Sunday, May 19, 2024
Homeदेश-समाजदिल्ली मेट्रो की दीवारों पर 'खालिस्तान ज़िंदाबाद' के नारे: जिस गुरपतवंत सिंह पन्नू की...

दिल्ली मेट्रो की दीवारों पर ‘खालिस्तान ज़िंदाबाद’ के नारे: जिस गुरपतवंत सिंह पन्नू की ‘हत्या की साजिश’ का रोना रो रहा था अमेरिका, उसी ने ली जिम्मेदारी

पंजाब में मुख्य मुकाबला राज्य की सत्ताधारी AAP (आम आदमी पार्टी), कॉन्ग्रेस, देश की दूसरी सबसे पुरानी पार्टी SAD (शिरोमणि अकाली दल) और भाजपा के बीच है।

खालिस्तानी अलगाववादी अब भी अपनी चाल से बाज नहीं आ रहे हैं। अब उन्होंने दिल्ली मेट्रो को निशाना बनाया है। दिल्ली मेट्रो में खालिस्तान के समर्थन में नारा लिख दिया गया। दिल्ली के 2 मेट्रो स्टेशनों के नीचे दीवार पर ‘खालिस्तान ज़िंदाबाद’ नारा लिखा हुआ मिला है। अभी तक कुछ पता नहीं चल सका है कि ये हरकत किसने की है, लेकिन ‘सिख फॉर जस्टिस’ (SFJ) के आतंकी गुरपतवंत सिंह पन्नू ने इसकी जिम्मेदारी ली है। वो अमेरिका में छिपा हुआ है।

लोकसभा चुनाव 2024 के 3 चरण बीत चुके हैं और चौथे चरण के लिए चुनाव प्रचार का दौर उफान पर है, ऐसे में राजनीतिक रूप से इस संवेदनशील समय में इस तरह की हरकत किए जाने के बाद सुरक्षा एजेंसियाँ चौकन्नी हो गई हैं। पंजाब में 1 जून, 2024 को 13 सीटों पर चुनाव होना है, ये सातवाँ और अंतिम चरण होगा। इसके 3 दिन बाद ही चुनाव परिणाम घोषित कर दिए जाएँगे। पंजाब में मुख्य मुकाबला राज्य की सत्ताधारी AAP (आम आदमी पार्टी), कॉन्ग्रेस, देश की दूसरी सबसे पुरानी पार्टी SAD (शिरोमणि अकाली दल) और भाजपा के बीच है।

दिल्ली पुलिस को जैसे ही खालिस्तानी नारे लिखे जाने की सूचना मिली, तुरंत टीम ने घटनास्थल के लिए कूच किया। वहाँ लिखे देश विरोधी नारों को फ़िलहाल मिटा दिया गया है। पुलिस इसकी जाँच कर रही है कि ये किन लोगों की करतूत है। इसके लिए CCTV फुटेज भी खँगाले जा रहे हैं। दिल्ली पुलिस ने FIR भी दर्ज कर ली है। सोशल मीडिया के जरिए गुरपतवंत सिंह पन्नू ने इसकी जिम्मेदारी ली है, जिसकी हत्या की साजिश रचने का झूठा आरोप अमेरिका ने भारत पर लगाया था।

रूस ने भी कहा कि अमेरिका के पास अपने दावे का समर्थन करने के लिए सबूत मौजूद नहीं हैं। हालाँकि, राष्ट्रीय राजधानी में खालिस्तानी नारे लिखे जाने का यह कोई पहला मौका नहीं है। इसी साल मार्च के महीने में पश्चिमी दिल्ली के पंजाबी बाग़ मेट्रो स्टेशन के खम्भों पर खालिस्तानी नारे लिख दिए गए थे। उस समय भी दिल्ली पुलिस ने केस दर्ज की थी। वहीं गणतंत्र दिवस के दौरान 26 जनवरी को भी उत्तम नगर में एक सरकारी स्कूल की दीवारों पर ऐसे नारे लिखे गए थे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कॉन्ग्रेस के मेनिफेस्टो में मुस्लिम’ : सिर्फ इतना लिखने पर ‘भीखू म्हात्रे’ को कर्नाटक पुलिस ने गिरफ्तार किया, बोलने की आजादी का गला घोंट...

सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर 'भीखू म्हात्रे' नाम के फिक्शनल नाम से एक्स पर अपनी राय रखते हैं। उन्होंने कॉन्ग्रेस के मेनिफेस्टो पर अपनी बात रखी थी।

जिसे वामपंथन रोमिला थापर ने ‘इस्लामी कला’ से जोड़ा, उस मंदिर को तोड़ इब्राहिम शर्की ने बनवाई थी मस्जिद: जानिए अटाला माता मंदिर लेने...

अटाला मस्जिद का निर्माण अटाला माता के मंदिर पर ही हुआ है। इसकी पुष्टि तमाम विद्वानों की पुस्तकें, मौजूदा सबूत भी करते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -