Sunday, October 17, 2021
Homeदेश-समाजहरियाणा में निजामुद्दीन मरकज़ के मुखिया मौलाना साद के छिपे होने के मिले संकेत,...

हरियाणा में निजामुद्दीन मरकज़ के मुखिया मौलाना साद के छिपे होने के मिले संकेत, केंद्रीय मंत्री अनिल विज का दावा- ढूँढ निकालेंगे 2 दिन में

मौलाना साद के हरियाणा में होने की जानकारी सामने आते ही सुरक्षा एजेंसियाँ और पुलिस टीम बना कर नूँह के तमाम इलाकों को खंगाल रही हैं। इसके साथ ही कई मस्जिदों में भी मौलाना साद की तलाश की जा रही है।

दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित मरकज़ का मुखिया मौलाना साद अब जल्द पुलिस के हत्थे चढ़ सकता है। उसके होने के संकेत हरियाणा में मिले हैं। तबलीगी जमात का मामला उजागर होने के बाद से ही वह फरार है। पुलिस ने उसके ख़िलाफ़ नोटिस जारी किया हुआ है। मगर, उसका कहना है कि उसने खुद को क्वारंटाइन किया हुआ है। लेकिन कहाँ? इसके बारे किसी को कोई जानकारी नहीं हैं। 

मीडिया रिपोर्ट्स में इस समय खूफिया एजेंसियों के सूत्रों का हवाला देकर बताया जा रहा है कि हरियाणा सरकार ने साद की लोकेशन ट्रेस कर ली है और उसे पकड़ने के लिए एक टीम का गठन भी कर लिया गया है। इसके अलावा सुरक्षा एजेंसियाँ मौलाना साद को पकड़ने के लिए ट्रैप भी लगा रही हैं। 

हरियाणा सरकार द्वारा गठित टीम में कौन-कौन है एवं किसके निर्देशन में यह टीम कैसे काम करेगी, फिलहाल इस बारे में कोई जानकारी सामने नहीं आई है। किंतु, हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने दावा किया है कि अगर मौलाना साद हरियाणा में हुआ तो उसे दो दिन के भीतर पकड़ लिया जाएगा।

हरियाणा के गृह मंत्री ने इस बात की पुष्टि की है कि मौलाना साद के संबंध में उन्हें सूचनाएँ मिली हैं। उनका कहना है कि मौलाना साद नूंह इलाके में कहीं छिपा हुआ है, लेकिन उनकी खुफिया एजेंसियाँ अभी तक किसी ठोस नतीजे पर नहीं पहुँची हैं। उनकी इंटेलीजेंस को ये भी संदेह है कि वह उत्तर प्रदेश में कहीं छिपा हुआ है, लेकिन यदि साद ने हरियाणा को अपने छिपने का ठिकाना बना रखा है तो ऐसी सूचनाओं को सरकार किसी सूरत में नजर अंदाज नहीं करेगी और जल्द से जल्द उसे गिरफ्तार करेगी। इसलिए टीम का गठन किया जा चुका है।

यहाँ बता दें कि मौलाना साद के हरियाणा में होने की जानकारी सामने आते ही सुरक्षा एजेंसियाँ और पुलिस टीम बना कर नूँह के तमाम इलाकों को खंगाल रही हैं। इसके साथ ही कई मस्जिदों में भी मौलाना साद की तलाश की जा रही है। हालाँकि, केंद्रीय जाँच एजेंसियों ने अभी तक हरियाणा से संपर्क नहीं किया है लेकिन माना जा रहा है कि वे भी जल्द ही हरियाणा सरकार से संपर्क करेंगी।

गौरतलब है कि मजहब का हवाला देकर कोरोना के कहर को नजरअंदाज करने के लिए एक पूरी भीड़ को उकसाने वाला मौलाना साद कई दिनों से फरार है। उसके अनुयाई उसकी जान बचाने के लिए फेक न्यूज फैला रहे हैं और उसे एक महान व्यक्तित्व बताने का प्रयास कर रहे हैं। मगर, इसी बीच प्रशासन उसे जल्द से जल्द ढूँढने की कोशिशों में लगी है। अभी कुछ दिन पहले दिल्ली पुलिस ने मौलाना समेत 7 लोगों को नोटिस जारी किया है। इसमें इन सभी से 26 सवालों के जवाब मॉंगे गए हैं। 

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘और गिरफ़्तारी की बात मत करो, वरना सरेंडर करने वाले साथियों को भी छुड़ा लेंगे’: निहंगों की पुलिस को धमकी, दलित लखबीर को बताया...

दलित लखबीर की हत्या पर निहंग बाबा राजा राम सिंह ने कहा कि हमारे साथियों को मजबूरन सज़ा देनी पड़ी, क्योंकि किसी ने कोई कार्रवाई नहीं की।

CPI(M) सरकार ने महादेव मंदिर पर जमाया कब्ज़ा, ताला तोड़ घुसी पुलिस: केरल में हिन्दुओं का प्रदर्शन, कइयों ने की आत्मदाह की कोशिश

श्रद्धालुओं के भारी विरोध के बावजूद केरल की CPI(M) सरकार ने कन्नूर में स्थित मत्तनूर महादेव मंदिर का नियंत्रण अपने हाथ में ले लिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,325FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe