Sunday, June 16, 2024
Homeदेश-समाज50000 से अधिक साँप पकड़े, 300 बार जहरीले साँपों ने काटा: इस बार कोबरा...

50000 से अधिक साँप पकड़े, 300 बार जहरीले साँपों ने काटा: इस बार कोबरा के डंस से ‘स्नेक मैन’ की हालत गंभीर, प्रार्थना कर रहा केरल

बताया जाता है कि वावा सुरेश अब तक 50,000 से अधिक साँपों को पकड़ चुके हैं। इससे पहले भी वावा सुरेश को कई बार साँप काट चुका है। लेकिन हर बार उन्होंने मौत को मात दे दी है। वो दो बार वेंटिलेटर तक पर रहे हैं।

इंडियन स्नेक मैन (Snake Man) के नाम से मशहूर केरल के वावा सुरेश (Vava Suresh) इस बार खुद कोबरा (Cobra) के शिकार हो गए हैं। सोमवार (31 जनवरी 2022) को केरल (Kerala) के कोट्टायम (Kottayam) जिले में एक बचाव अभियान के दौरान कोबरा ने 47 साल के वावा सुरेश को काट लिया।

वावा सुरेश साँप को पकड़कर उसे जंगल छोड़ने जा रहे थे। इसी दौरान साँप बेकाबू हो गया और उनके घुटने के ऊपर काट लिया। हालाँकि सुरेश बेहोश होने से पहले साँप को बैग के अंदर रख चुके थे। केरल के मंत्री वीएन वासवन (Minister VN Vasavan) ने बताया कि उन्हें कोट्टायम अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उनकी हालत काफी नाजुक है। उनके लिए सभी चिकित्सा सुविधाओं की व्यवस्था की गई है। डॉक्टरों का कहना है कि जब सुरेश को अस्पताल लाया गया तो वे बेहोश थे। उनकी हालत गंभीर है और उन्हें एंटी-वैनम यानी जहररोधी दवा दी जा रही है। उनके जल्द स्वस्थ होने के लिए लोग प्रार्थना कर रहे हैं।

स्वास्थ्य मंत्री वीना जॉर्ज ने सोमवार को कहा कि वावा सुरेश का मुफ्त इलाज किया जाएगा। मंत्री ने मेडिकल कॉलेज अस्पताल के अधीक्षक को भी फोन कर सुरेश के स्वास्थ्य की जानकारी ली। उन्होंने उन्हें उसके लिए विशेषज्ञ उपचार सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है। वहीं सुरेश के साथ निजी अस्पताल से MCH पहुँचे सहकारिता मंत्री वीएन वासवन ने कहा कि सरकार इलाज में हरसंभव सहयोग करेगी। अस्पताल से TOI से बात करते हुए, वसावन ने कहा कि सुरेश को आईसीयू में भर्ती कराया गया है। उन्होंने कहा कि सुरेश के हार्ट की कार्यप्रणाली सामान्य हो गई, लेकिन मस्तिष्क में रक्त का प्रवाह अभी तक सामान्य नहीं हुआ है।

साँप पकड़ने में सुरेश पूरे राज्य में काफी लोकप्रिय हैं। जैसे ही कोई खतरनाक साँप देखता है, वह सुरेश को कॉल करता है। सुरेश वहाँ हाजिर हो जाता है और साँप को पकड़कर उसे सुरक्षित जगह पर छोड़ देता है। बताया जाता है कि वावा सुरेश अब तक 50,000 से अधिक साँपों को पकड़ चुके हैं। इससे पहले भी वावा सुरेश को कई बार साँप काट चुका है। लेकिन हर बार उन्होंने मौत को मात दे दी है। वो दो बार वेंटिलेटर तक पर रहे हैं। 

बता दें कि साल 2020 में सुरेश केरल के पठानमथिट्टा में एक घातक साँप को पकड़ने की कोशिश कर रहे थे। वो साँप को पकड़ भी चुके थे। पकड़े गए साँप को देखने के लिए आसपास काफी संख्या में लोग जमा हो चुके थे। इसी दौरान खतरनाक किस्म के साँप पिट वाइपर बिट ने सुरेश को काट लिया। साँप ने सुरेश की उँगली पर काटा, उसके बाद वो बेहोश होकर गिर गए। आसपास मौजूद लोग उनको लेकर अस्पताल गए। बेहतर चिकित्सा सहायता के लिए सुरेश को उनके गृहनगर तिरुवनंतपुरम स्थित एक मेडिकल कॉलेज ले जाया गया। वहाँ उन्हें 72 घंटे तक डॉक्टरों की निगरानी में रखा गया था। अब तक उन्हें 300 से अधिक जहरीले और खतरनाक किस्म का साँप काट चुका है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

गलत वीडियो डालने वाले अब नहीं बचेंगे: संसद के अगले सत्र में ‘डिजिटल इंडिया बिल’ ला सकती है मोदी सरकार, डीपफेक पर लगाम की...

नरेंद्र मोदी सरकार आगामी संसद सत्र में डीपफेक वीडियो और यूट्यूब कंटेंट को लेकर डिजिटल इंडिया बिल के नाम से पेश किया जाएगा।

आतंकवाद का बखान, अलगाववाद को खुलेआम बढ़ावा और पाकिस्तानी प्रोपेगेंडा को बढ़ावा : पढ़ें- अरुँधति रॉय का 2010 वो भाषण, जिसकी वजह से UAPA...

अरुँधति रॉय ने इस सेमिनार में 15 मिनट लंबा भाषण दिया था, जिसमें उन्होंने भारत देश के खिलाफ जमकर जहर उगला था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -