Wednesday, July 6, 2022
Homeदेश-समाजनाम कफील लेकिन फेसबुक पर 'करण'... लड़कियों को भेजता था अश्लील मैसेज, हुआ गिरफ्तार

नाम कफील लेकिन फेसबुक पर ‘करण’… लड़कियों को भेजता था अश्लील मैसेज, हुआ गिरफ्तार

कफील दिल्ली विश्वविद्यालय से बीए कर रहा है। बचने के लिए वह हॉटस्पॉट या वाईफाई का इस्तेमाल करता था। उसके पिता मीट की दुकान चलाते हैं।

फर्जी फेसबुक प्रोफाइल बनाकर महिलाओं को अश्लील मैसेज भेजने वाले दिल्ली यूनिवर्सिटी के एक छात्र को दक्षिणी दिल्ली पुलिस ने शनिवार (सितंबर 26, 2020) को गिरफ्तार कर लिया। आरोपित की पहचान 23 वर्षीय कफील के रूप में हुई। वह महरौली का रहने वाला है और बीए के प्रथम वर्ष का छात्र है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, दक्षिणी दिल्ली के डीसीपी अतुल ठाकुर ने इस संबंध में बताया कि महरौली की एक महिला ने कुछ दिन पहले एक शिकायत की थी। उसमें उसने बताया था कि उसे कोई करण नाम का लड़का फेसबुक पर भद्दे व अश्लील मैसेज भेजता है।

उन्होंने कहा कि दिल्ली पुलिस ने जब इस मामले में अपनी जाँच शुरू की, तो तकनीकी निगरानी की सहायता से आरोपित पकड़ में आया और शनिवार को उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

पड़ताल में मालूम चला कि आरोपित का नाम कफील है। जो शिकायत करने वाली महिला पर ऑनलाइन नजर रख रहा था और खुद को जिम ट्रेनर बताता था। उसने फेसबुक पर करण नाम से फर्जी प्रोफाइल तैयार की थी और उसी से वह महिलाओं को फेसबुक पर अश्लील मैसेज भेजता था।

वहीं, हकीकत यह है कि कफील दिल्ली विश्वविद्यालय से डिस्टेंस एजुकेशन का छात्र है। वह वहाँ से बीए कर रहा है। उसके पिता महरौली में मीट शॉप चलाते हैं। पुलिस ने उसका मोबाइल जब्त कर लिया है।

पूछताछ के दौरान, आरोपित कफील ने बताया कि वह महिलाओं से दोस्ती करने और उन्हें अश्लील संदेश भेजने के लिए फर्जी फेसबुक आईडी का इस्तेमाल करता था। उसने यह भी बताया कि पहचान का खुलासा होने से बचने के लिए वह हॉटस्पॉट या वाईफाई सेवाओं का इस्तेमाल करता था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

SC/ST आरक्षण लागू नहीं कर रहा जामिया, आयोग ने कुलपति नजमा अख्तर को किया तलब: दलित शिक्षक से कहा – बर्तन धो, चाय बनाओ

जातिगत अत्याचार के मामले में 'राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति आयोग' ने जामिया मिलिया इस्लामिया के कुलपति को तलब किया है। SC/ST आरक्षण बंद करने का मामला।

‘बोल देना नशे में था…’: राजस्थान पुलिस का Video वायरल; अजमेर दरगाह के जिस खादिम ने माँगी नूपुर शर्मा की गर्दन, उसे बताया ‘बचाव...

खादिम सलमान चिश्ती कह रहा है कि वो नशा नहीं करता, लेकिन इसके बावजूद राजस्थान पुलिस उससे कहती है, "बोल देना नशे में था, ताकि बचाया जा सके।"

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
204,106FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe