Friday, December 3, 2021
Homeदेश-समाजमुख्तार अंसारी को UP की जेल में अब आँखों की दिक्कत, पहले था गले...

मुख्तार अंसारी को UP की जेल में अब आँखों की दिक्कत, पहले था गले में दर्द: डॉक्टरों को बता रहे हर दिन नई बीमारी

दो दिन पहले उन्होंने गले में दर्द की शिकायत की थी। अब आँखों से धुँधला दिखाई देने की दिक्कत बताई। नेत्ररोग विशेषज्ञ को बुला कर उनकी आँखों की जाँच कराई गई और...

यूपी की बाँदा जेल में बंद बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी डॉक्टरों को रोजाना नई बीमारी बता रहे हैं। अब उन्होंने बताया है कि आँखों से धुँधला दिख रहा है। इस पर डॉक्टरों ने कहा कि उन्हें कोई दिक्कत नहीं है, सिर्फ चश्मा बदला जाना है। वहीं दो दिन पहले भी उन्होंने गले में दर्द की शिकायत की थी। इसके बाद डॉक्टरों की एक टीम ने उनकी मेडिकल जाँच की थी, जिसमें उन्होंने बताया था कि उन्हें स्वास्थ्य संबंधी कोई समस्या नहीं है।

बताया जा रहा है कि मुख्तार अंसारी ने शनिवार को आँखों से धुँधला दिखाई देने की दिक्कत बताई थी। इस पर नेत्ररोग विशेषज्ञ को बुला कर उनकी आँखों की जाँच कराई गई थी। डॉक्टरों का कहना है कि उन्हें पास की वस्तुएँ धुँधली दिखाई दे रही हैं। इस पर उन्हें नया चश्मा बनवाने की सलाह दी गई।

वहीं, उत्तर प्रदेश की पुलिस व स्पेशल टास्क फोर्स बाहुबली विधायक से जुड़े सभी कनेक्शन खंगालने में जुट गई है। इसी क्रम में लखनऊ एसटीएफ की टीम ने स्थानीय कोतवाली अन्तर्गत नगर के निवासी व अंसारी के करीबी जियाउल्लाह के घर रविवार की दोपहर करीब 12 बजे छापेमारी। इसके बाद स्पेशल टास्क फोर्स की टीम परिजनों से मुख्तार अंसारी से कनेक्शन के बारे में पूछताछ करने के बाद वापस लौट गई। 

रिपोर्ट्स के मुताबिक, मुख्तार अंसारी के आने के बाद से बाँदा जेल की सुरक्षा और बढ़ा दी गई है। अब हर समय बाउंड्री गेट पर पीएसी का पहरा रहता है। यहाँ एक SI और 6 सिपाही तैनात रहते हैं। पहले एक वार्डेन और तीन होमगार्ड की तैनाती रहती थी।

शनिवार को बाँदा जेल में मुख्तार अंसारी के कुछ करीबी उनसे मिलने पहुँचे थे, जिन्हें प्रशासन ने मिलवाने से इनकार कर दिया था। अधिकारियों ने कहा कि बाउंड्री गेट से लेकर अंदर तक सीसीटीवी कैमरे लगे हैं, हर आने-जानेवाले की निगरानी हो रही है।

गौरतलब है कि मुख्तार अंसारी बुधवार (अप्रैल 7, 2021) सुबह करीब 4.30 बजे कड़ी सुरक्षा के बीच बाँदा जेल लाए गए थे। बाहुबली विधायक के उत्तर प्रदेश पहुँचते ही उन पर शिकंजा कसना शुरू हो गया है। योगी सरकार जल्द ही मुख्‍तार अंसारी की विधानसभा की सदस्यता को खत्म करने की कार्रवाई भी शुरू हो सकती है।

नियम है कि अगर कोई विधानसभा सदस्य विधानसभा की कार्यवाही में शामिल होने से 60 दिन तक अनुपस्थित रहता है तो आर्टिकल 190 के तहत उसकी सदस्यता खत्म हो सकती है। आर्टिकल 190 के अलावा मुख्तार के खिलाफ दर्ज आपराधिक मामलों को भी सदस्यता खत्म करने का आधार यूपी सरकार बनाएगी।

वहीं मुख्तार अंसारी के वकील के मुताबिक इस मामले में अगली सुनवाई 22 अप्रैल को होगी। उन्होंने कहा कि मुख्तार अंसारी से जुड़ा ये पूरा मामला प्रयागराज की एमपी-एमएलए कोर्ट में भी स्थानांतरित किया जाएगा।

बता दें कि माफिया मुख्तार अंसारी पर 47 से अधिक आपराधिक मामले दर्ज हैं। लेकिन वह पंजाब में अपने स्वास्थ्य का हवाला देते हुए काफी दिनों से वहाँ की रोपड़ जेल में बंद थे।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘403 में कम से कम 325 सीटों पर जीतेगी बीजेपी’: सीएम योगी ने की भविष्यवाणी, कहा- मोदी सरकार ने किसानों को दिया उनका हक

"आगामी विधानसभा चुनावों में बीजेपी 403 सीटों में से कम से कम 325 सीटों पर जीत दर्ज करेगी। इसको लेकर किसी को भी जरा भी संदेह नहीं होना चाहिए।"

दलित महिला को अगवा कर शाह आलम ने कराया धर्मांतरण, बेटे की हत्या की धमकी दे करता रहा रेप: पीड़िता ने कहा- कई लड़कियों...

बिहार के कटिहार की दलित महिला ने बताया कि मोहम्मद शाह आलम ने एक कागज पर जबरन हस्ताक्षर करा कर उसका धर्म परिवर्तन करा दिया और फातिमा बना दिया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
141,233FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe