Friday, June 14, 2024
Homeदेश-समाज75 वर्षीय बुजुर्ग महिला की मोहम्मद रफीक ने की स्टील के रॉड से हत्या,...

75 वर्षीय बुजुर्ग महिला की मोहम्मद रफीक ने की स्टील के रॉड से हत्या, शव को बोरे में भरकर खिड़की से फेंका: गिरफ्तार

आरोपित मोहम्मद फैज ने 75 वर्षीय महिला के सिर पर स्टील की रॉड से वार कर उसकी हत्या कर दी। वहीं महिला की पहचान सुगराबी हुसैन मुल्ला के रूप में हुई है।

मुंबई के वडाला क्षेत्र में एक बुजुर्ग महिला की बेरहमी से हत्या और उसके शव को घर से बाहर फेंक देने का मामला सामने आया है। दरअसल, महिला की बेरहमी से हत्या के मामले में 27 वर्षीय आरोपित की पहचान मोहम्मद फैज रफीक सैय्यद के रूप में हुई है, जिसे बुधवार (2 नवंबर, 2023) को गिरफ्तार कर लिया गया। वह वडाला पूर्व में बीपीटी गेट नंबर 5 इलाके का निवासी है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, आरोपित मोहम्मद फैज ने 75 वर्षीय महिला के सिर पर स्टील की रॉड से वार कर उसकी हत्या कर दी। वहीं महिला की पहचान सुगराबी हुसैन मुल्ला के रूप में हुई, जिसकी मौके पर ही मौत हो गई। रिपोर्ट्स के मुताबिक, आरोपित ने महिला की हत्या करने के बाद उसके शव को बोरे में भरा और उसके शव को घर की खिड़की से बाहर फेंक दिया। 

इतना ही नहीं आरोपितों ने महिला के शव को जलाकर सबूत मिटाने की भी कोशिश की लेकिन फिर भी बच नहीं सके।

इससे पहले भी महाराष्ट्र में हुई है वीभत्स हत्या

बता दें कि यह पहली बार नहीं है कि महाराष्ट्र के मुंबई जिले से इस तरह का क्रूर अपराध सामने आया है। इससे पहले 18 अक्टूबर को भी मुंबई में एक अंतरधार्मिक जोड़े की ऑनर किलिंग का मामला सामने आया था, जहाँ एक युवा जोड़े का अंतरधार्मिक विवाह हिंसा और निराशा की दुखद कहानी बन कर रह गया। 

गौरतलब है कि गुलनाज़ खान नाम की 20 वर्षीय महिला और उसके 22 वर्षीय पति करण रमेश चंद्र की 14 अक्टूबर,  2023 को महिला के पिता गोरा रईसुद्दीन खान (50), उसके भाई सलमान खान (22) और उनके साथी मोहम्मद कैफ ने बेरहमी से हत्या कर दी।

मुंबई पुलिस ने 17 अक्टूबर, 2023 को इस मामले में तीन आरोपितों और तीन अन्य नाबालिगों को गिरफ्तार कर िया गया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, यह घटना तब सामने आई जब मूल रूप से उत्तर प्रदेश के बांदा की रहने वाली गुलनाज खान के परिवार के सदस्य करण रमेश चंद्र से उनकी शादी का कड़ा विरोध कर रहे थे, जो 2022 में हुई थी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हिन्दू देवी-देवताओं के अपमान पर ‘मत देखो’, इस्लामी कुरीति पर सवाल उठाना ‘आपत्तिजनक’: PK और ‘हमारे बारह’ को लेकर सुप्रीम कोर्ट का दोहरा रवैया...

राधा व दुर्गा के साथ 'सेक्सी' शब्द जोड़ने वालों और भगवान शिव को बाथरूम में छिपते हुए दिखाने वालों पर सुप्रीम कोर्ट ने क्या कार्रवाई की थी? इस्लामी कुरीति दिखाने पर भड़क गया सर्वोच्च न्यायालय, हिन्दू धर्म के अपमान पर चूँ तक नहीं किया जाता।

‘इंशाअल्लाह, राम मंदिर को गिराना हमारी जिम्मेदारी बन चुकी है’: धमकी के बाद अयोध्या में अलर्ट जारी कर कड़ी की गई सुरक्षा, 2005 में...

"बाबरी मस्जिद की जगह तुम्हारा मंदिर बना हुआ है और वहाँ हमारे 3 साथी शहीद हुए हैं। इंशाअल्लाह, इस मंदिर को गिराना हमारी जिम्मेदारी बन गई है।"

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -