Friday, April 12, 2024
Homeदेश-समाजजवानों के हाथों किसी नागरिक की मौत नहीं, 15157 सर्जरियाँ: पटरी पर लौट रही...

जवानों के हाथों किसी नागरिक की मौत नहीं, 15157 सर्जरियाँ: पटरी पर लौट रही है जम्मू-कश्मीर की गाड़ी

जम्मू-कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह ने बताया कि 90% इलाकों में कोई बंदिशें नहीं हैं और 100% टेलीफोन एक्सचेंज काम कर रहे हैं। यहाँ तक कि दो जिलों में मोबाइल सेवाएँ भी दोबारा शुरू कर दी गईं हैं।

जम्मू-कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह ने बुधवार, 11 सितंबर को एक प्रेस वार्ता को सम्बोधित करते हुए दावा किया कि घाटी और राज्य के हालात सामान्य होने की दिशा में संतोषजनक प्रगति कर रहे हैं। “हम सामान्य के बहुत करीब हैं। अगर पूरे इलाके का हिसाब लगाएँगे, तो जम्मू के 10 जिले पूरी तरह सामान्य हो गए हैं। सारे स्कूल, कॉलेज, ऑफिस खुले हैं। लेह और कारगिल भी सामान्य हैं, वहाँ कोई बंदिशें नहीं हैं।”

उन्होंने यह भी दावा किया कि 90% इलाकों में कोई बंदिशें नहीं हैं और 100% टेलीफोन एक्सचेंज काम कर रहे हैं। यहाँ तक कि दो जिलों में मोबाइल सेवाएँ भी दोबारा शुरू कर दी गईं हैं

इसके अलावा डीजीपी ने सरकार-पुलिस-प्रशासन की अन्य उपलब्धियाँ भी गिनाईं, जिनमें सुरक्षा बलों के हाथों मारे गए नागरिकों की संख्या का शून्य होना सबसे अहम है। इसके अलावा सभी लैंडलाइन चालू हो गए हैं और कुपवाड़ा में मोबाइल सेवाएँ भी उपलब्ध हैं।

स्वास्थ्य सेवाएं भी पूरे ज़ोर-शोर से चल रही हैं। OPD में 5,10,870 मरीजों का पंजीकरण हुआ है, और 15,157 सर्जरियाँ हुईं हैं। पेट्रोल उत्पादों और खाद्य-पदार्थों का भंडारण संतोषजनक है। 6 अगस्त से अब तक 42,600 से अधिक ट्रक सामान लेकर जम्मू-कश्मीर से आ-जा चुके हैं।

सभी बैंक और ATM काम कर रहे हैं और ₹108 करोड़ केवल जम्मू-कश्मीर बैंक से निकाले गए हैं। बाकी बैंकों के आँकड़े जारी होना बाकी है। इसके अलावा विभागीय सेवाओं, जैसे e-tendering, स्कॉलरशिप फॉर्म जमा करना, नौकरी के आवेदन के लिए हर जिले के मुख्यालय में 10 इंटरनेट किओस्क लगाए गए हैं। इनमें से हरेक किओस्क में 5 टर्मिनल लगे हैं। आम जनता और सैलानियों की सहूलियत के लिए 12 अतिरिक्त हवाई टिकट काउंटर स्थापित किए गए हैं।

डीजीपी दिलबाग सिंह ने यह भी जानकारी दी कि जहाँ इस दौरान सुरक्षा बलों और नागरिकों के टकराव में कोई नहीं मारा गया है, वहीं आतंकियों ने तीन आम लोगों की हत्या कर दी है। इसी दौरान सुरक्षा बलों ने भी दो आतंकियों को भी ढेर कर दिया है। उन्होंने यह भी कहा कि हाल में मारे गए लश्कर आतंकी आसिफ मकबूल भट की मौत से क्षेत्र के लोग चैन की साँस ले रहे होंगे। भट हाल ही में एक नवजात को गोलियों से ज़ख़्मी करने के मामले में ज़िम्मेदार था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

किसानों को MSP की कानूनी गारंटी देने का कॉन्ग्रेसी वादा हवा-हवाई! वायर के इंटरव्यू में खुली पार्टी की पोल: घोषणा पत्र में जगह मिली,...

कॉन्ग्रेस के पास एमएसपी की गारंटी को लेकर न कोई योजना है और न ही उसके पास कोई आँकड़ा है, जबकि राहुल गाँधी गारंटी देकर बैठे हैं।

जज की टिप्पणी ही नहीं, IMA की मंशा पर भी उठ रहे सवाल: पतंजलि पर सुप्रीम कोर्ट सख्त, ईसाई बनाने वाले पादरियों के ‘इलाज’...

यूजर्स पूछ रहे हैं कि जैसी सख्ती पतंजलि पर दिखाई जा रही है, वैसी उन ईसाई पादरियों पर क्यों नहीं, जो दावा करते हैं कि तमाम बीमारी ठीक करेंगे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe