Saturday, July 24, 2021
Homeदेश-समाजJ&K में भाजपा के OBC नेता की हत्या, सिक्यॉरिटी सेंटर में ठहराए जाने के...

J&K में भाजपा के OBC नेता की हत्या, सिक्यॉरिटी सेंटर में ठहराए जाने के बावजूद आतंकियों ने बनाया निशाना

भाजपा OBC मोर्चा के जिलाध्यक्ष अब्दुल हामिद को काफी समय से आतंकियों की धमकियाँ मिल रही थीं, जिसके बाद उन्हें सिक्योरिटी सेंटर में ठहराया गया था। लेकिन सिक्यॉरिटी सेंटर से सैर के लिए निकलने पर...

जम्मू कश्मीर में भाजपा नेताओं की हत्या का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। बडगाम में भाजपा OBC मोर्चा के जिलाध्यक्ष अब्दुल हामिद नज़र की हत्या कर दी गई है। आतंकियों ने उन्हें रविवार (अगस्त 9, 2020) को गोली मार दी थी। कहा जा रहा है कि जम्मू कश्मीर में हो रही कार्रवाई से बौखला कर आतंकियों ने ऐसा किया। उन्हें गोली लगने के बाद उनकी हालत गंभीर बनी हुई थी। अब उनकी मौत हो गई है।

भाजपा ओबीसी प्रकोष्ठ के अध्यक्ष अब्दुल हामिद सिक्यॉरिटी सेंटर से सैर के लिए निकले थे। तभी बाइक सवार आतंकियों ने उन्हें गोली मार दी। सुरक्षाबलों ने पूरे इलाके को घेर लिया है और लगातार तलाशी अभियान चलाया जा रहा है। अभी तक किसी भी आतंकी संगठन ने इस घटना की जिम्मेदारी नहीं ली है। आशंका जताई जा रही है कि यह द रेसिस्टैंट फ्रंट या फिर अल बदर मुजाहिद्दीन की करतूत हो सकती है।

38 वर्षीय अब्दुल हामिद नज़र बडगाम के मेहदीपोरा के रहने वाले थे। वो सौर-ए-अफाक होटल में बनाए गए सिक्योरिटी सेंटर से 3 किलोमीटर दूर ओमपोरा क्षेत्र में टहल रहे थे। आतंकियों ने उन्हें सामने से गोली दागी। बाइक पर 2 आतंकी सवार थे। गोलियाँ उनके पेट में लगीं। स्थानीय लोगों ने खून से लथपथ भाजपा नेता को अस्पताल पहुँचाया। वहाँ उन्हें श्रीनगर के महाराज हरि सिंह अस्पताल में ले जाया गया।

आतंकी उन्हें गोली मार कर फरार भी हो गए। डॉक्टरों ने बताया था कि पेट में गोली लगने के कारण उनके लीवर को नुकसान पहुँचा था। बताया गया है कि जब उन्हें जब गोली लगी तो वो ओमपुरा रेलवे स्टेशन तक पहुँच गए थे और उस समय वहाँ लोगों की आवाजाही भी कम थी। उन्हें काफी समय से आतंकियों की धमकियाँ मिल रही थीं, जिसके बाद उन्हें सिक्योरिटी सेंटर में ठहराया गया था। उन्हें अकेला देख आतंकियों को मौका मिल गया।

इससे पहले बडगाम में ही आतंकियों ने जम्मू कश्मीर के भाजपा राज्य कार्यकारिणी की सदस्य डॉक्टर अनीसा गुल को भी निशाना बनाया था। उन्हें भी फिलहाल सिक्योरिटी सेंटर में ही ठहराया गया है। उन्हें श्रीनगर के छिन्नपोरा में निशाना बनाने का प्रयास किया गया था। रात को 1 बजे 5 आतंकियों ने उनके घर को घेर लिया था। किसी तरह पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस के गाड़ियों के आने के बाद आतंकी फरार हो गए थे।

हाल ही में कश्मीर के कुलगाम जिला स्थित काजीगुंड ब्लॉक के वेसू गाँव में आतंकवादियों ने भाजपा सरपंच सज्जाद अहमद खांडे की उनके घर के बाहर गोली मारकर हत्या कर दी थी। रिपोर्ट्स के मुताबिक, अस्पताल ले जाते समय रास्ते में उन्होंने दम तोड़ दिया था। सज्जाद अहमद खांडे एक सुरक्षित प्रवासी शिविर में कई सरपंचों के साथ रह रहे थे। वह बृहस्पतिवार (अगस्त 05, 2020) सुबह अपने घर जाने वाले थे और उन्हें आतंकवादियों ने तब गोली का निशाना बनाया, जब जब वह अपने घर से मात्र 20 मीटर दूर थे।

भाजपा पार्टी के प्रवक्ता अल्ताफ ठाकुर ने सभी सरपंचों के लिए सुरक्षा की माँग करते हुए कहा, “यह हताशा के कारण उठाया गया कदम है क्योंकि भाजपा पैर जमा रही है। मैं उन्हें बताना चाहता हूँ कि लड़ाई वैचारिक होनी चाहिए। आप उन लोगों को मारते हैं, जो गरीबों और वंचितों के लिए लड़ते हैं। मुझे लगता है कि उन सभी सरपंचों को जिन्हें सुरक्षा प्रदान नहीं की गई है, अब उन्हें सुरक्षा दी जानी चाहिए।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

राजस्थान में भगवा ध्वज फाड़ने वाले कॉन्ग्रेस MLA को लोगों ने दौड़ा-दौड़ाकर पीटा: वायरल वीडियो का FactChek

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें दिख रहा है कि लाठी-डंडा लिए भीड़ एक शख्स को दौड़ा-दौड़ाकर पीट रही है।

दैनिक भास्कर के ₹2,200 करोड़ के फर्जी लेनदेन की जाँच कर रहा है IT विभाग: 700 करोड़ की आय पर टैक्स चोरी का खुलासा

मीडिया समूह की तलाशी में छह वर्षों में ₹700 करोड़ की आय पर अवैतनिक कर, शेयर बाजार के नियमों का उल्लंघन और लिस्टेड कंपनियों से लाभ की हेराफेरी के आयकर विभाग को सबूत मिले हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,047FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe