Tuesday, September 27, 2022
Homeदेश-समाजजम्मू-कश्मीर का वेयान बना 100% टीकाकरण वाला देश का पहला गाँव, 18 कि.मी. पैदल...

जम्मू-कश्मीर का वेयान बना 100% टीकाकरण वाला देश का पहला गाँव, 18 कि.मी. पैदल चलकर पहुँचे स्वास्थ्यकर्मी

जम्मू-कश्मीर के बाँदीपोरा जिले का वेयान गाँव देश का पहला ऐसा गाँव बन गया है, जहाँ सभी पात्र लोगों (18 वर्ष से ऊपर) को कोविड-19 का टीका लग चुका है। इस उपलब्धि के कारण यह गाँव पूरे देश में चर्चा का केंद्र बना हुआ है।

अनुच्छेद 370 हटने के बाद और केंद्रशासित प्रदेश बनने के साथ ही आतंक के साये से निकलने को बेचैन जम्मू-कश्मीर नीत नए कीर्तिमान गढ़ रहा है। जब देश में कोरोना महामारी को रोकने के लिए आवश्यक टीके की माँग को लेकर आरोप-प्रत्यारोप का दौर चल रहा हो, ऐसे में एक पूरे गाँव का टीकाकरण कर दिया जाना किसी उपलब्धि से कम नहीं है, खासकर आतंकवाद से सिसकते एक प्रदेश के गाँव के लिए।

जम्मू-कश्मीर के बाँदीपोरा जिले का वेयान गाँव देश का पहला ऐसा गाँव बन गया है, जहाँ सभी पात्र लोगों (18 वर्ष से ऊपर) को कोविड-19 का टीका लग चुका है। इस उपलब्धि के कारण यह गाँव पूरे देश में चर्चा का केंद्र बना हुआ है।

अधिकारियों ने बताया कि वेयान गाँव में कुल 362 वयस्क रहते हैं और सभी का टीकाकरण हो गया है। स्वास्थ्यर्किमयों की कड़ी मेहनत और अथक प्रयास के कारण ही इस लक्ष्य को हासिल किया जा सका है। दरअसल, वेयान गाँव बाँदीपोरा जिला मुख्यालय से 28 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है, लेकिन इस गाँव तक पहुँचने के लिए 18 किलोमीटर पैदल यात्रा करनी होती है।

कोविड का टीका लगाते स्वास्थ्यकर्मी (तस्वीर साभार-दैनिक जागरण)

इस गाँव में पूर्ण टीकाकरण होना इसलिए भी महत्वपूर्ण है, क्योंकि यहाँ कुछ खानाबदोश परिवार भी रहते हैं। ये परिवार पशुओं को चराने के लिए अलग-अलग स्थानों पर जाकर अपना बसेरा बनाकर कुछ दिनों के लिए वहीं रहते हैं। इस गाँव में इंटरनेट की भी सुविधा नहीं है। इसलिए यहाँ के लोग टीकाकरण के लिए ऑनलाइन पंजीकरण भी नहीं करा सकते थे।

गाँव में कोविड-19 के टीकाकरण अभियान को ‘जम्मू-कश्मीर मॉडल’ के तहत लागू किया गया। इस मॉडलमें तेज गति से सभी पात्र लोगों के टीकाकरण करने की एक 10 सूत्री रणनीति है। जम्मू-कश्मीर में कोविड टीके को लेकर शुरुआत में लोगों में झिझक होने के बावजूद 45 से अधिक आयु वर्ग के करीब 70 प्रतिशत लोगों को टीके की खुराक दी जा चुकी है, जो राष्ट्रीय औसत का दोगुना है।

वहीं, वेयान गाँव की इस उपलब्धि पर जम्मू-कश्मीर सरकार के मीडिया सलाहकार यतीश यादव ने कहा कि इस केन्द्रशासित प्रदेश में टीकाकरण अभियान को और अधिक तेज किया जा रहा है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘भारत जोड़ो यात्रा’ छोड़ कर दिल्ली पहुँचे कॉन्ग्रेस के महासचिव, कमलनाथ-प्रियंका से भी मिलीं सोनिया गाँधी: राजस्थान के बागी बोले- सड़कों पर बहा सकते...

राजस्थान में जारी सियासी घमासान के बीच कॉन्ग्रेस हाईकमान के सामने मुश्किल खड़ी हो गई है। वेणुगोपाल और कमलनाथ दिल्ली पहुँच गए हैं।

अब इटली में भी इस्लामी कट्टरपंथियों की खैर नहीं, वहाँ बन गई राष्ट्रवादी सरकार: देश को मिली पहली महिला PM, तानाशाह मुसोलिनी की हैं...

इटली के पूर्व तानाशाह बेनिटो मुसोलिनी की कभी समर्थक रहीं जॉर्जिया मेलोनी इटली की पहली प्रधानमंत्री बनने जा रही हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
224,428FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe