Saturday, July 31, 2021
Homeदेश-समाज19 साल की गर्भवती भाग्यश्री को पति हामिद ने मार डाला, बीते साल अगस्त...

19 साल की गर्भवती भाग्यश्री को पति हामिद ने मार डाला, बीते साल अगस्त में हुआ था निकाह

पुलिस ने शिकायत के आधार पर हामिद को गिरफ्तार कर लिया और शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया। फिलहाल पुलिस मामले की जाँच कर रही है। साथ ही ऑटोप्सी रिपोर्ट का इंतजार भी।

मैसूर के मदिकेरी नगर में 19 साल की गर्भवती भाग्यश्री को उसके 31 वर्षीय पति साहुल हामिद ने बुधवार (मई 6, 2020) को मार डाला। दोनों का निकाह पिछले साल अगस्त में हुआ था। लेकिन, रजिस्ट्रार दफ्तर में निकाह 29 अप्रैल को पंजीकृत करवाया गया था।

भाग्यश्री ने हामिद के साथ जिंदगी गुजारने के लिए धर्म परिवर्तन कर अपना नाम ‘सुहान’ भी कर लिया था। मगर, मंगलवार को दोनों के बीच हुई एक आपसी बहस उसकी मौत का कारण बन गई।

भाग्यश्री ने मंगलवार को झगड़े के बाद अपनी माँ यशोदा को अगली सुबह 8:30 बजे फोन किया। यशोदा बताती हैं कि उनसे बात करते हुए भाग्यश्री काफी परेशान थी और रो भी रही थी।

बस इसी कारण वे जल्द से जल्द उसके घर पहुँची। लेकिन वहाँ उन्हें उनकी बेटी का शव बिस्तर पर पड़ा मिला और हामिद घर से नदारद था।

बेटी का शव देखने के बाद यशोदा जोर-जोर से रोने लगीं। उन्होंने दामाद हामिद के ख़िलाफ़ पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई। हामिद शहर के ही एक चिकन स्टॉल पर काम करता है।

इसके बाद पुलिस ने शिकायत के आधार पर हामिद को गिरफ्तार कर लिया और शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया। फिलहाल पुलिस मामले की जाँच कर रही है। साथ ही ऑटोप्सी रिपोर्ट का इंतजार भी।

गौरतलब है कि धर्म परिवर्तन के बावजूद किसी महिला पर उसके शौहर द्वारा अत्याचार का ये पहला मामला नहीं है। इसी साल की शुरुआत में कानपुर से एक ऐसी ही खबर आई थी।

उस समय सीता उर्फ नेहा नाम की एक लड़की ने अपने परिवार के बगावत करने के बाद शाहनवाज नाम के लड़के से शादी कर ली थी। लेकिन निकाह के कुछ दिन बाद दुल्हन के जोड़े में ही उसका शव सड़क पर मिला था। जाँच से पता चला कि शहनवाज ने पहले अपने जीजा के साथ मिलकर उसका रेप किया फिर गला घोंटकर मार डाला।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

20 से ज्यादा पत्रकारों को खालिस्तानी संगठन से कॉल, धमकी- 15 अगस्त को हिमाचल प्रदेश के CM को नहीं फहराने देंगे तिरंगा

खालिस्तान समर्थक सिख फॉर जस्टिस ने हिमाचल प्रदेश के 20 से अधिक पत्रकारों को कॉल कर धमकी दी है कि 15 अगस्त को सीएम तिरंगा नहीं फहरा सकेंगे।

‘हमारे बच्चों की वैक्सीन विदेश क्यों भेजी’: PM मोदी के खिलाफ पोस्टर पर 25 FIR, रद्द करने से सुप्रीम कोर्ट का इनकार

सुप्रीम कोर्ट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना वाले पोस्टर चिपकाने को लेकर दर्ज एफआईआर को रद्द करने से इनकार कर दिया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,101FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe