Thursday, September 29, 2022
Homeदेश-समाज'प्रधान पति असदुल्ला ने पीटा, फाड़ डाले कपड़े': मुरादाबाद में दलित परिवार ने किया...

‘प्रधान पति असदुल्ला ने पीटा, फाड़ डाले कपड़े’: मुरादाबाद में दलित परिवार ने किया पलायन का ऐलान, कहा – हमें छोड़ कर गाँव में सभी मुस्लिम

राजेन्द्र ने हाथ जोड़ कर निवेदन किया है कि उसे इन 'दरिंदों' से बचाया जाए, नहीं तो वे उसे भी उसकी माँ की तरह मार डालेंगे।

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद जिले में एक दलित परिवार ने आरोप लगाया है कि मुस्लिम ग्राम प्रधान पति और उनके लड़के उन्हें गाँव से निकाल देना चाहते हैं। उन्हें दलित कहकर बार-बार प्रताड़ित किया जाता है। पीड़ित का नाम राजेन्द्र है। उसका वीडियो भी सामने आया है, जिसमें वह अपनी आपबीती बता रहे हैं।

वीडियो में पीड़ित ने बताया, “गाँव में मैं और मेरा भाई नरेश रहते हैं। मैं गाँव में किसी काम से बाहर गया हुआ था, जब मैं वापस आया तो प्रधान के लड़कों ने मुझ पर हमला किया।” वह अपने जख्म दिखाते हुए कहता है, “देखो उन लोगों ने मुझे कितना मारा, मेरे कपड़े भी फाड़ दिए। ये सारे मुस्लिम हमें भगाना चाहते हैं और हमारे घर पर कब्जा करना चाहते हैं।” राजेन्द्र ने हाथ जोड़ कर निवेदन किया है कि उसे इन ‘दरिंदों’ से बचाया जाए, नहीं तो वे उसे भी उसकी माँ की तरह मार डालेंगे।

उसने बताया, “इन लोगों ने 2009 में मेरी माँ की हत्या की थी। ऐसे ही ये अब हमें मारना चाहते हैं और इस गाँव से भगाना चाहते हैं। इस गाँव में हमें छोड़कर सभी मुस्लिम परिवार रहते हैं। ये हमें यहाँ नहीं रहने देंगे। थाने में भी शिकायत की लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई।” इस मामले में थाना कुन्दारी में 11 सितंबर 2022 को शिकायत भी दर्ज कराई गई थी। इस शिकायत की कॉपी ऑपइंडिया के पास मौजूद है।

शिकायतकर्ता ने पुलिस को बताया कि वह बाइक से 11 सितंबर को अपने गाँव पहुँचा तो दोपहर करीब 2 बजे पुरानी रंजिश को लेकर असदुल्ला और उसके लड़कों ने मुझे पीटा और गालियाँ दीं। यह सब देखकर जब मेरी बहन अनीता मुझे बचाने आई, तो उन लोगों ने उसके साथ भी गाली-गलौच की और उसको धक्का मारा।

फोटो साभार: दैनिक जागरण

बता दें कि इससे पहले जुलाई 2022 में ग्राम प्रधान पति असदुल्ला ने खुलेआम दबंगई दिखाई थी। उन्होंने दलित भाइयों के घर को तोड़कर उसमें ताला जड़ दिया था। उसने हिंदुओं को गाँव से भगाने की धमकी दी थी। दोनों भाई घटना के वक्त मजदूरी करने गए हुए था। प्रधान पति का कहना था कि अपनी बहन के मकान पर दोनों भाइयों ने कब्जा कर रखा था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘सरकारी अधिकारी से लेकर PHD होल्डर, लाइब्रेरियन से लेकर तकनीशियन तक’: PFI में शामिल थे कई नामी लोग; ट्विटर ने अकॉउंट बंद किया, वेबसाइट...

प्रतिबंधित PFI के शीर्ष पदों को पूर्व सरकारी कर्मचारी, लाइब्रेरियन और पीएचडी होल्डर संभाल रहे थे। अब इसके सोशल मीडिया अकॉउंट बंद हो गए हैं।

दीपक त्यागी की सिर कटी लाश, हत्या पशुओं की गर्दन काटने वाले छूरे से: ‘दूसरे समुदाय की लड़की से प्रेम’ एंगल को जाँच रही...

मेरठ में दीपक त्यागी की गला काट कर हत्या। मृतक का दूसरे समुदाय की एक लड़की (हेयर ड्रेसर की बेटी) से प्रेम प्रसंग चल रहा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
225,030FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe