Thursday, April 25, 2024
Homeदेश-समाजशबाना आजमी की दारू की बोतल गायब: मुंबई पुलिस ने 26 लोगों की टीम...

शबाना आजमी की दारू की बोतल गायब: मुंबई पुलिस ने 26 लोगों की टीम लगाई पीछे, कई IIT वाले भी टीम में

मुंबई की साइबर पुलिस ने 26 'स्पेशल' एक्सपर्ट्स की टीम को हायर किया। इस टीम में IIT के लोग भी। इनकी मदद से साइबर सेल ने पता लगा लिया है कि शबाना आजमी के साथ किसने दारू के बोतल की ठगी की थी।

बॉलीवुड अभिनेत्री शबाना आजमी के साथ ऑनलाइन ठगी करने वाले धोखेबाजों की पहचान हो चुकी है। अब पुलिस उनको जल्द गिरफ्तार करेगी। सोमवार (जुलाई 12, 2021) को इस संबंध में राज्य की साइबर पुलिस ने सूचना दी। उन्होंने बताया कि साइबर क्रिमिनल्स को पकड़ने के लिए उन्होंने 26 ग्रैजुएट लोगों की टीम को हायर किया है। इनमें डोमेन स्पेशलिस्ट के तौर पर IIT ग्रैजुएट भी शामिल हैं, जिनका काम राज्य में बढ़ते अपराधों का पता लगाना है।

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, केवल साल 2017 से 2021 के बीच में 8,284 साइबर क्राइम मुंबई में रजिस्टर किए गए। लेकिन इनमें से सॉल्व सिर्फ 945 ही हो पाए। साइबर सेल का कहना है कि ये नए 26 साइबर स्पेशलिस्ट न केवल नगर के बल्कि पूरे राज्य के ‘पिछले’ मामलों को सुलझाने में भी मदद करेंगे।

नए विशेषज्ञों का काम साइबर एनालिसिस करना और सरकार के साइबर ऑडिट का ध्यान रखना होगा। ये सभी स्पेशलिस्ट गूगल के साइबर सुरक्षा ऑडिट के माध्यम से ऐसे मामलों में अनुभवी हैं, विशेष रूप से विदेशी हैकर्स से संबंधित मामलों में। ये टीम इस बात की निगरानी भी करेगी कि साइबर आतंकवाद से बचाव के लिए महत्वपूर्ण लोगों और रेलवे सिग्नल के बुनियादी ढाँचे को कैसे मजबूत किया जाए।

शबाना आजमी के साथ ऑनलाइन ठगी मामला

उल्लेखनीय है कि पिछले माह 24 जून को शबाना आजमी ने जानकारी दी थी कि वह ऑनलाइन ठगी का शिकार हुई हैं। उनके साथ ये धोखाधड़ी उस समय हुई जब उन्होंने शराब की डिलिवरी करने वाले एक जाने-माने ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के नाम पर ऑर्डर किया और एडवांस में पेमेंट भी कर दिया। लेकिन, बाद में उन्हें डिलिवरी नहीं मिली। धोखाधड़ी का अहसास होने पर आजमी ने ट्वीट कर पूरे मामले की जानकारी दी और मुंबई पुलिस से कार्रवाई की माँग की।

अपने ट्वीट में आजमी ने पेटीएम पेमेंट बैंक के उस एकाउंट नंबर और आईएफएससी कोड की जानकारी दी जिस पर पैसा भेजा था। साथ ही फैंस से ऐसे धोखेबाजों से सावधान रहने को भी कहा। आजमी ने यह नहीं बताया है कि उन्होंने कितना भुगतान किया है। कई यूजर्स ने उन्हें पुलिस में शिकायत दर्ज कराने की सलाह दी थी। उन्हें बताया था कि अक्सर शराब स्टोर्स के नाम पर धोखाधड़ी करने वाले अपना कॉन्टैक्ट नंबर दर्ज कर देते हैं जिससे लोग धोखाधड़ी के शिकार हो जाते हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जिस जज ने सुनाया ज्ञानवापी में सर्वे करने का फैसला, उन्हें फिर से धमकियाँ आनी शुरू: इस बार विदेशी नंबरों से आ रही कॉल,...

ज्ञानवापी पर फैसला देने वाले जज को कुछ समय से विदेशों से कॉलें आ रही हैं। उन्होंने इस संबंध में एसएसपी को पत्र लिखकर कंप्लेन की है।

माली और नाई के बेटे जीत रहे पदक, दिहाड़ी मजदूर की बेटी कर रही ओलम्पिक की तैयारी: गोल्ड मेडल जीतने वाले UP के बच्चों...

10 साल से छोटी एक गोल्ड-मेडलिस्ट बच्ची के पिता परचून की दुकान चलाते हैं। वहीं एक अन्य जिम्नास्ट बच्ची के पिता प्राइवेट कम्पनी में काम करते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe