Sunday, May 19, 2024
Homeराजनीतिदारू घोटाला केस में मनीष सिसोदिया को फिर नहीं मिली राहत, शराब कारोबारी विजय...

दारू घोटाला केस में मनीष सिसोदिया को फिर नहीं मिली राहत, शराब कारोबारी विजय नायर के साथ 8 मई तक बढ़ी न्यायिक हिरासत

राउज एवेन्यू कोर्ट ने शराब घोटाला मामले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग केस में आप नेता मनीष सिसोदिया, विजय नायर और अन्य आरोपितों की न्यायिक हिरासत 8 मई, 2024 तक बढ़ा दी है।

दिल्ली शराब घोटाला केस में तिहाड़ जेल में बंद आप नेता मनीष सिसोदिया को फिर राहत नहीं मिली है। दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट ने शराब घोटाला मामले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग केस में आप नेता मनीष सिसोदिया, विजय नायर और अन्य आरोपितों की न्यायिक हिरासत 8 मई, 2024 तक बढ़ा दी है। मनीष सिसोदिया को ईडी के साथ ही सीबीआई ने भी गिरफ्तार किया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, राउज एवेन्यू कोर्ट में सुनवाई के दौरान प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने जवाब दाखिल करने के लिए समय माँगा था। इस पर कोर्ट ने ईडी को 8 मई तक का समय दिया। कोर्ट ने कहा कि दस्तावेजों के निरीक्षण को लेकर ईडी 8 मई दोपहर 12 बजे तक अपना जवाब दाखिल कर सकती है। मनीष सिसोदिया को पिछले साल 26 फरवरी को गिरफ्तार किया गया था। सीबीआई की गिरफ्तारी के बाद से ही सिसोदिया दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद हैं।

सीबीआई की हिरासत 7 मई तक

बता दें कि इस मामले में मनीष सिसोदिया को सीबीआई ने भी गिरफ्तार किया है। अभी सीबीआई के पास 7 मई तक की हिरासत है। बुधवार (24 अप्रैल 2024) को सीबीआई ने उन्हें कोर्ट में पेश कर हिरासत बढ़ाने की माँग की थी, जिसे कोर्ट ने 7 मई तक बढ़ा दी थी। बता दें कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी अभी तिहाड़ जेल में बंद हैं। कोर्ट ने उनकी भी कस्टडी बढ़ा दी है। इस मामले में बीआरएस की एमएलसी के कविता भी जेल में बंद हैं, उन्हें ईडी ने हैदराबाद से गिरफ्तार किया था।

गौरतलब है कि दिल्ली शराब घोटाला केस में ईडी का आरोप है कि दिल्ली आबकारी नीति को संशोधित करते समय अनियमितताएं बरती गईं, लाइसेंस धारकों को अनुचित लाभ दिया गया, लाइसेंस शुल्क माफ कर दिया गया या कम कर दिया गया और सक्षम प्राधिकारी की मंजूरी के बिना लाइसेंस दिए गए। इस मामले में मनी ट्रेल भी सामने आ चुकी है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कॉन्ग्रेस के मेनिफेस्टो में मुस्लिम’ : सिर्फ इतना लिखने पर ‘भीखू म्हात्रे’ को कर्नाटक पुलिस ने गिरफ्तार किया, बोलने की आजादी का गला घोंट...

सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर 'भीखू म्हात्रे' नाम के फिक्शनल नाम से एक्स पर अपनी राय रखते हैं। उन्होंने कॉन्ग्रेस के मेनिफेस्टो पर अपनी बात रखी थी।

जिसे वामपंथन रोमिला थापर ने ‘इस्लामी कला’ से जोड़ा, उस मंदिर को तोड़ इब्राहिम शर्की ने बनवाई थी मस्जिद: जानिए अटाला माता मंदिर लेने...

अटाला मस्जिद का निर्माण अटाला माता के मंदिर पर ही हुआ है। इसकी पुष्टि तमाम विद्वानों की पुस्तकें, मौजूदा सबूत भी करते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -