Wednesday, September 22, 2021
Homeदेश-समाजदलित की बाइक पर मुस्लिम महिला, तेलंगाना में अगवा कर युवक को टॉर्चर किया:...

दलित की बाइक पर मुस्लिम महिला, तेलंगाना में अगवा कर युवक को टॉर्चर किया: डॉक्यूमेंट्स लेने जा रहे थे अस्पताल

अंत में उक्त मुस्लिम महिला के भाई ने घटनास्थल पर जाकर आरोपितों को समझाया कि उसने ही अपनी बहन को युवक के साथ बाइक से भेजा था, ताकि वो डॉक्युमेंट्स लेकर वापस आए। इसके बाद ही आरोपितों ने युवक को छोड़ा।

तेलंगाना के निजामाबाद जिले में मुस्लिम भीड़ ने सिर्फ इसीलिए एक हिन्दू युवक की पिटाई कर दी, क्योंकि वो एक मुस्लिम महिला के साथ घूम रहा था। वो जोर-जबरदस्ती से ऐसा नहीं कर रहा था बल्कि हिन्दू युवक व मुस्लिम महिला स्वेच्छा से एक-दूसरे के साथ घूम रहे थे। युवक बाइक चला रहा था और महिला उसके पीछे बैठी थी। उक्त हिन्दू युवक का मुस्लिम गुंडों ने अपहरण भी कर लिया और उसकी पिटाई की।

ये दोनों ही निज़ामाबाद में स्थित IIIT Basara में कार्यरत हैं। 8 सितंबर, 2021 को दोनों एक बाइक से निज़ामाबाद के सरकारी अस्पताल में जा रहे थे। तभी पाँच मुस्लिम युवकों ने उन्हें घेर लिया। ये पाँचों एक कार से जा रहे थे, तभी उन्होंने इन दोनों को बाइक से आते देखा और उन्हें घेर लिया। इस घटना का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो गया, जिसमें पाँचों मुस्लिम गुंडों को उक्त हिन्दू युवक की पिटाई करते हुए देखा जा सकता है।

इसके बाद उक्त हिन्दू युवक का अपहरण कर लिया गया और उसे एक मुस्लिम बहुल इलाके में ले जाया गया। वहाँ उसे कई घंटों तक न सिर्फ बंधक बना कर रखा गया, बल्कि लगातार पिटाई भी की गई। ये दोनों अस्पताल में कुछ डॉक्युमेंट्स लेने जा रहे थे। दोनों की सैलरी आ गई थी, जिसे उठाने के लिए उन्हें उन डॉक्युमेंट्स की आवश्यकता थी, इसीलिए वो IIIT Basara से सरकारी अस्पताल जा रहे थे।

‘विश्व हिन्दू परिषद (VHP)’ के राष्ट्रीय प्रवक्ता विनोद बंसल ने इस घटना का वीडियो साझा करते हुए टिप्पणी की, “हिन्दू लड़के के साथ मुस्लिम लड़की को देखते ही बौखलाए कट्टरपंथियों ने हिन्दू युवक को बेरहमी से पीटा। वीडियो वायरल। किन्तु, तेलंगाना पुलिस-प्रशासन, सेक्युलर व जिहादी नेताओं के साथ-साथ ईसाई-वामपंथी गिरोह को साँप सूँघ गया?” सारे आरोपित तेलंगाना के भैंसा शहर के रहने वाले हैं।’

अंत में उक्त मुस्लिम महिला के भाई ने घटनास्थल पर जाकर आरोपितों को समझाया कि उसने ही अपनी बहन को युवक के साथ बाइक से भेजा था, ताकि वो डॉक्युमेंट्स लेकर वापस आए। इसके बाद ही आरोपितों ने युवक को छोड़ा। इस घटना के 3 दिन बाद शनिवार (11 सितंबर, 2021) को ये मामला पुलिस के संज्ञान में आया, जिसके बाद ‘भारतीय दंड संहिता (IPC)’ की धाराओं में FIR दर्ज की गई।

FIR में IPC की धारा-295A (भारत के नागरिकों के किसी वर्ग की धार्मिक भावनाओं को आहत करने के विमर्शित और विद्वेषपूर्ण आशय से उस वर्ग के धर्म या धार्मिक विश्वासों का अपमान) और धारा-365 (किसी व्यक्ति का गुप्त और अनुचित रूप से सीमित/क़ैद करने के आशय से व्यपहरण या अपहरण करना) के साथ-साथ SC/ST एक्ट के तहत भी मामला दर्ज किया गया, क्योंकि पीड़ित दलित समुदाय से आता है।

पुलिस ने बताया है कि वो मामले की जाँच कर रही है और अब तक पाँच में से चार आरोपितों को गिरफ्तार किया जा चुका है। इन चारों को फ़िलहाल न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। पुलिस दो अन्य आरोपितों की भी तलाश कर रही है, क्योंकि आशंका है कि पूरे घटनाक्रम में कुल 6 लोग शामिल थे। भैंसा शहर इससे पहले भी दंगा पीड़ित रहा है और कई बार यहाँ हिन्दुओं की संपत्तियों को नुकसान पहुँचाया जा चुका है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

गुजरात के दुष्प्रचार में तल्लीन कॉन्ग्रेस क्या केरल पर पूछती है कोई सवाल, क्यों अंग विशेष में छिपा कर आता है सोना?

मुंद्रा पोर्ट पर ड्रग्स की बरामदगी को लेकर कॉन्ग्रेस पार्टी ने जो दुष्प्रचार किया, वह लगभग ढाई दशक से गुजरात के विरुद्ध चल रहे दुष्प्रचार का सबसे नया संस्करण है।

‘मुंबई डायरीज 26/11’: Amazon Prime पर इस्लामिक आतंकवाद को क्लीन चिट देने, हिन्दुओं को बुरा दिखाने का एक और प्रयास

26/11 हमले को Amazon Prime की वेब सीरीज में मु​सलमानों का महिमामंडन किया गया है। इसमें बताया गया है कि इस्लाम बुरा नहीं है। यह शांति और सहिष्णुता का धर्म है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,782FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe