का रहने वाला है। 

टाइम्स ऑफ़ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक़ बुधवार (23 दिसंबर 2020) को पीड़िता के परिजनों ने CWC अधिकारियों को इस घटना की पूरी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि गुलशन बानो नाम की उनकी रिश्तेदार उनकी बेटी को अपने साथ उत्तर प्रदेश के बलिया लेकर गई है और उस पर देह व्यापार में शामिल होने का दबाव बना रही है।

इस घटना की जानकारी देने वालों ने बलिया की उस जगह के बारे में भी बताया, जहाँ गुलशन बानो ने नाबालिग पीड़िता को कैद करके रखा था। CWC के अधिकारियों ने तत्काल प्रभाव से पुलिस को इस घटना के बारे में सूचित किया। 

सूचना मिलते ही पुलिस ने नाबालिग पीड़िता को सुरक्षित वापस लेकर आने के लिए एक संयुक्त टीम का गठन किया। बलिया पुलिस और CWC के अधिकारियों की संयुक्त टीम ने कोतवाली पुलिस थाने के अंतर्गत आरोपित गुलशन बानो के ठिकाने पर छापा मार कर नाबालिग पीड़िता को उसके चंगुल से छुड़ाया

फ़िलहाल पुलिस ने गुलशन बानो पर भारतीय दंड संहिता की धारा 366 ए (नाबालिग लड़की को कैद में रखना) और 323 (जानबूझ कर चोट पहुँचाना) के तहत मुकदमा दर्ज करके उसे गिरफ्तार कर लिया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

उत्तर-पूर्वी राज्यों में संघर्ष पुराना, आंतरिक सीमा विवाद सुलझाने में यहाँ अड़ी हैं पेंच: हिंसा रोकने के हों ठोस उपाय  

असम के मुख्यमंत्री नॉर्थ ईस्ट डेमोक्रेटिक अलायंस के सबसे महत्वपूर्ण नेता हैं। उनके और साथ ही अन्य राज्यों के मुख्यमंत्रियों के लिए यह अवसर है कि दशकों से चल रहे आंतरिक सीमा विवाद का हल निकालने की दिशा में तेज़ी से कदम उठाएँ।

बकरीद की ढील का दिखने लगा असर? केरल में 1 दिन में कोरोना संक्रमण के 22129 केस, 156 मौतें भी

पूरे देश भर में रिपोर्ट हुए कोविड केसों में 53 % मामले अकेले केरल से आए हैं। भारत में कुल मामले जहाँ 42, 917 रिपोर्ट हुए। वहीं राज्य में 1 दिन में 22129 केस आए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,660FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe