Monday, July 4, 2022
Homeदेश-समाजकभी UGC के 'बेस्ट टीचर', आज अग्निपथ हिंसा के 'गुरु': पटना में घर-कोचिंग पर...

कभी UGC के ‘बेस्ट टीचर’, आज अग्निपथ हिंसा के ‘गुरु’: पटना में घर-कोचिंग पर छापे, जानिए कौन हैं हिंदू लड़की से शादी करने वाले रहमान सर

लाइव सिटीज से बात के दौरान गुरु रहमान ने साफ तौर पर छात्रों को कहा था कि वह बिना डरे ट्रेन रोक दें। वीडियो में गुरु रहमान कहते हैं- "ट्रेन रोक सकते हैं आप क्योंकि आपकी जिंदगी रोकी जा रही है।" इस वीडियो में उन्होंने दावा किया हुआ था कि सेना का भी प्राइवेटाइजेशन होने वाला है।

केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना के बाद बिहार के दानापुर में भड़की हिंसा मामले में गुरु रहमान के पटना के घर और उनके कोचिंग सेंटर पर पुलिस ने छापेमारी की। गुरु रहमान पर छात्रों को हिंसा के लिए भड़काने का आरोप है। पुलिस ने उन्हें इस केस में आरोपित बनाया है।

रहमान ने अपनी सफाई में कहा है कि वह इस योजना का विरोध कर रहे थे क्योंकि देश भर के अन्य छात्र इसके विरोध में हैं। उन्होंने अपने बयान में कहा कि ये स्कीम न किसी को समझ आई और न किसी ने इसे समझाने की कोशिश की। लेकिन उन्होंने (गुरु रहमान) फिर भी हमेशा बच्चों को अहिंसा पर चलने को कहा।

बता दें कि गुरु रहमान का ये बयान सामने आने के बाद हमने गुरु रहमान के वीडियो खंगाले। देख सकते हैं कि लाइव सिटीज से बात के दौरान उन्होंने साफ तौर पर छात्रों को कहा था कि वह बिना डरे ट्रेन रोक दें। वीडियो में गुरु रहमान कहते हैं- “ट्रेन रोक सकते हैं आप क्योंकि आपकी जिंदगी रोकी जा रही है।” इस वीडियो में उन्होंने दावा किया हुआ था कि सेना का भी प्राइवेटाइजेशन होने वाला है।

वीडियो में गुरु रहमान ने अग्निपथ योजना पर बात करते हुए सरकार से नाराजगी जताई। साथ ही विपक्ष को लेकर पूछा कि आखिर वो कहाँ गए हैं तो सत्ता में बैठी सरकार इतने गलत फैसले लेती जा रही है। वीडियो में रहमान कहते हैं कि वो किसी कीमत पर सरकार का साथ नहीं देंगे क्योंकि सरकार छात्रों के साथ अन्यायपूर्ण कार्य कर रही है।

बता दें कि बिहार हिंसा में कोचिंग सेंटरों पर गाज गिरी तो उनमें एक नंबर गुरु रहमान के कोचिंग का भी आया है। गुरु रहमान का कोचिंग सेंटर पटना के मशहूर कोचिंग सेंटरों में से एक है। इसके संचालक गुरु रहमान सारण जिले के बसंतपुर निवासी हैं। उन्होंने बीएचयू से प्राचीन भारत और पुरात्व में ग्रेजुएशन और मास्टर्स किया। इसके बाद कोचिंग में पढ़ाना शुरू किया। फिर पटना विश्वविद्यालय में अपनी सर्विस दी। वहाँ रहमान को यूजीसी से बेस्ट टीचर अवार्ड मिला।

टीवी 9 पर प्रकाशित जानकारी के अनुसार, 1997 में रहमान ने हिंदू लड़की अमिता से शादी करने का मन बनाया, जिसे परिवार द्वारा नहीं स्वीकारा गया। घर के लोग चाहते थे अमिता इस्लाम कबूले। मगर जब ऐसा नहीं हुआ तो रहमान ने अपनी बीवी के साथ घर छोड़ दिया। शादी के 7 साल रहमान ने पत्नी को लॉज में रखा। 2010 में दोनों के बेटी हुई और साथ ही एक कोचिंग सेंटर को शुरू किया गया। आज गुरु रहमान का कोचिंग सेंटर पटना के नामी कोचिंग संस्थानों में से एक माना जाता है।

छात्रों पर उनका इतना प्रभाव है कि पुलिस ने जब उपद्रवी छात्रों के मोबाइल खंगाले तो संबंधित स्कीम पर बात करते हुए उनके वीडियो छात्रों के मोबाइल में मिले। दानापुर पुलिस ने उनके विरुद्ध केस दर्ज किया है। इसी संबंध में सोमवार को उनके आवास पर छापेमारी की गई थी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

AG के पास पहुँचा TMC वाला साकेत गोखले, हमारे खिलाफ चलाना चाहता है अदालत की अवमानना का मामला: हम अपने शब्दों पर अब भी...

ऑपइंडिया की एडिटर नुपूर शर्मा के लेख की शिकायत लेकर टीएमसी नेता साकेत गोखले अटॉर्नी जनरल के पास गए हैं ताकि अदालत की अवमानना का केस चलवा सकें।

‘शौच करने गई थी, मोहम्मद जाकिर हुसैन सर पीछे-पीछे आ गए’: मिडिल स्कूल में शिक्षक ने नाबालिग छात्रा से की छेड़खानी, हुआ गिरफ्तार

बिहार के सुपौल में शिक्षक जाकिर हुसैन ने 7वीं कक्षा की लड़की के साथ छेड़छाड़ किया। परिजनों ने थाने में दर्ज कराया मामला। आरोपित गिरफ्तार।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
203,064FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe