Monday, July 15, 2024
Homeदेश-समाजजिसके साथ लिव-इन में रहता था नजीबुद्दीन, उसी की बेटी को मार डाला: लाश...

जिसके साथ लिव-इन में रहता था नजीबुद्दीन, उसी की बेटी को मार डाला: लाश के साथ किया बलात्कार, मीडिया ‘राजू’ बता कर चला रहा खबर

पीड़िता के मुताबिक, बाद में घर की तलाशी लेने पर उसकी बेटी के झुमके, चाँदी की पायल के साथ कैश रखे गए 20 हजार रुपए गायब मिले। वो पिछले 5 साल से अपने पति से अलग रह रही थी। उसके 2 बेटे हैं जो उसके पति के साथ रहते थे।

तमिलनाडु की चेन्नई पुलिस ने 18 साल की एक लड़की की हत्या के आरोप में नजीबुद्दीन को गिरफ्तार किया है। आरोपित अपना नाम राजू मणि नायर बताया करता था। मृतका उसकी प्रेमिका व लिव इन पार्टनर की बेटी थी। आशंका जताई जा रही है कि आरोपित ने मृतका की लाश के साथ रेप किया था। घटना के बाद नजीबुद्दीन मुंबई के पूर्वी विरार में छिपा हुआ था। घटना 12 नवम्बर 2022 की है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मृतका की माँ ने इस बाबत पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई थी। अपनी शिकायत में उन्होंने बताया था कि घटना के वक्त वो कहीं बाहर गई थीं। जब वो लौंटी तब घर पर बाहर से ताला लगा था। उन्होंने अपनी चाबियों से ताले को खोला तो उनकी बेटी बेसुध जमीन पर पड़ी मिली। बेटी के गले पर निशान पड़े थे और उसकी साँसें बंद थीं। शिकायत में पीड़िता ने खुद को इस घटना से सदमे में बताया।

पीड़िता ने आगे बताया कि पूछताछ करने पर एक पड़ोसी ने जानकारी दी कि राजू उर्फ़ नजीबुद्दीन घर पर ताला लगा कर कहीं चला गया। पड़ोसी के मुताबिक, ताला लगाने के दौरान राजू काफी जल्दबाजी में लग रहा था। पीड़िता के मुताबिक, बाद में घर की तलाशी लेने पर उसकी बेटी के झुमके, चाँदी की पायल के साथ कैश रखे गए 20 हजार रुपए गायब मिले। वो पिछले 5 साल से अपने पति से अलग रह रही थी। उसके 2 बेटे हैं जो उसके पति के साथ रहते थे।

कुछ समय पहले पीड़िता को नजीबुद्दीन मिला। उसने पीड़िता और उसके बच्चों की देखभाल करने का वादा किया और अपने साथ ले आया। बाद में पीड़िता ने अपनी बेटी को भी अपने साथ रख लिया।

अपनी शिकायत में पीड़िता ने आगे लिखा है कि बेटी के आने के बाद नजीबुद्दीन उस पर गलत नजर रखने लगा। लगभग 15 दिन पहले उसने सोते समय बेटी को गलत नीयत से छुआ। इस दौरान बेटी ने विरोध किया और शोर मचाया। बताया गया कि इस घटना के बाद से बेटी नजीबुद्दीन से नफरत करने लगी थी। इस घटना के बाद पीड़िता का भी नजीबुद्दीन से झगड़ा हुआ था। बाद में आरोपित को अलग होने के लिए कह दिया गया था।

पुलिस को दी गई शिकायत में इसी झगड़े की वजह से पीड़िता ने अपनी बेटी की हत्या होने का शक जताया है। शिकायत में यह भी बताया गया है कि जब पीड़िता काम पर जा रही थी तब नजीबुद्दीन ने उस से फोन को घर पर छोड़ कर जाने के लिए कहा था। इस मामले में पूनमल्ली पुलिस के इंस्पेक्टर पीआर चिदंबरमुरुगेसन ने कहा, “फॉरेंसिक टीम ने मौखिक रूप से हत्यारे द्वारा लड़की के शव के साथ रेप किए जाने की आशंका जताई है।” पुलिस ने नजीबुद्दीन पर IPC की धारा 302 (हत्या) और 380(चोरी) की धाराओं पर FIR दर्ज कर के उसकी तलाश शुरू कर दी थी।

नजीबुद्दीन पहले से शादीशुदा है। बताया जा रहा है कि शातिर नजीबुद्दीन ने फरार होने के दौरान अपने फोन को बंद कर दिया था। वो पीड़िता और उसकी मृतका बेटी का फोन ले कर भागा था। शक जताया जा रहा है कि पीड़िता की बेटी को मार कर वो विरार चला गया था जहाँ उसकी ससुराल है। पुलिस ने सर्विलांस से उसकी लोकेशन निकाली और विरार पुलिस को उसकी लोकेशन भेज कर उसे गिरफ्तार करवा दिया। उसकी गिरफ्तारी गुरुवार (17 नवम्बर, 2022) को हुई है। नजीबुद्दीन का पुराना आपराधिक इतिहास भी है। बताया जा रहा है कि वो पहले चेन स्नेचिंग जैसी वारदातों में शामिल रह चुका है।

नाम छिपाने की कोशिश

नजीबुद्दीन के मामले में मीडिया के एक वर्ग ने उसका नाम छिपाने पूरी कोशिश की। कई मीडिया रिपोर्ट्स में उसे सिर्फ राजू नाम से बताया गया। टाइम्स ऑफ़ इंडिया और न्यू इंडियन एक्सप्रेस में उसका एक बार नजीबुद्दीन नाम बताया गया है। मिड डे की रिपोर्ट में उसके नजीबुद्दीन नाम को पूरी तरह से छिपा कर सिर्फ राजू मणि अय्यर बताया गया है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जो प्रधानमंत्री है खालिस्तानी आतंकियों का ‘हमदर्द’, उसने अब दिलजीत दोसांझ को दिया ‘सरप्राइज’: PM ट्रुडो से मिलकर बोले भारतीय सिंगर- विविधता कनाडा की...

कनाडा पीएम ट्रुडो जो हमेशा से खालिस्तानी आतंकियों के 'हमदर्द' बनकर रहे उन्होंने हाल में दिलजीत दोसांझ को कनाडा में 'सरप्राइज' दिया।

कॉन्ग्रेस के चुनावी चोचले ने KSRTC का भट्टा बिठाया, ₹295 करोड़ का घाटा: पहले महिलाओं के लिए बस सेवा फ्री, अब 15-20% किराया बढ़ाने...

कर्नाटक में फ्री बस सेवा देने का वादा करना कॉन्ग्रेस के लिए आसान था लेकिन इसे लागू करना कठिन। यही वजह है कि KSRTC करोड़ों के नुकसान में है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -