Sunday, September 19, 2021
Homeदेश-समाजकल्याण सिंह के निधन पर 'हाहा' रिएक्शंस की बाढ़: जश्न मनाने वालों का नाम...

कल्याण सिंह के निधन पर ‘हाहा’ रिएक्शंस की बाढ़: जश्न मनाने वालों का नाम पढ़िए, समझिए उनकी कट्टर मानसिकता

कल्याण सिंह के निधन पर जश्न मनाने वालों के नाम पर एक नज़र डालिए - शबाज़ अली नेपाली, ताबिश हुसैन, आकिब बाबर चौधरी, ज़ीशान, जुनैद अहमद, आदिल खानजादा, मुजीब आलम, अज़ीज़ सैफी, वसीम जहीर, नदीम, सैयद यासिर शाह, सद्दाम खान, मोहम्मद ताबिश रजा.....

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह का शनिवार (21 अगस्त, 2021) को निधन हो गया। भाजपा के दिग्गज नेता रहे कल्याण सिंह राजस्थान के राज्यपाल भी रहे हैं। बाबरी विध्वंस के बाद उन्होंने जिस तरह से अपनी सरकार व मुख्यमंत्री का पद कुर्बान कर दिया था, उसकी मिसाल आज भी दी जाती है। जहाँ लोग उनके निधन से शोक में हैं, वहीं मुस्लिमों ने उनके निधन वाली खबर पर ‘हाहा’ का रिएक्शन देकर जश्न मनाया।

कल्याण सिंह के निधन पर जश्न मनाने वालों के नाम पर एक नज़र डालिए – शबाज़ अली नेपाली, ताबिश हुसैन, आकिब बाबर चौधरी, ज़ीशान, जुनैद अहमद, आदिल खानजादा, मुजीब आलम, अज़ीज़ सैफी, वसीम जहीर, नदीम, सैयद यासिर शाह, सद्दाम खान, मोहम्मद ताबिश रजा, फ़ुजैरुल रहमान, निजामुद्दीन अंसारी, ज़ाहिर हुसैनी, ज़ीशान कादरी, नूर आलम सिद्दीकी, सलीम अंसारी, आरिफ निसार, इफ़्तेख़ार आलम, शाहरुख बिन राइस, ताहिर, मोहम्मद सलमान इत्यादि।

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी कल्याण सिंह के निधन पर शोक जताया और शोकाकुल परिवार के लिए प्रार्थना की। लेकिन, उनकी पोस्ट पर भी 100 से अधिक लोगों ने ‘हाहा’ का रिएक्शन दिया, जिनमें अधिकतर मुस्लिम थे। इसका स्क्रीनशॉट हम नीचे संलग्न कर रहे:

अखिलेश यादव के पोस्ट पर ‘हाहा’ रिएक्शंस

इसी तरह ‘जी न्यूज़’ ने भी बाकी मीडिया संस्थानों की तरह कल्याण सिंह के निधन की खबर प्रकाशित की। फेसबुक पर इस खबर पर भी 9 लोगों ने ‘हाहा’ का रिएक्शन दिया। ये सारे के सारे मुस्लिम नाम वाले लोग ही थे। ये ‘हाहा’ का रिएक्शन देने वाले कवि कुमार विश्वास के पोस्ट पर भी आ धमके, जिसमें उन्होंने कल्याण सिंह को भाजपा का शिल्पकार बताते हुए उनके निधन पर शोक जताया था।

डॉक्टर कुमार विश्वास की पोस्ट पर ‘हाहा’ रिएक्शंस

बीबीसी ने कल्याण सिंह के निधन पर जो खबर प्रकाशित की, उस पर तो 400 से भी अधिक लोगों ने ‘हाहा’ के रिएक्शंस दिए। इनमें से अधिकांश किस मजहब के थे, ये आप खुद ही देख कर अंदाज़ा लगा लीजिए। इसी तरह कई अन्य मीडिया संस्थानों ने जो खबरें प्रकाशित की, उनमें कल्याण सिंह का जिक्र आने पर ‘हाहा’ रिएक्शन देने वालों में अधिकतर ‘समुदाय विशेष’ के ही लोग निकले।

बीबीसी की खबर पर ‘हाहा’ रिएक्शंस की बाढ़

बाबरी विध्वंस के दौरान कारसेवकों पर गोली न चलवाने के फैसले के लिए जाने जाने वाले कल्याण सिंह कल्याण सिंह ने कहा था कि राम मंदिर बनाने की खातिर एक क्या 10 बार सरकार कुर्बान करनी पड़ेगी तो हम तैयार हैं। उसी कल्याण सिंह ने ये भी कहा था कि बाबरी विध्वंस को लेकर मन में न कोई पछतावा है, न कोई शोक है, न कोई खेद है और न ही कोई पश्चाताप का भाव है। उन्होंने बार-बार इसे गर्व का विषय बताया और दोहराया कि कारसेवकों पर गोली नहीं चलाऊँगा।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सिख नरसंहार के बाद छोड़ दी थी कॉन्ग्रेस, ‘अकाली दल’ में भी रहे: भारत-पाक युद्ध की खबर सुन दोबारा सेना में गए थे ‘कैप्टेन’

11 मार्च, 2017 को जन्मदिन के दिन ही कैप्टेन अमरिंदर सिंह को पंजाब में बहुमत प्राप्त हुआ और राज्य में कॉन्ग्रेस के लिए सत्ता का सूखा ख़त्म हुआ।

अडानी समूह के हुए ‘The Quint’ के प्रेजिडेंट और एडिटोरियल डायरेक्टर, गौतम अडानी के भतीजे के अंतर्गत करेंगे काम

वामपंथी मीडिया पोर्टल 'The Quint' में बतौर प्रेजिडेंट और एडिटोरियल डायरेक्टर कार्यरत रहे संजय पुगलिया अब अडानी समूह का हिस्सा बन गए हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,106FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe