भीख का कटोरा लेकर घूमने वाले पाक के लिए सेना को समय, स्थान, योजना तय करने की पूरी छूटः मोदी

PM मोदी ने कहा कि आज दुनिया पाकिस्तान के असली चरित्र को महसूस कर रही है। दुनिया जान रही है कि पाकिस्तान आतंकवाद का पोषण करता है, यही कारण है कि तमाम देश उसे अलग-थलग कर रहे हैं।

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ क़ाफ़िले पर कल (14 फ़रवरी 2019) हुए आतंकी हमले को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तान की भूमिका को लेकर जमकर हमला बोला। पीएम ने कहा कि आतंकवाद को जारी रखने वाला पाकिस्तान एक विफल राष्ट्र है। पीएम ने जैश-ए-मोहम्मद द्वारा किए गए भीषण हमले में सीआरपीएफ के 40 जवानों के शहीद होने पर दुख व्यक्त किया।

प्रधानमंत्री ने कहा है कि पाकिस्तान आर्थिक संकट से गुजर रहा है। उसके लिए रोजमर्रा का ख़र्चा तक चलाना मुश्किल हो गया है, वह दुनिया में भीख का कटोरा लेकर घूम रहा है। उन्होंने कहा कि आज दुनिया उसके असली चरित्र को महसूस कर रही है। दुनिया जान रही है कि पाकिस्तान आतंकवाद का पोषण करता है, यही कारण है कि तमाम देश उसे अलग-थलग कर रहे हैं।

पीएम ने कहा कि कहा कि भारत ने विकास का रास्ता अपनाया है और दुनिया भर के सामने उल्लेखनीय वृद्धि की। आज कई देश भारत के साथ जुड़े रहना चाहते हैं। लेकिन पाकिस्तान सिर्फ़ आतंकियों को पनाह देकर उन्हें पोषित करता है। पीएम ने कहा कि पुलवामा में आतंकियों ने जो कायरता दिखाई है उसका अंजाम उन्हें भुगतना पड़ेगा, इनसे पूरा हिसाब लिया जाएगा।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

पीएम ने कहा कि सुरक्षा बलों को आगे की कार्रवाई, समय, स्थान और योजना तय करने की पूरी इजाज़त दी गई है। उन्होंने कहा कि हमारे सैनिकों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा, “हर नुकसान का हिसाब पाकिस्तान को देना पड़ेगा, उसे इसके लिए बड़ी कीमत चुकानी होगी।”

‘झांसी की रानी ने मातृभूमि की रक्षा के लिए लोगों को प्रेरित किया’

प्रधानमंत्री ने झांसी की रानी- मणिकर्णिका की वीरता को नमन करते हुए कहा कि झांसी की धरती ने भारतीयों को अपनी मातृभूमि की रक्षा करने के लिए प्रेरित किया है। उन्होंने कहा कि मणिकर्णिका ने 1857 के विद्रोह में भारतीयों में स्वतंत्रता की भावना को जाग्रत किया था। पीएम ने कहा कि मैं धन्य हूँ जो उस वाराणसी की सेवा करने का अवसर पाया हूँ, जहाँ रानी लक्ष्मी बाई का जन्म हुआ।

झांसी को ₹20 हजार करोड़ की सौगात

प्रधानमंत्री मोदी ने इस मौके पर ₹20,000 करोड़ की विभिन्न विकास परियोजनाओं का शिलान्यास भी किया। पीएम ने ₹9,000 करोड़ की पाइपलाइन परियोजना के बारे में बताते हुए कहा कि यह परियोजना न केवल झाँसी के निवासियों के लिए बल्कि आसपास के गाँवों में रहने वाले लोगों को जल संकट से मुक्ति प्रदान करेगी। उन्होंने कहा, “यह केवल एक पाइपलाइन परियोजना नहीं होगी, यह बुंदेलखंड क्षेत्र की लाइफलाइन होगी।”

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

चीफ़ जस्टिस रंजन गोगोई (बार एन्ड बेच से साभार)
"पारदर्शिता से न्यायिक स्वतंत्रता कमज़ोर नहीं होती। न्यायिक स्वतंत्रता जवाबदेही के साथ ही चलती है। यह जनहित में है कि बातें बाहर आएँ।"

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

112,346फैंसलाइक करें
22,269फॉलोवर्सफॉलो करें
116,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: