Sunday, April 21, 2024
Homeदेश-समाजजब जाकिर वोट कर सकता है तो आप क्यों नहीं?

जब जाकिर वोट कर सकता है तो आप क्यों नहीं?

पाशा जब मतदान स्थल पर पहुँचे तो वहाँ मतदानकर्मी भी उन्हें देखकर हैरान रह गए। पाशा ने बिना किसी की मदद लिए दाहिने पैर से पेन पकड़कर सभी औपचारिकताएँ (हस्ताक्षर आदि) पूरी की।

लोकसभा चुनाव प्रगति पर हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस बार जनता में मतदान के प्रति जागरूकता बढ़ाने के लिए खूब प्रयास किए हैं। शायद इन्हीं प्रयासों का नतीजा है कि जाकिर जैसे उदाहरण हमें देखने को मिले हैं। लोकतंत्र के सबसे बड़े पर्व चुनाव में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए हर बार कुछ ऐसे लोग सामने आते हैं, जो ना सिर्फ हमें प्रेरणा देते हैं बल्कि उन पर हमें गर्व भी होता है।

इस बार के चुनाव में भी ऐसे कुछ लोगों ने मतदान में हिस्सा लेकर हमें लोकतंत्र में वोट के महत्व को बखूबी समझाया है। ऐसे ही एक वोटर तेलंगाना के आदिलाबाद निर्वाचन क्षेत्र में दिखे। दोनों हाथ ना होने के बावजूद 25 वर्ष के जाकिर पाशा पैर से मतदान करते हुए नजर आए।

तेलंगाना में, जहाँ कि चुनावों में वोटरों की उदासीनता अक्सर देखने को मिलती है, 25 साल के जाकिर की एक तस्वीर सामने रखी है। मतदान स्थल पर पहुँचे जाकिर पाशा को जिसने भी पैर से मतदान करते देखा, उनकी प्रशंसा किए बिना नहीं रह सकता। इस फोटो के वायरल होते ही सोशल मीडिया पर जाकिर लोगों के हीरो बन गए। सोशल मीडिया पर लोगों ने उनके जोश को सलाम करते हुए उनकी जमकर तारीफ की है।

पाशा जब मतदान स्थल पर पहुँचे तो वहाँ मतदानकर्मी भी उन्हें देखकर हैरान रह गए। पाशा ने बिना किसी की मदद लिए दाहिने पैर से पेन पकड़कर सभी औपचारिकताएँ (हस्ताक्षर आदि) पूरी की। इसके बाद बाएँ पैर के अंगूठे पर चुनाव निशान लगवाकर उसी के सहारे EVM से वोट भी डाला।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मुस्लिमों के लिए आरक्षण माँग रही हैं माधवी लता’: News24 ने चलाई खबर, BJP प्रत्याशी ने खोली पोल तो डिलीट कर माँगी माफ़ी

"अरब, सैयद और शिया मुस्लिमों को आरक्षण का लाभ नहीं मिलता है। हम तो सभी मुस्लिमों के लिए रिजर्वेशन माँग रहे हैं।" - माधवी लता का बयान फर्जी, News24 ने डिलीट की फेक खबर।

रावण का वीडियो देखा, अब पढ़िए चैट्स (वायरल और डिलीटेड): वाल्मीकि समाज की जिस बेटी ने UN में रखा भारत का पक्ष, कैसे दिया...

रोहिणी घावरी ने बताया था कि उनकी हँसती-खेलती ज़िंदगी में आकर एक व्यक्ति ने रात-रात भर अपने तकलीफ-संघर्ष की कहानियाँ सुनाई और ये एहसास कराया कि उसे कभी प्यार नहीं मिला।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe