Thursday, July 25, 2024
Homeदेश-समाजनाले से मिली थी अनु की अर्धनग्न लाश, हत्या में मुजीब रहमान गिरफ्तार: पहले...

नाले से मिली थी अनु की अर्धनग्न लाश, हत्या में मुजीब रहमान गिरफ्तार: पहले से दर्ज हैं 50+ केस, बुजुर्ग महिला से भी कर चुका है रेप

मुजीब रहमान ने चोरी की बाइक पर ​अनु को लिफ्ट दिया था। रास्ते में बाइक से उसे धक्का दे दिया। फिर जमीन पर सिर पटक कर उसकी हत्या कर दी। उसके शरीर से सारे गहने उतारने के बाद मुजीब लाश नाले में फेंक कर फरार हो गया।

केरल के कोझिकोड में 11 मार्च 2024 को अनु नाम की एक 26 वर्षीया महिला की हत्या कर दी गई थी। मृतका का अर्धनग्न शव एक नाले से मिला था। इस मामले में पुलिस ने मुजीब रहमान को गिरफ्तार किया है। आरोप है कि 48 वर्षीय मुजीब ने अनु को लिफ्ट देने के बहाने गाडी में बिठाया था और रास्ते में लूटपाट कर उसकी हत्या कर दी। पुलिस की जाँच के दौरान पता चला है कि मुजीब रहमान का बहुत बड़ा और पुराना आपरधिक रिकॉर्ड पहले से भी है। इनमें रेप और लूट जैसी वारदातें शामिल हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यह मामला कोझिकोड के वलूर क्षेत्र की है। यह इलाका पेरंबरा के पास पड़ता है। 11 मार्च को मुजीब ने अस्पताल से घर जाते हुए अनु को देखा। वह चोरी की बाइक से था और हेलमेट पहन रखा था। मुजीब ने रास्ते में अनु को लिफ्ट का ऑफर किया। पीड़िता को लगा कि मुजीब उसका पड़ोसी है और वो बाइक पर बैठ गई। रास्ते में एक सुनसान नाले के पास मुजीब ने अनु को धक्का दे कर गिरा दिया। फिर उसका सिर जमीन पर पटक हत्या कर दी।

अनु की हत्या के बाद मुजीब ने उसके सारे गहने उतार लिए। इसके बाद उसका अर्धनग्न शरीर नाले में फेंक फरार हो गया। घटना के अगले दिन 12 फरवरी को अनु का शव मिलने पर पुलिस ने जाँच पड़ताल शुरू की। जाँच के दौरान पुलिस को घटनास्थल पर CCTV फुटेज में एक लाल रंग की संदिग्ध बाइक दिखी। पुलिस ने इसी बाइक के आधार पर जाँच शुरू की और आखिरकार मुजीब रहमान को दबोच लिया। पूछताछ में उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया है।

जब मुजीब का आपराधिक इतिहास खँगाला गया तो उस पर 50 से अधिक क्रिमिनल केस पाए गए। इन अपराधों में बलात्कार और लूट जैसे केस भी शामिल हैं। बताया जा रहा है कि मुजीब ने महज 20 साल की उम्र में पहली हत्या की थी। तब उसने एक ज्वैलरी शॉप के मालिक को मार डाला था। साल 2020 में मुजीब ने केरल के ही मुक्काम के पास एक बुजुर्ग महिला से रेप किया था। कोंडोट्टी में जन्मे मुजीब रहमान के खिलाफ अकेले इसी जगह पर 13 केस दर्ज हैं। मुजीब के यौन उत्पीड़न की शिकार बुजुर्ग महिला ने इतने केस होने के बावजूद उसके जेल से आजाद होने पर हैरानी जताई है। महिला का कहना है कि अगर मुजीब को उसके किए की सजा मिली होती तो आज अनु जिन्दा होती।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

खालिस्तानी अमृतपाल के लिए संसद में पूर्व CM चन्नी की बैटिंग, सिख किसान नेताओं के साथ राहुल गाँधी की बैठक: क्या पका रही है...

बकौल चरणजीत सिंह चन्नी, अमृतपाल पर NSA लगाना 'अभिव्यक्ति की आज़ादी' के खिलाफ है। वो खालिस्तानी अमृतपाल सिंह की गिरफ़्तारी को आपातकाल बता रहे हैं।

अखलाक की मौत हर मीडिया के लिए बड़ी खबर… लेकिन मुहर्रम पर बवाल, फिर मस्जिद के भीतर तेजराम की हत्या पर चुप्पी: जानें कैसे...

बरेली में एक गाँव गौसगंज में तेजराम नाम के एक युवक की मुस्लिम भीड़ ने मॉब लिंचिंग कर दी। इलाज के दौरान तेजराम की मौत हो गई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -