Tuesday, June 25, 2024
Homeदेश-समाजदावा- लो BP से हुई आदिल की मौत... कर्नाटक में मुस्लिम भीड़ ने थाने...

दावा- लो BP से हुई आदिल की मौत… कर्नाटक में मुस्लिम भीड़ ने थाने पर हमला बोला: 11 पुलिसकर्मी घायल, 7 वाहनों में भी तोड़फोड़

घटना दावणगेरे के चन्नागिरी थानाक्षेत्र की है। पुलिस ने जुआ खेलने की एक सूचना पर दबिश देकर 30 वर्षीय आदिल को पकड़ा था थाने लाए जाने के महज 5-6 मिनट के अंदर ही आदिल की तबियत खराब होने लगी और उसकी मौत की बात पता चली। इसी खबर को सुनने के बाद भीड़ ने हमला किया।

कर्नाटक के दावणगेरे जिले में मुस्लिम भीड़ द्वारा थाने पर हमले की खबर है। यह हमला पुलिस कस्टडी में एक युवक की मौत का आरोप लगा कर किया गया है। मृतक का नाम आदिल है। आदिल को जुआ खेलने के आरोप में पकड़ कर लाया गया था। हमलावर भीड़ ने पुलिस पर पत्थरबाजी की। वाहनों में आगजनी की गई है। हालात संभालने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। कुल 11 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। पुलिस ने मृतक को किसी भी प्रकार के टॉर्चर किए जाने से इंकार किया है। 2 पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया गया है। मामले में कुल 3 FIR दर्ज हुई है जिस पर जाँच की जा रही है। घटना शुक्रवार (24 मई 2024) की है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक घटना दावणगेरे के चन्नागिरी थानाक्षेत्र की है। शुक्रवार को पुलिस ने जुआ खेलने की एक सूचना पर दबिश दी। दबिश के दौरान 30 वर्षीय आदिल को पकड़ कर थाने लाया गया। पुलिस का दावा है कि थाने लाए जाने के महज 5-6 मिनट के अंदर ही आदिल की तबियत खराब होने लगी। हालत और खराब होती देख कर उसे अस्पताल ले जाया गया। यहाँ डॉक्टरों ने आदिल को मृत घोषित कर दिया। खबरों में पुलिस के हवाले से दावा किया जा रहा है कि पुलिस ने बताया है कि आदिल की मौत लो ब्लड प्रेशर की वजह से हुई है। पुलिस के अनुसार मृतक के शरीर पर चोट के कोई निशान नहीं मिले हैं।

आजतक पर प्रकाशित संबंधित खबर जिसमें लो बीपी की वजह से हुई मौत की बात ह

इस बीच आदिल के परिजन भी अस्पताल पहुँचे। उन्होंने पुलिस पर आदिल को टॉर्चर करने का आरोप लगा कर हंगामा शुरू कर दिया। कुछ ही देर में चन्नागिरी थाने के बाहर मुस्लिमों की भीड़ जमा होने लगी। भीड़ ने पुलिसकर्मियों पर हमला शुरू कर दिया। थाने के बहार खड़े वाहनों में तोड़फोड़ की जाने लगी। पुलिस ने हल्का बल प्रयोग कर के उपद्रवियों को रोकना चाहा तो थाने पर पथराव किया जाने लगा। आख़िरकार अतिरिक्त पुलिस के आने पर लाठीचार्ज किया गया जिस से भीड़ तितर-बितर हुई।

मुस्लिम भीड़ के हमले में कुल 11 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। इनका इलाज अस्पताल में चल रहा है। पुलिस के 7 वाहनों को तोड़ डाला गया है। इस पूरे मामले में कुल 3 FIR दर्ज की गईं है जिनकी जाँच की जा रही है। इनमे से एक FIR पुलिसकर्मियों के खिलाफ भी है जो मृतक के अब्बा की तहरीर पर दर्ज हुई है। हमलावरों के खिलाफ भी FIR दर्ज कर के जाँच की जा रही है। वीडियो फुटेज और अन्य साक्ष्यों से आरोपितों की पहचान की जा रही है।

2 पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया गया है। इन पुलिसकर्मियों में डिप्टी एसपी और इंस्पेक्टर शामिल हैं। आदिल के शव का पोस्टमार्टम न्यायाधीश की मौजूदगी में करवाया जाएगा। थाने में लगे CCTV फुटेज खंगाले जा रहे हैं। हालात काबू में रखने के लिए इलाके में अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया गया है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

लोकसभा में ‘परंपरा’ की बातें, खुद की सत्ता वाले राज्यों में दोनों हाथों में लड्डू: डिप्टी स्पीकर पद पर हल्ला कर रहा I.N.D.I. गठबंधन,...

कर्नाटक, तेलंगाना और हिमाचल प्रदेश में कॉन्ग्रेस ने अपने ही नेता को डिप्टी स्पीकर बना रखा है विधानसभा में। तमिलनाडु में DMK, झारखंड में JMM, केरल में लेफ्ट और पश्चिम बंगाल में TMC ने भी यही किया है। दिल्ली और पंजाब में AAP भी यही कर रही है। लोकसभा में यही I.N.D.I. गठबंधन वाले 'परंपरा' और 'परिपाटी' की बातें करते नहीं थक रहे।

शराब घोटाले में जेल में ही बंद रहेंगे दिल्ली के CM केजरीवाल, हाई कोर्ट ने जमानत पर लगाई रोक: निचली अदालत के फैसले पर...

हाई कोर्ट ने कहा कि निचली अदालत ने मामले के पूरे कागजों पर जोर नहीं दिया जो कि पूरी तरह से अनुचित है और दिखाता है कि अदालत ने मामले के सबूतों पर पूरा दिमाग नहीं लगाया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -