Tuesday, November 30, 2021
Homeदेश-समाजजम्मू-कश्मीर: बनिहाल टनल पर कार में हुआ धमाका, पास से गुज़र रहा था सुरक्षाबलों...

जम्मू-कश्मीर: बनिहाल टनल पर कार में हुआ धमाका, पास से गुज़र रहा था सुरक्षाबलों का काफिला

इस घटना के बारे में सुरक्षा एजेंसियों ने कुछ दिन पहले ही अलर्ट किया था कि इस हाइवे पर पुलवामा जैसी घटना दोबारा दोहराई जा सकती है।

जम्मू-कश्मीर में श्रीनगर-जम्मू हाइवे के पास एक कार धमाका हुआ है। धमाका जिस सैंट्रो कार में हुआ है, उसके नज़दीक से सुरक्षाबलों का एक काफ़िला गुज़र रहा था। काफ़िले में सीआरपीएफ जवानों की 6-7 बस थीं और उसमें करीब 40 जवान थे। हमले में किसी के हताहत होने की खबर नहीं हैं।

मीडिया खबरों के मुताबिक, बनिहाल टनल के रियाइशी इलाके से दूर एक सेंट्रो कार हाइवे पर खड़ी थी। सीआरपीएफ जवानों के काफिले के नज़दीक आते ही कार में धमाका हो गया। धमाके के दौरान कार में कोई भी मौजूद नहीं था।

इस घटना के बारे में सुरक्षा एजेंसियों ने कुछ दिन पहले ही अलर्ट किया था कि इस हाइवे पर पुलवामा जैसी घटना दोबारा दोहराई जा सकती है।

कुछ मीडिया खबर इसे कार सिलेंडर ब्लास्ट का मामला बता रहे हैं। लेकिन ड्राइवर के गायब होने से इस पूरे धमाके पर शक गहराता जा रहा है। ड्राइवर की खोज फिलहाल जारी है। धमाके के कारण बस को नुकसान पहुँचा है और साथ ही उसके शीशे टूट गए हैं। फिलहाल धमाके से हुई अफरा-तफरी के कारण सुरक्षाबलों ने इलाके को घेर लिया है और मामले की जाँच शुरू कर दी है।

यहाँ बता दें कि 14 फरवरी को भी सुरक्षाबल के जवानों पर एक गाड़ी की मदद से हुए फिदायीन हमलावर ने पूरी हादसे को अंजाम दिया था। जिसमें 40 से ज्यादा भारतीय सेना के जवान वीरगति को प्राप्त हुए थे।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘UPTET के अभ्यर्थियों को सड़क पर गुजारनी पड़ी जाड़े की रात, परीक्षा हो गई रद्द’: जानिए सोशल मीडिया पर चल रहे प्रोपेगंडा का सच

एक तस्वीर वायरल हो रही है, जिसके आधार पर दावा किया जा रहा है कि ये उत्तर प्रदेश में UPTET की परीक्षा देने वाले अभ्यर्थियों की तस्वीर है।

बेचारा लोकतंत्र! विपक्ष के मन का हुआ तो मजबूत वर्ना सीधे हत्या: नारे, निलंबन के बीच हंगामेदार रहा वार्म अप सेशन

संसद में परंपरा के अनुरूप आचरण न करने से लोकतंत्र मजबूत होता है और उस आचरण के लिए निलंबन पर लोकतंत्र की हत्या हो जाती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
140,538FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe