Wednesday, May 22, 2024
Homeदेश-समाजNCB ने अपने दो अधिकारियों को किया निलंबित, आर्यन खान ड्रग्स मामले की कर...

NCB ने अपने दो अधिकारियों को किया निलंबित, आर्यन खान ड्रग्स मामले की कर रहे थे जाँच: संदिग्ध गतिविधियों के हैं आरोप

पिछले साल 2 अक्टूबर की रात को मुंबई क्रूज पर एनसीबी के अधिकारियों ने छापेमारी की थी, जिसमें शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान, उनके दोस्त अरबाज मर्चेंट और 6 अन्य लोगों को गिरफ्तार किया गया था।

बॉलीवुड ऐक्टर शाहरुख खान (Bollywood Actor Shah Rukh Khan) के बेटे आर्यन खान से जुड़े मुंबई क्रूज ड्रग्स (Aryan Khan Drug Case) मामले की जाँच से जुड़े दो अधिकारियों को निलंबित कर दिया गया है। आर्यन खान मामले के बाद इन दोनों अधिकारियों को तबादला कर दिया गया था। अब संदिग्ध गतिविधियों के बाद दोनों को निलंबित कर दिया गया है। बता दें कि कुछ समय पहले आर्यन खान मामले में एनसीबी अधिकारी समीर वानखेड़े (Samir Wankhede) को भी हटा दिया गया था और उनकी जगह सीबीआई के पूर्व अधिकारी संजय सिंह (Sanjay Singh) को कार्यभार दिया गया था। 

जिन अधिकारियों को निलंबित किया गया है उनके नाम हैं विश्व विजय सिंह (V.V Singh) और आशीष रंजन प्रसाद (Ashish Ranjan Prasad)। वीवी सिंह एनसीबी (NCB) अधिकारी हैं और उन्हें आर्यन खान मामले के बाद गुवाहाटी एनसीबी में ट्रांसफर कर दिया गया था। वहीं, आशीष रंजन प्रसाद खुफिया (IB) अधिकारी हैं और उन्हें CISF में ट्रांसफर कर दिया गया था। अब दोनों अधिकारियों को निलंबित कर दिया गया है।

ABP के अनुसार, एनसीबी का कहना है कि इन दोनों का निलंबन आर्यन केस नहीं जुड़ा है। बताया जा रहा है कि NCB के प्रमुख (DDG) ज्ञानेश्वर सिंह (Gyaneshwar Singh) की रिपोर्ट के आधार पर इन दोनों अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की गई है और इनका निलंबन किसी और मामले में किया गया है। हालाँकि, वो मामला क्या है ये अभी स्पष्ट नहीं हो पाया है।

बता दें कि जब क्रूज पर ड्रग्स को लेकर छापेमारी की गई थी, तब विश्व विजय सिंह जाँच अधिकारी थे और प्रसादी उनके डिप्टी थे। बाद में इस मामले में राजनीति के कारण जाँच को NCB के SIT के हवाले कर दिया गया था। उस दौरान दोनों अधिकारियों ने अपने बयान भी दर्ज कराए थे।

दरअसल, पिछले साल 2 अक्टूबर की रात को मुंबई क्रूज पर एनसीबी के अधिकारियों ने छापेमारी की थी, जिसमें शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान, उनके दोस्त अरबाज मर्चेंट और 6 अन्य लोगों को गिरफ्तार किया गया था। गिरफ्तार लोगों में मुनमुन धमेचा, अरबाज मर्चेंट, इसमीत सिंह, मोहक जसवाल, गोमित चोपड़ा, नुपुर सतीजा और विक्रांत छोकर के नाम शामिल हैं। 

आर्यन खान और 19 अन्य को प्रतिबंधित दवाओं के इस्तेमाल और बिक्री करने का आरोप लगा था। नारकोटिक ड्रग्स एंड साइकोट्रोपिक सबस्टेंस अधिनियम (NDPS Act) के तहत मामला दर्ज किया गया था। बाद में आर्यन खान और 17 अन्य को जमानत मिल गई थी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पश्चिम बंगाल में 2010 के बाद जारी हुए हैं जितने भी OBC सर्टिफिकेट, सभी को कलकत्ता हाई कोर्ट ने कर दिया रद्द : ममता...

कलकत्ता हाई कोर्ट ने बुधवार 22 मई 2024 को पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार को बड़ा झटका दिया। हाईकोर्ट ने 2010 के बाद से अब तक जारी किए गए करीब 5 लाख ओबीसी सर्टिफिकेट रद्द कर दिए हैं।

महाभारत, चाणक्य, मराठा, संत तिरुवल्लुवर… सबसे सीखेगी भारतीय सेना, प्राचीन ज्ञान से समृद्ध होगा भारत का रक्षा क्षेत्र: जानिए क्या है ‘प्रोजेक्ट उद्भव’

न सिर्फ वेदों-पुराणों, बल्कि कामंदकीय नीतिसार और तमिल संत तिरुवल्लुवर के तिरुक्कुरल का भी अध्ययन किया जाएगा। भारतीय जवान सीखेंगे रणनीतियाँ।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -