Saturday, May 18, 2024
Homeदेश-समाजरवि किशन की नहीं होगी DNA जाँच, मुंबई कोर्ट ने खारिज की याचिका: खुद...

रवि किशन की नहीं होगी DNA जाँच, मुंबई कोर्ट ने खारिज की याचिका: खुद को बेटी बताने वाली एक्ट्रेस को झटका, FIR भी दर्ज

खुद को रवि किशन की बेटी बताने वाली शिनोवा ने डीएनए टेस्ट की माँग की थी, लेकिन अदालत ने शिनोवा की याचिका खारिज कर दी है।

मशहूर अभिनेता और गोरखपुर से सांसद रवि किशन को कोर्ट से बड़ी राहत मिली है। खुद को रवि किशन की बेटी बताने वाली शिनोवा ने डीएनए टेस्ट की माँग की थी, लेकिन अदालत ने शिनोवा की याचिका खारिज कर दी है। शिनोवा ने मुंबई की डिंडोशी कोर्ट में अर्जी दाखिल की थी, लेकिन कोर्ट ने पाया कि दोनों के बीच कोई पारिवारिक रिश्ता नहीं है, ऐसे में डीएनए जाँच की माँग का कोई आधार नहीं बनता है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कुछ दिनों पहले एक महिला ने खुद को रवि किशन की प्रेमिका बताया था तो वहीं महिला की बेटी शिनोवा का कहना था कि रवि किशन उसके पिता हैं। इसी सिलसिले में शिनोवा ने रवि किशन के डीएनए टेस्ट की माँग की थी। मगर अब अदालत से रवि किशन को बड़ी राहत मिली है। मुंबई की डिंडोशी सत्र अदालत ने डीएनए जाँच की माँग को सिरे से ठुकराते हुए शिनोवा की याचिका भी खारिज कर दी।

इस केस पर सुनवाई करते हुए अदालत ने कहा कि यहाँ ऐसा कोई मामला नजर नहीं आ रहा है। शिनोवा और उसकी माँ का रवि किशन से कोई पारिवारिक संबंध नजर नहीं आ रहा है। इसलिए डीएनए जाँच का सवाल ही नहीं उठता है। हालाँकि कोर्ट का पूरा फैसला अभी तक सामने नहीं आया है।

बता दें कि लखनऊ की रहने वाली महिला अपर्णा सोनी उर्फ अपर्णा ठाकुर ने रवि किशन को लेकर बड़ा खुलासा किया था। अपर्णा का दावा था कि रवि किशन उनकी बेटी शिनोवा के पिता हैं। वहीं शिनोवा ने भी वीडियो जारी करके प्रधानमंत्री मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से इंसाफ की गुहार लगाई थी।

शिनोवा का वीडियो वायरल होने के बाद रवि किशन की पत्नी प्रीति शुक्ला एक्शन मोड में आ गई थीं। उन्होंने लखनऊ के हजरतगंज थाने में अपर्णा और उनकी बेटी शिनोवा के खिलाफ झूठा आरोप लगाने की शिकायत दर्ज करवाई। प्रीति शुक्ला का कहना था कि दोनों माँ-बेटी पैसे ऐंठने के लिए रवि किशन को बदनाम कर रही हैं। वहीं अब अदालत ने भी शिनोवा की डीएनए टेस्ट की माँग ठुकरा दी है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

स्वाति मालीवाल बन गई INDI गठबंधन में गले की फाँस? राहुल गाँधी की रैली के लिए केजरीवाल को नहीं भेजा गया न्योता, प्रियंका कह...

दिल्ली में आयोजित होने वाली राहुल गाँधी की रैली में शामिल होने के लिए AAP प्रमुख अरविंद केजरीवाल को न्योता नहीं दिया गया है।

‘अनुच्छेद 370 को हमने कब्रिस्तान में गाड़ दिया, इसे वापस नहीं लाया जा सकता’: PM मोदी बोले- अलगाववाद को खाद-पानी देने वाली कॉन्ग्रेस ने...

पीएम मोदी ने कहा, "आजादी के बाद गाँधी जी की सलाह पर अगर कॉन्ग्रेस को भंग कर दिया गया होता, तो आज भारत कम से कम पाँच दशक आगे होता।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -