Friday, July 19, 2024
Homeदेश-समाजपरिवार को ठुकराकर मुस्लिम लड़की से लव मैरिज, इस्लाम कबूलने का इतना डाला दबाव...

परिवार को ठुकराकर मुस्लिम लड़की से लव मैरिज, इस्लाम कबूलने का इतना डाला दबाव कि फाँसी पर झूल गया दुष्यंत

दुष्यंत के भाई ने आरोप लगाया है कि शादी के बाद से ही फरहा के घर वाले इस्लाम कबूल कर मुस्लिम बन जाने का दबाव बना रहे थे। इस बात से दुष्यंत काफी परेशान था।

उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में धर्मांतरण के दबाव के चलते एक व्यक्ति ने अपने ही घर में फाँसी लगाकर आत्महत्या की खबर है। मृतक का नाम दुष्यंत चौधरी है। उसने करीब तीन साल पहले फरहा नाम की एक मुस्लिम युवती से परिवार की मर्जी के खिलाफ लव मैरिज की थी।

बताया जा रहा है कि शादी के बाद से ही ससुराल वाले दुष्यंत पर इस्लाम कबूलने का दबाव बना रहे थे। फरहा भी इसमें शामिल बताई जा रही है। वह दुष्यंत को छोड़कर मायके चली गई थी। यह भी दावा किया जा रहा है कि दुष्यंत ने इस्लाम कबूल कर लिया था। घटना रविवार (29 जनवरी 2023) की है। मेरठ पुलिस मामले की जाँच में जुटी है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक घटना नौचंदी थानाक्षेत्र की है। यहाँ के चित्रकूट कॉलोनी में रहने वाले 23 साल के दुष्यंत चौधरी ने लगभग 3 साल पहले मेरठ की फरहा से शादी की थी। इस शादी से दोनों को एक बेटा भी है। दुष्यंत के भाई जॉनी ने आरोप लगाया है कि शादी के बाद से ही फरहा के घर वाले लगातार उसके भाई पर इस्लाम कबूल कर मुस्लिम बन जाने का दबाव बना रहे थे। इस बात से दुष्यंत काफी परेशान था। दबाव बनाने के फरहा कुछ समय पहले अपने मायके चली गई थी।

मृतक के परिजनों के मुताबिक फरहा के जाने के बाद दुष्यंत काफी परेशान रहने लगा था। वह लगातार अपनी ससुराल में फरहा को भेजने की मिन्नत कर रहा था। इधर फरहा के परिजन दुष्यंत पर लगातार इस्लाम कबूलने का दवाब बना रहे थे। मृतक के भाई के मुताबिक दुष्यंत ने मौत से पहले अंतिम कॉल बीवी फरहा को ही की थी। कॉल डिटेल में दोनों के बीच लगभग 40 मिनट तक बातचीत होने का दावा किया जा रहा है। ऑपइंडिया के पास FIR कॉपी मौजूद है। दुष्यंत के ताऊ के बेटे जॉनी ने पुलिस में तहरीर दे कर फरहा, उसके अब्बा हनीफ, भाई अमजद इब्राहिम, अम्मी और बहनों सहित 7-8 लोगों के खिलाफ नामजद तहरीर दी है।

ऑपइंडिया से बात करते हुए DSP सिविल लाइन्स अरविन्द चौरसिया ने बताया कि आरोपितों के खिलाफ IPC 306 के तहत केस दर्ज किया गया है। मामले में जाँच चल रही है और निष्पक्ष कार्रवाई की जाएगी।

बन चुकी थी फैज़ कुरैशी नाम से प्रोफ़ाइल

इस मामले में मेरठ पुलिस ने थाना नौचंदी को जरूरी कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। दैनिक भास्कर के मुताबिक फरहा मृतक दुष्यंत की बहन राखी चौधरी के साथ स्कूल में पढ़ती थी। राखी ने कई बार अपने भाई को फरहा से रिश्ता रखने के लिए रोका। राखी के मुताबिक फरहा अच्छी लड़की नहीं थी। हालाँकि दुष्यंत के अपनी बहन की बात नहीं मानी। दावा इस बात का भी किया जा रहा है कि दुष्यंत की एक फेसबुक प्रोफ़ाइल फैज़ कुरैशी नाम से भी बनाई गई थी। हालाँकि ये प्रोफ़ाइल खुद दुष्यंत ने बनाई थी या किसी और ने यह अभी साफ नहीं हो पाया है। वहीं मृतक की माँ का कहना है कि फरहा के घर वालों ने उनके बेटे का 3 साल पहले ही देवबंद में धर्मान्तरण करवा दिया था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

फैक्ट चेक’ की आड़ लेकर भारत में ‘प्रोपेगेंडा’ फैलाने की तैयारी कर रहा अमेरिका, 1.67 करोड़ रुपए ‘फूँक’ तैयार कर रहा ‘सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर्स’...

अमेरिका कथित 'फैक्ट चेकर्स' की फौज को तैयार करने की योजना को चतुराई से 'डिजिटल लिटरेसी' का नाम दे रहा है, लेकिन इनका काम होगा भारत में अमेरिकी नरेटिव को बढ़ावा देना।

मुस्लिम फल विक्रेताओं एवं काँवड़ियों वाले विवाद में ‘थूक’ व ‘हलाल’ के अलावा एक और पहलू: समझिए सच्चर कमिटी की रिपोर्ट और असंगठित क्षेत्र...

काँवड़ियों के पास ये विकल्प क्यों नहीं होना चाहिए, अगर वो सिर्फ हिन्दू विक्रेताओं से ही सामान खरीदना चाहते हैं तो? मुस्लिम भी तो लेते हैं हलाल?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -