Thursday, January 21, 2021
Home देश-समाज पाकिस्तानी घोटाले से जुड़े हैं हुर्रियत से गिलानी के इस्तीफे के तार, अलगाववादी संगठन...

पाकिस्तानी घोटाले से जुड़े हैं हुर्रियत से गिलानी के इस्तीफे के तार, अलगाववादी संगठन में अंदरुनी कलह हुई उजागर

इस्तीफे में गिलानी ने हुर्रियत के सदस्यों के भ्रष्टाचार और पाकिस्तानी सत्ता के करीबी होने के आरोप लगाए हैं। दिलचस्प बात यह है कि हुर्रियत के कुछ सदस्यों के खिलाफ ये आरोप गिलानी ने लगाया है, जिन्हें खुद कश्मीर घाटी में पाकिस्तान का चेहरा माना जाता था।

ऑल पार्टी हुर्रियत कॉन्फ्रेंस (APHC) के कट्टरपंथी कश्मीरी अलगाववादी नेता सैयद अली शाह गिलानी ने “chairperson for life” के पद से पिछले दिनों इस्तीफा दिया था। उनके इस्तीफा देने के साथ ही ऑल पार्टी हुर्रियत कॉन्फ्रेंस के पाकिस्तान के मेडिकल कॉलेज रैकेट को लेकर सवाल उठने शुरू हो गए हैं।

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक अपने इस्तीफे में गिलानी ने हुर्रियत के सदस्यों के भ्रष्टाचार और पाकिस्तानी सत्ता के करीबी होने के आरोप लगाए हैं। दिलचस्प बात यह है कि हुर्रियत के कुछ सदस्यों के खिलाफ ये आरोप गिलानी ने लगाया है, जिन्हें खुद कश्मीर घाटी में पाकिस्तान का चेहरा माना जाता था।

जानकारी के मुताबिक पाकिस्तान के पास उन कश्मीरियों के लिए सीटें आरक्षित करने की पॉलिसी है, जिनके भारतीय सुरक्षा बलों के खिलाफ लड़ने वाले आतंकवादियों और अलगाववादियों से संबंध हैं। उन्हें पाकिस्तानी सरकारी संस्थानों में एमबीबीएस, बीडीएस, इंजीनियरिंग, स्नातक, स्नातकोत्तर आदि में प्रवेश मिलता है। पाकिस्तान सरकार ने कश्मीरी छात्रों के लिए अपने मेडिकल कॉलेजों में कम से कम 6% मेडिकल सीटें आरक्षित की हैं।

इस पॉलिसी की शुरुआत मुशर्रफ के कार्यकाल के दौरान की गई थी। बताया जाता है कि जिन कश्मीरियों को वहाँ के स्थानीय कॉलेजों में दाखिला नहीं मिल पाता था, वो अपनी आगे की पढ़ाई जारी रखने के लिए पाकिस्तान में एडमिशन करवाते थे और अधिकतर सीटें पाकिस्तान सरकार द्वारा स्पॉन्सर होती थी। इसके साथ ही यह भी कहा जाता है कि इन सीटों के आवंटन की जिम्मेदारी पीओके और कश्मीर के हुर्रियत नेताओं को दी गई थी।

बता दें कि पाकिस्तान में पढ़ने वाले कई कश्मीरी छात्रों ने पाकिस्तान में कोरोना वायरस के प्रकोप के बाद वाघा से भारत लौटने की कोशिश की थी। पाकिस्तान के विभिन्न विश्वविद्यालयों में पढ़ने वाले कश्मीर के 400 से अधिक छात्र वाघा में फँस गए थे, जिन्हें बाद में अमृतसर लाया गया।

बता दें कि दो साल पहले APHC के मुजफ्फराबाद के तत्कालीन संयोजक गुलाम मुस्तफा सफी पर अब्दुल्ला गिलानी ने कश्मीरी छात्रों के लिए रिजर्व सीटों को बेचने का आरोप लगाया था। अब्दुल्ला कश्मीर का रहने वाला है। मगर कई सालों तक वह पाकिस्तान में भी रहा है और उसके आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन के साथ भी संबंध बताए जा रहे हैं। अब्दुल्ला, एसएआर गिलानी का छोटा भाई है, जो 2001 में संसद हमले में आरोपित था।

यह कश्मीर में एक खुला रहस्य है कि APHC के दो चेहरों गिलानी और मीरवाइज उमर फारूक ने कश्मीर के छात्रों को अधिक से अधिक सीट बेचने की कोशिश की। गिलानी की पोतियों ने भी पाकिस्तान में मेडिकल की पढ़ाई की थी। हालाँकि, रैकेट के आरोप सामने आने के बाद उन्होंने सीटों के लिए नामों की सिफारिश करना बंद कर दिया।

राष्ट्रीय जाँच एजेंसी NIA ने भी सीट रैकेट की जाँच की थी। जिसमें कई कश्मीरी आरोपित पाए गए और वर्तमान में तिहाड़ जेल में बंद हैं। राष्ट्रीय जाँच एजेंसी ने अपनी चार्जशीट में कहा था कि पाकिस्तानी अधिकारियों ने छात्रों, शैक्षिक संस्थानों में पाठ्यक्रम को आगे बढ़ाने के लिए छात्रों, आतंकवादियों के रिश्तेदारों को शैक्षिक छात्रवृत्ति की पेशकश की थी।

यह भी माना जाता है कि पाकिस्तान की मेडिकल और इंजीनियरिंग कॉलेज में भारत में सक्रिय आतंकवादियों के बच्चों को प्रवेश देने के पीछे पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई और आतंकवादी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन था। आईएसआई और हिजबुल मुजाहिदीन प्रमुख सैयद सलाहुद्दीन ने भारत के खिलाफ लड़ रहे आतंकवादियों के बच्चों के लिए छात्रवृत्ति योजना की पेशकश करने के लिए हाथ मिलाया था।

हालाँकि गुलाम मुस्तफा सफी ने इंडियन एक्सप्रेस को बताया कि ये आरोप फर्जी हैं। इस रैकेट के खुलासे से हुर्रियत की आपसी फूट भी उजागर हो गई। मेडिकल सीटों के रैकेट ने पहले ही हुर्रियत में तूफान खड़ा कर दिया था, जिसके परिणामस्वरूप गिलानी ने 2018 के अंत में सफी को बर्खास्त कर दिया और फिर जनवरी 2019 में अब्दुल्ला गिलानी को संयोजक नियुक्त किया।

खबरों की मानें तो अब्दुल्ला गिलानी को संयोजक बनाए जाने पर भी ऑल पार्टी हुर्रियत कॉन्फ्रेंस के नेता एकमत नहीं हैं, क्योंकि बताया जाता है कि पाकिस्तान के साथ गिलानी के संबंधों में वैसी गर्मजोशी नहीं है जैसा अन्य अलगाववादी नेताओं के साथ दिखती है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

 

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कहाँ गए दिल्ली जल बोर्ड के ₹26,000 करोड़: केजरीवाल सरकार पर करप्शन का बड़ा आरोप

दिल्ली की केजरीवाल सरकार पर BJP ने जल बोर्ड के 26 हजार करोड़ रुपए डकारने का आरोप लगाया है।

सीरम इंस्टीट्यूट में 5 जलकर मरे: कोविड वैक्सीन सुरक्षित, लोग जता रहे साजिश की आशंका

सीरम इंस्टीट्यूट में लगी इस आग ने अचानक लोगों के मन में संदेह को पैदा कर दिया है। लोग आशंका जता रहे हैं कि कहीं ये सब जानबूझकर तो नहीं किया गया।

1277 करोड़ रुपए की कंपनी: इंडियन कैसे करते हैं पखाना (पॉटी), देते हैं इसकी ट्रेनिंग और प्रोडक्ट

इंडिया के लोग पखाना कैसे करते हैं? आप बोलेंगे बैठ कर! लेकिन किसी के लिए यही सामान्य सा ज्ञान बिजनस बन गया और...

मिर्जापुर की सांस्कृतिक छवि ख़राब करने के लिए वेब सीरीज बनाने वालों को SC ने भेजा नोटिस

SC ने इस नोटिस में UP के जिला मिर्जापुर की ऐतिहासिक और सांस्कृतिक छवि खराब करने के सम्बन्ध में OTT प्लेटफॉर्म और शो के निर्माताओं से जवाब माँगा है।

Covishield बनाने वाले सीरम इंस्टीट्यूट में भीषण आग: कोरोना वैक्सीन के करोड़ों डोज का यहाँ है स्टोर

दुर्घटना में कितना नुकसान हुआ, फिलहाल इसका कुछ पता नहीं है। मौके पर दमकल की 5-10 गाड़ियाँ आग बुझाने पहुँची हैं। वीडियो में...

7% नहीं, अब किसानों को 12% पर लोन: मोदी सरकार का फैसला, RBI ने जारी किए निर्देश – Fact Check

सोशल मीडिया पर एक खबर शेयर कर दावा किया जा रहा है कि किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) पर लोन की ब्याज दर को 7% से बढ़ाकर 12% कर दिया गया है।

प्रचलित ख़बरें

‘अल्लाह का मजाक उड़ाने की है हिम्मत’ – तांडव के डायरेक्टर अली से कंगना रनौत ने पूछा, राजू श्रीवास्तव ने बनाया वीडियो

कंगना रनौत ने सीरीज के मेकर्स से पूछा कि क्या उनमें 'अल्लाह' का मजाक बनाने की हिम्मत है? उन्होंने और राजू श्रीवास्तव ने अली अब्बास जफर को...

‘उसने पैंट से लिंग निकाला और मुझे फील करने को कहा’: साजिद खान पर शर्लिन चोपड़ा ने लगाया यौन उत्पीड़न का आरोप

अभिनेत्री-मॉडल शर्लिन चोपड़ा ने फिल्म मेकर फराह खान के भाई साजिद खान पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है।

‘कोहली के बिना इनका क्या होगा… ऑस्ट्रेलिया 4-0 से जीतेगा’: 5 बड़बोले, जिनकी आश्विन ने लगाई क्लास

अब जब भारत ने ऑस्ट्रेलिया में जाकर ही ऑस्ट्रेलिया को धूल चटा दिया है, आइए हम 5 बड़बोलों की बात करते हैं। आश्विन ने इन सबकी क्लास ली है।

Pak ने शाहीन-3 मिसाइल टेस्ट फायर किया, हुए कई घर बर्बाद और सैकड़ों घायल: बलूच नेता का ट्वीट, गिरना था कहीं… गिरा कहीं और!

"पाकिस्तान आर्मी ने शाहीन-3 मिसाइल को डेरा गाजी खान के राखी क्षेत्र से फायर किया और उसे नागरिक आबादी वाले डेरा बुगती में गिराया गया।"

ढाई साल की बच्ची का रेप-मर्डर, 29 दिन में फाँसी की सजा: UP पुलिस और कोर्ट की त्वरित कार्रवाई

अदालत ने एक ढाई साल की बच्ची के साथ रेप और हत्या के दोषी को मौत की सजा सुनाई है। UP पुलिस की कार्रवाई के बाद यह फैसला 29 दिन के अंदर सुनाया गया है।

महाराष्ट्र पंचायत चुनाव में 3263 सीटों के साथ BJP सबसे बड़ी पार्टी, ठाकरे की MNS को सिर्फ 31 सीट

महाराष्ट्र में पंचायत चुनाव में भाजपा सबसे बड़ी पार्टी बन कर उभरी। शिवसेना ने दावा किया है कि MVA को राज्य की ग्रामीण जनता ने पहली पसंद बनाया।
- विज्ञापन -

 

तांडव के डायरेक्टर-राइटर के घर पर ताला, प्रोड्यूसर ने ऑफिस छोड़ा: UP पुलिस ने चिपकाया नोटिस

लखनऊ में दर्ज शिकायत को लेकर यूपी पुलिस की टीम मुंबई में तांडव के डायरेक्टर और लेखक के घर तथा प्रोड्यूसर के दफ्तर पहुॅंची।

कहाँ गए दिल्ली जल बोर्ड के ₹26,000 करोड़: केजरीवाल सरकार पर करप्शन का बड़ा आरोप

दिल्ली की केजरीवाल सरकार पर BJP ने जल बोर्ड के 26 हजार करोड़ रुपए डकारने का आरोप लगाया है।

सीरम इंस्टीट्यूट में 5 जलकर मरे: कोविड वैक्सीन सुरक्षित, लोग जता रहे साजिश की आशंका

सीरम इंस्टीट्यूट में लगी इस आग ने अचानक लोगों के मन में संदेह को पैदा कर दिया है। लोग आशंका जता रहे हैं कि कहीं ये सब जानबूझकर तो नहीं किया गया।

‘गाँवों में जाकर भाजपा को वोट देने के लिए धमका रहे जवान’: BSF ने टीएमसी को दिया जवाब

टीएमसी के आरोपों का जवाब देते हए BSF ने कहा है कि वह एक गैर राजनैतिक ताकत है और सभी दलों का समान रूप से सम्मान करता है।

1277 करोड़ रुपए की कंपनी: इंडियन कैसे करते हैं पखाना (पॉटी), देते हैं इसकी ट्रेनिंग और प्रोडक्ट

इंडिया के लोग पखाना कैसे करते हैं? आप बोलेंगे बैठ कर! लेकिन किसी के लिए यही सामान्य सा ज्ञान बिजनस बन गया और...

भाषण देने को लेकर गाली-गलौज, कॉन्ग्रेसियों ने एक-दूसरे को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा

यह विवाद धरना-प्रदर्शन में संबोधन का अवसर न मिलने को लेकर शुरू हुआ। जिसके बाद कॉन्ग्रेसियों ने एक-दूसरे पर गाली गलौज करते हुए जमकर मारपीट की।

सारे लकड़बग्घे एक साथ आ जाएँ… मैं तुम सब भेड़ियों को नहीं छोड़ूँगी: जावेद अख्तर वाले केस में समन पर कंगना रनौत

गीतकार जावेद अख्तर द्वारा दायर मानहानि मामले में मुंबई पुलिस ने अभिनेत्री कंगना रनौत को तलब किया है।

नरेंद्र मोदी, जापानी PM, ट्रम्प और कुत्ता: रॉयटर्स ने दिखाई नस्लभेदी मानसिकता

बायडेन को ट्रंप से बेहतर साबित करने के फेर में रॉयटर्स ने एक वीडियो साझा किया है, जिससे उसकी नस्लभेदी मानसिकता झलकती है।

मस्जिद से ‘लव जिहाद’ का खुला राज: असद ने आशू बन लड़की का किया यौन शोषण, धराया

मध्यप्रदेश धार्मिक स्वतंत्रता अध्यादेश 2020 (लव जिहाद) की धारा 3, 5 और अन्य धाराओं में भोपाल में पहला मामला दर्ज किया गया है। साथ ही, आरोपित असद को गिरफ्तार कर लिया गया है।

मिर्जापुर की सांस्कृतिक छवि ख़राब करने के लिए वेब सीरीज बनाने वालों को SC ने भेजा नोटिस

SC ने इस नोटिस में UP के जिला मिर्जापुर की ऐतिहासिक और सांस्कृतिक छवि खराब करने के सम्बन्ध में OTT प्लेटफॉर्म और शो के निर्माताओं से जवाब माँगा है।

हमसे जुड़ें

272,571FansLike
80,695FollowersFollow
383,000SubscribersSubscribe