Wednesday, June 12, 2024
Homeदेश-समाजISIS आइडियोलॉजी को बढ़ावा देने वाले मो. इकबाल के FB पोस्ट पर NIA ने...

ISIS आइडियोलॉजी को बढ़ावा देने वाले मो. इकबाल के FB पोस्ट पर NIA ने की कार्रवाई: मदुरै में 4 जगह छापेमारी

NIA ने बयान जारी कर बताया है कि जाँच में पता चल है कि आरोपित मोहम्मद इकबाल ने फेसबुक पेज ‘Thoonga Vizhigal Rendu is in Kazimar Street’ पर एक दूसरे समुदाय (हिन्दू समुदाय) पर आपत्तिजनक टिप्पणी करते हुए पोस्ट किया था।

राष्ट्रीय जाँच एजेंसी (NIA) ने रविवार (16 मई) को तमिलनाडु के मदुरै में चार जगहों पर छापेमारी की। यह छापेमारी आरोपित मोहम्मद इकबाल के फेसबुक पोस्ट के आधार पर की गई। इस्लामिक कट्टरपंथी मोहम्मद इकबाल पर ISIS और कट्टरपंथी संगठन हिज़्ब-उत-तहरीर के जिहादी विचारों का समर्थन करने का आरोप है।

मामले में NIA ने बयान जारी कर बताया है कि जाँच में पता चल है कि आरोपित मोहम्मद इकबाल ने फेसबुक पेज ‘Thoonga Vizhigal Rendu is in Kazimar Street’ पर एक दूसरे समुदाय (हिन्दू समुदाय) पर आपत्तिजनक टिप्पणी करते हुए पोस्ट किया था। इस पोस्ट का उद्देश्य था दो समुदायों में टकराव उत्पन्न करना। मामले में कार्रवाई करते हुए एनआईए ने मदुरै की चार जगहों काजीमर स्ट्रीट, के पुडुर, पेतानियापुरम और महबूब पलयम में छापेमारी की।

आरोपित मोहम्मद इकबाल कट्टरपंथी इस्लामिक विचारों का समर्थक माना जाता है और उस पर सोशल मीडिया पोस्ट्स के जरिए कट्टरपंथी इस्लामिक संगठन ISIS और हिज़्ब-उत-तहरीर की वकालत करने का आरोप है। इस मामले में सबसे पहले तमिलनाडु पुलिस ने मामला दर्ज किया था लेकिन बाद में 15 अप्रैल को यह केस एनआईए के हवाले कर दिया गया था। काजीमर स्ट्रीट के रहने वाले आरोपित मोहम्मद इकबाल को पिछले साल 2 दिसंबर को गिरफ्तार किया गया था और वह फिलहाल न्यायिक हिरासत में है।

छापेमारी में एनआईए ने लैपटॉप, हार्ड डिस्क, मोबाईल फोन, पेन ड्राइव, सिम कार्ड और कट्टरपंथी साहित्य एवं दस्तावेज बरामद किया है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जोशीमठ को मिली पौराणिक ‘ज्योतिर्मठ’ पहचान, कोश्याकुटोली बना श्री कैंची धाम : केंद्र की मंजूरी के बाद उत्तराखंड सरकार ने बदले 2 जगहों के...

ज्तोतिर्मठ आदि गुरु शंकराचार्य की तपोस्‍थली रही है। माना जाता है कि वो यहाँ आठवीं शताब्दी में आए थे और अमर कल्‍पवृक्ष के नीचे तपस्‍या के बाद उन्‍हें दिव्‍य ज्ञान ज्‍योति की प्राप्ति हुई थी।

नाबालिग औलाद ने ही अपने इमाम अब्बा का किया सिर तन से जुदा: कट्टर इस्लामी-वामी मचा रहे ‘मुस्लिम टारगेट किलिंग’ का शोर, पुलिस जाँच...

जिसे वामी-इस्लामी हैंडल घोषित करना चाहते थे टारगेट किलिंग, शामली में मस्जिद के उस इमाम का सिर उनके ही नाबालिग बेटे ने किया था तन से जुदा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -