Thursday, July 7, 2022
Homeदेश-समाजहैदराबाद: केक में नींद की दवा मिलाकर जोसेफ ने दोस्तों के साथ मिल कर...

हैदराबाद: केक में नींद की दवा मिलाकर जोसेफ ने दोस्तों के साथ मिल कर किया गैंगरेप, 3 महीने पहले ही हुई थी दोस्ती

जन्मदिन की पार्टी के दौरान ही तीनों आरोपितों ने पीड़िता को केक ऑफर किया, जिसमें सेडेटिव सामग्रियाँ (नींद की दवा) मिला दी गई थीं। उसके बेसुध होने के बाद तीनों ने उसके साथ गैंगरेप किया।

हैदराबाद में एक छात्रा को ड्रग देकर उसके साथ गैंगरेप करने की घटना सामने आई है। आरोप है कि तीन युवकों ने मिल कर उसके साथ गैंगरेप किया। ये घटना कुकटपल्ली इलाके में कुछ दिन पहले हुई, जिसका खुलासा अब हुआ है। पीड़िता हैदराबाद के जुबली हिल क्षेत्र की रहने वाली है। सोमवार (अक्टूबर 5, 2020) को 20 वर्षीय एम जोसेफ ने उसे अपने जन्मदिन की पार्टी में बुलाया था, जहाँ उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया गया।

सिकंदराबाद स्थित डिग्री कॉलेज में पढ़ने वाली पीड़िता की जोसेफ से 3 महीने पहले मुलाकात हुई थी और वो दोनों दोस्त बन गए थे। पीड़िता पहले टैंक बंड इलाके में गई थी, जहाँ उसकी मुलाकात जोसेफ के दो अन्य दोस्तों से हुई। वहाँ 22 वर्षीय बी नवीन रेड्डी और 23 वर्षीय आर रामू से उसकी मुलाकात हुई। इसके बाद वो सभी वहाँ से KPHB कॉलोनी मेट्रो स्टेशन स्थित एक होटल में गए, जहाँ जन्मदिन की पार्टी होनी थी।

जन्मदिन की पार्टी के दौरान ही तीनों आरोपितों ने पीड़िता को केक ऑफर किया, जिसमें सेडेटिव सामग्रियाँ (नींद की दवा) मिला दी गई थीं। उसके बेसुध होने के बाद तीनों ने उसके साथ गैंगरेप किया। जब वह होश में आई तो तीनों ने उसे धमकाया कि अगर उसने किसी से भी इस घटना का खुलासा किया तो इसका ‘बुरा परिणाम’ होगा। इस डर के कारण पीड़िता ने किसी को कुछ नहीं बताया।

हालाँकि, इस घटना के 2 दिनों बाद ही पीड़िता ने पेट में दर्द और अन्य तकलीफों की शिकायत की, जिसके बाद उसे अस्पताल में दाखिल कराया गया। वहीं पर पीड़िता ने अपनी माँ को बताया कि उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया गया था। इसके बाद उसके माता-पिता ने जुबली हिल्स पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज कराई। एफआईआर दर्ज करने के बाद इस मामले को कुकटपल्ली पुलिस थाने में ट्रांसफर कर दिया गया है।

इससे पहले दिसंबर 2019 में हैदराबाद के ही शादनगर में पशु चिकित्सक प्रीति रेड्डी (बदला हुआ नाम) की रेप के बाद हत्या कर दी गई थी। उनका जला हुआ शव बरामद होने के बाद पूरा देश उबल पड़ा था। इस मामले में चार लोग गिरफ्तार किए गए थे। बाद में पुलिस ने एनकाउंटर में चारों आरोपितों को मार गिराया था। प्रीति रेड्डी के साथ वारदात को अंजाम देने से पहले आरोपित इस तरह की कई और जघन्य घटनाओं में शामिल थे। चार आरोपितों में दो ने इस तरह की 9 और वारदातों में संलिप्तता कबूली थी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मैं ऐसे भारत में नहीं रहना चाहती…’: देवी काली का अपमान करने के बाद धौंस दिखा रही TMC सांसद महुआ मोइत्रा, कहा- करो FIR,...

देवी काली पर अपमानजनक बयान देने वाली TMC सांसद महुआ मोइत्रा ने कहा है कि वह मरते दम तक अपने कहे पर डटी रहेंगी।

PFI की जिस रैली में लगे थे भड़काऊ नारे, उस मामले में 31 को केरल हाई कोर्ट ने दी जमानत: हिंदुओं की हत्या की...

कट्टरपंथी संगठन PFI की रैली में भड़काऊ नारे लगाने के 31 आरोपितों को केरल हाई कोर्ट ने जमानत दे दी है। यह रैली इसी साल मई में अलाप्पुझा जिले में हुई थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
204,273FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe