Thursday, January 20, 2022
Homeदेश-समाज'रोक सको तो रोक लो... दिल्ली के बाद तुम्हारे पास, इंतजाम पूरा' - 'जैश...

‘रोक सको तो रोक लो… दिल्ली के बाद तुम्हारे पास, इंतजाम पूरा’ – ‘जैश उल हिंद’ ने ली एंटीलिया के बाहर की जिम्मेदारी

"रोक सकते हो तो रोक लो! तुम कुछ नहीं कर पाए थे, जब हमने तुम्हारी नाक के नीचे दिल्ली में तुम्हें हिट किया था, तुमने मोसाद के साथ हाथ मिलाया लेकिन कुछ नहीं हुआ।"

हाल ही में मुकेश अंबानी की बहुमंजिला इमारत एंटीलिया के बाहर एक संदिग्ध कार पार्क की हुई मिली थी, जिसमें 20 जिलेटिन की छड़ें रखी हुई थीं। अब आतंकी संगठन ‘जैश उल हिंद’ ने इस घटना की जिम्मेदारी लेते हुए धमकी भरा संदेश दिया है। संगठन ने टेलीग्राम एप के जरिए इस घटना की जिम्मेदारी ली। आतंकी संगठन के इस बयान के बाद मुंबई पुलिस के कान खड़े हो गए हैं और जाँच की जा रही है।

अपने धमकी भरे संदेश में आतंकी संगठन ने लिखा है, “रोक सकते हो तो रोक लो! तुम कुछ नहीं कर पाए थे जब हमने तुम्हारी नाक के नीचे दिल्ली में तुम्हें हिट किया था, तुमने मोसाद के साथ हाथ मिलाया लेकिन कुछ नहीं हुआ। तुम्हें (अंबानी के लिए) मालूम है तुम्हें क्या करना है। बस पैसे ट्रांसफर कर दो जो तुम्हें पहले कहा गया है।” इस संदेश में भारत-इजरायल संबंधों की बात करते हुए उसका विरोध किया जा रहा है।

जानकारी दे दें कि ये वही आतंकी संगठन है, जिसने दिल्ली में इजरायली दूतावास के बार धमाका किया था। ये संगठन रुपए और बिटकॉइन की माँग करता है। इस संदेश में उसने दिल्ली की उसी घटना का जिक्र करते हुए याद दिलाया है। मुकेश अंबानी के घर के बाहर बुधवार (फरवरी 24, 2021) रात 1 बजे संदिग्ध स्कॉर्पियो कार खड़ी मिली थी। CCTV फुटेज में 2 गाड़ियाँ दिखीं, जिनमें एक इनोवा कार भी थी।

मुकेश अंबानी के घर के सुरक्षाकर्मियों ने इसके बारे में मुंबई पुलिस को सूचित किया था, जिसके बाद जाँच शुरू हुई थी। संदिग्ध गाड़ी के साथ बरामद किए गए पत्र में लिखा था, “ये तो सिर्फ एक ट्रेलर है। नीता भाभी और मुकेश भैया, ये तो सिर्फ एक झलक है। अगली बार सामान पूरा होकर तुम्हारे पास आएगा और इसका पूरा इंतजाम हो गया है।” मुंबई पुलिस ने एंटीलिया के आस-पास गश्त भी बढ़ा दी गई है।

लुटियंस दिल्ली में जनवरी 29, 2021 की शाम को इजरायल के दूतावास के बाहर बम विस्फोट हुआ था। धमाके का समय जानबूझ कर शाम का 5:05 चुना गया था, क्योंकि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद तभी विजय चौक पहुँचे थे। बीटिंग रिट्रीट सेरेमनी में पहुँचे राष्ट्रपति के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी थे। इसी संगठन ने इसकी जिम्मेदारी ली थी। 9 साल पहले 13 फरवरी 2012 को ऐसा ही एक धमाका इजरायली दूतावास के पास हुआ था।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘सपा सरकार है और सीएम हमारी जेब मैं है, जो चाहेंगे वही होगा’: कॉन्ग्रेस को समर्थन का ऐलान करने वाले तौकीर रजा पर बहू...

निदा खान कॉन्ग्रेस के समर्थक मौलाना तौकीर रजा खान की बहू हैं। उन्हें उनके शौहर ने कहा था कि वो नहीं चाहते कि परिवार की महिलाएं पढ़े।

शहजाद अली के 6 दुकानों पर चला शिवराज सरकार का बुलडोजर, कार्रवाई के बाद सुराना गाँव के हिंदुओं ने हटाई मकान बेचने वाली सूचना

मध्य प्रदेश प्रशासन की कार्रवाई के बाद रतलाम में हिंदू समुदाय ने अपने घरों पर लिखी गई मकान बेचने की सूचना को मिटा दिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
152,413FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe