Monday, July 4, 2022
Homeदेश-समाजखून की सजा खून... बलिदानी रवि खन्ना की पत्नी ने कहा- नहीं बचेगा यासीन...

खून की सजा खून… बलिदानी रवि खन्ना की पत्नी ने कहा- नहीं बचेगा यासीन मलिक: उस समय को किया याद जब PM से हाथ मिला रहा था आतंकी

वर्ष 1990 में जम्मू-कश्मीर में भारतीय वायुसेना के 4 निहत्थे जवानों की हत्या कर दी गई थी। इनमें स्क्वाड्रन लीडर रवि खन्ना भी शामिल थे।

जम्मू-कश्मीर में टेरर फंडिंग के मामले में राष्ट्रीय जाँच एजेंसी (NIA) की स्पेशल कोर्ट ने आतंकी यासीन मलिक को दोषी करार दिया है। उसे 25 मई को सजा सुनाई जाएगी। मलिक को दोषी करार दिए जाने के बाद बलिदानी स्क्वाड्रन लीडर रवि खन्ना की पत्नी निर्मल खन्ना की प्रतिक्रिया सामने आई है। रवि खन्ना की हत्या मलिक के आतंकी साथियों ने कर दी थी।

निर्मल खन्ना ने कहा है, “स्क्वाड्रन लीडर रवि खन्ना का खून इसका पीछा कर रहा है। ये उस केस में भी नहीं बचेगा। खून की सजा खून, मौत की सजा मौत। मैं इंतजार कर रही हूँ। हमें इंसाफ जरूर मिलेगा।”

उन्होंने कहा, “अगर यहाँ तक इंसाफ हुआ है, तो उसमें भी होगा। ये स्क्वाड्रन लीडर रवि खन्ना का खूनी है। यासीन मलिक ने तो बड़ी सफाई से हाथ धोके, सोचा था कि मैं तो इतने गुनाह करके भी बच गया। कभी प्रधानमंत्री उससे हाथ मिला रहा है। कभी दिल्ली की एक डॉक्टर, जो कौल है उससे हाथ मिला रही हैं। क्या उन्हें नहीं पता उसके बारे में, जबकि वह भी कश्मीरी पंडित हैं। उन्होंने उसे अपने घर में बुलाकर दावतें दीं। इनको शादी की मुबारकबाद दीं। कैसे कलेजे हैं इन लोगों के। मेरे घर का बच्चा अगर खराब निकले तो… ये मदर इंडिया है ना, जो खुद अपने बच्चे के सीने में गोली आर-पार कर देती है। मैं उसी की बेटी हूँ। मैं सच कह रही हूँ आपसे। अहिल्याबाई होलकर के बारे में आपको पता होगा, जिसके बच्चे ने गाय के बच्चे को मार दिया था। वो अपने बेटे को मारने चली गई थी, लेकिन उस गाय ने आगे आकर उसे बचा लिया था। ये वो देश है। हर कोई अपने बच्चे को नेक राह पर चलाए। उनके अच्छे भविष्य की कामना करे।”

गौरतलब है कि वर्ष 1990 में जम्मू-कश्मीर में भारतीय वायुसेना के 4 निहत्थे जवानों की हत्या कर दी गई थी। इनमें स्क्वाड्रन लीडर रवि खन्ना भी शामिल थे। जिन आतंकियों ने जवानों की हत्या की थी, वे यासीन मलिक द्वारा संचालित आतंकी संगठन के सदस्य थे। यह घटना जनवरी 25 1990 को हुई थी।

स्क्वाड्रन लीडर रवि खन्ना की पत्नी निर्मल खन्ना अपने पति के हत्यारों को सज़ा दिलाने के लिए लड़ रही हैं। भारतीय वायुसेना के इन जवानों की हत्या तब की गई थी, जब उनके पास कोई भी हथियार नहीं था। वे एयरपोर्ट जाने के लिए बस का इन्तजार कर रहे थे। वहाँ भारतीय वायुसेना के 14 जवान थे। तभी अचानक से एक मारुति जिप्सी और एक बाइक से 5 आतंकी पहुँचे और इससे पहले कि कोई कुछ समझ पाता, उन्होंने एके-47 से ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। जवानों के अलावा 2 कश्मीरी महिलाओं की भी हत्या कर दी गई, जो बस का इंतजार कर रही थीं। आतंकियों ने ख़ून से लथपथ जवानों के सामने डांस करते हुए जिहादी नारे भी लगाए थे।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

AG के पास पहुँचा TMC वाला साकेत गोखले, हमारे खिलाफ चलाना चाहता है अदालत की अवमानना का मामला: हम अपने शब्दों पर अब भी...

ऑपइंडिया की एडिटर नुपूर शर्मा के लेख की शिकायत लेकर टीएमसी नेता साकेत गोखले अटॉर्नी जनरल के पास गए हैं ताकि अदालत की अवमानना का केस चलवा सकें।

‘शौच करने गई थी, मोहम्मद जाकिर हुसैन सर पीछे-पीछे आ गए’: मिडिल स्कूल में शिक्षक ने नाबालिग छात्रा से की छेड़खानी, हुआ गिरफ्तार

बिहार के सुपौल में शिक्षक जाकिर हुसैन ने 7वीं कक्षा की लड़की के साथ छेड़छाड़ किया। परिजनों ने थाने में दर्ज कराया मामला। आरोपित गिरफ्तार।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
203,064FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe