Sunday, May 19, 2024
Homeदेश-समाजफोन से नहीं डिलीट की गर्लफ्रेंड की फोटो तो माज पठान ने वैभव अग्रवाल...

फोन से नहीं डिलीट की गर्लफ्रेंड की फोटो तो माज पठान ने वैभव अग्रवाल को मार डाला, नहर में फेंक दिया शव: अब पाँव में लगी यूपी पुलिस की गोली

नोएडा में माज पठान ने वैभव अग्रवाल की इसलिए हत्या कर दी क्योंकि उसकी गर्लफ्रेंड की फोटो वैभव डिलीट नहीं कर रहा था। पुलिस ने माज को मुठभेड़ के बाद पकड़ा है।

उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा में माज पठान ने वैभव अग्रवाल की हत्या कर के उसका शव नहर में फेंक दिया। दोनों के बीच एक लड़की की फोटो को लेकर विवाद हुआ जिसके कारण वैभव की माज ने हत्या कर दी। माज को पुलिस ने मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया है।

जानकारी के अनुसार, ग्रेटर नोएडा के दनकौर इलाके के बिलासपुर का रहने वाला वैभव अग्रवाल 29 जनवरी, 2024 से घर से लापता था। परिजनों ने अपने स्तर से वैभव को ढूँढा लेकिन उसके ना मिलने पर पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई।

पुलिस ने भी इस मामले में एक सप्ताह तक प्रयास कर लिए पर वैभव के विषय में कोई जानकारी नहीं मिली। पुलिस ने इसके बाद तकनीक का सहारा लेते हुए वैभव के फोन को सर्विलांस पर लगाया। पुलिस को इससे दो अन्य युवकों के विषय में पता चला। इन दोनों ने ही मिलकर वैभव अग्रवाल की हत्या की थी। इसके बाद इन्होंने शव को नहर में फेंक दिया था।

पुलिस की जाँच में सामने आया कि इनमें से एक आरोपित नाबालिग है जबकि मुख्य हत्यारा माज पठान वैभव को पहले से जानता था। उसका एक लड़की को लेकर वैभव से विवाद था। माज जिसे अपनी गर्लफ्रेंड बताता था, उसकी फोटो वैभव के फ़ोन में थी। माज इस गर्लफ्रेंड की फोटो डिलीट करने के लिए वैभव पर दबाव बना रहा था, जब वैभव नहीं माना तो माज पठान ने उसे एक जगह पर मिलने बुलाया और उसकी अपने नाबालिग दोस्त के साथ मिलकर हत्या कर दी। इसके बाद दोनों ने मिलकर शव को नहर में फेंक दिया।

पुलिस ने इन्हें एक मुठभेड़ के बाद पकड़ा। पुलिस ने बताया कि उसे इलेक्ट्रॉनिक सर्विलांस और गोपनीय सूचना प्राप्त हुई थी नोएडा के धनौरी से सक्का वाले रास्ते पर कहीं अभियुक्त मौजूद हैं। जब वह इस रास्ते पर आगे बढ़े तो उन्हें दो युवक बाइक से आते दिखे, पुलिस ने उन्हें रोकने का प्रयास किया तो वह भागने लगे और पुलिस पर फायर कर दिया।

पुलिस ने जवाबी फायर करते हुए मुठभेड़ में इन दोनों को गिरफ्तार कर लिया। इस मुठभेड़ में माज के पैर में गोली लगी है। इनके पास से मृतक वैभव अग्रवाल का फ़ोन भी बरामद हुआ है। इसके अलावा इनके पास से पुलिस ने एक तमंचा भी बरामद किया है। दोनों ने हत्या करने की बात कबूल कर ली है। इन्होंने बताया है कि वैभव की हत्या 30 जनवरी, 2024 को की गई है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जिसे वामपंथन रोमिला थापर ने ‘इस्लामी कला’ से जोड़ा, उस मंदिर को तोड़ इब्राहिम शर्की ने बनवाई थी मस्जिद: जानिए अटाला माता मंदिर लेने...

अटाला मस्जिद का निर्माण अटाला माता के मंदिर पर ही हुआ है। इसकी पुष्टि तमाम विद्वानों की पुस्तकें, मौजूदा सबूत भी करते हैं।

रोफिकुल इस्लाम जैसे दलाल कराते हैं भारत में घुसपैठ, फिर भारतीय रेल में सवार हो फैल जाते हैं बांग्लादेशी-रोहिंग्या: 16 महीने में अकेले त्रिपुरा...

त्रिपुरा के अगरतला रेलवे स्टेशन से फिर बांग्लादेशी घुसपैठिए पकड़े गए। ये ट्रेन में सवार होकर चेन्नई जाने की फिराक में थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -