Monday, December 5, 2022
Homeदेश-समाज6 राज्यों के मंदिरों और 10 स्टेशनों को बम से उड़ा दिया जाएगा: जैश-ए-मोहम्मद...

6 राज्यों के मंदिरों और 10 स्टेशनों को बम से उड़ा दिया जाएगा: जैश-ए-मोहम्मद के पत्र के बाद अलर्ट जारी

पत्र में लिखा गया है, "हज़ारों की संख्या में जेहादी हिंदुस्तान को तबाह कर देंगे। चारों तरफ ख़ून ही ख़ून होगा।" ख़ुफ़िया विभाग को भी कई ऐसे रिपोर्ट्स मिले हैं, जिसमें कहा जा रहा है कि कई आतंकी भारत में बड़े हमले की साज़िश रच रहे हैं।

अंतरराष्ट्रीय मंचों पर लगातार बेइज्जत हो रहा पाकिस्तान अब आतंकियों का इस्तेमाल कर के भारत को डराने की कोशिश कर रहा है। पाकिस्तान पोषित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने एक पत्र द्वारा कई भारतीय स्टेशनों और मंदिरों को बम से उड़ाने की धमकी दी है। जैश की धमकी के मद्देनजर सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है और अलर्ट जारी किया गया है। रोहतक जंक्शन के सुप्रीटेंडेंट को भेजे पत्र में जैश ने कहा है कि 8 अक्टूबर को दशहरा के दिन 10 स्टेशनों और 6 राज्यों के मंदिरों को उड़ाने की धमकी दी है

पत्र में रोहतक जंक्शन, रेवाड़ी, हिसार, कुरुक्षेत्र, मुंबई सिटी, बंगलुरू, चेन्नई, जयपुर, भोपाल, कोटा, इटारसी रेलवे स्टेशनों और राजस्थान, गुजरात, तमिलनाडु, एमपी, यूपी व हरियाणा सहित छह राज्यों के मंदिरों को निशाना बनाने की बात कही गई है। पत्र के बाद जीआरपी और आरपीएफ ने ट्रेनों की चेकिंग में तेज़ी लाई है और प्लेटफॉर्म्स पर भी सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है।

पत्र लिखने वाले ने ख़ुद की पहचान जैश-ए-मोहम्मद के एरिया कमांडर मसूद अहमद के रूप में बताई है। उसने लिखा है कि जैश जेहादियों की मौत का बदला ज़रूर लेंगे। पत्र में लिखा गया है, “हज़ारों की संख्या में जेहादी हिंदुस्तान को तबाह कर देंगे। चारों तरफ ख़ून ही ख़ून होगा।” ख़ुफ़िया विभाग को भी कई ऐसे रिपोर्ट्स मिले हैं, जिसमें कहा जा रहा है कि कई आतंकी भारत में बड़े हमले की साज़िश रच रहे हैं।

रोहतक जंक्शन के सुपरिटेंडेंट को जैश का भेजा गया पत्र

गुरुवार (सितम्बर 12, 2019) को ही जम्मू कश्मीर पुलिस ने जैश-ए-मोहम्मद के तीन आतंकियों को जम्मू क्षेत्र के कठुआ से गिरफ़्तार किया था। उनके पास से 6 एके असाल्ट राइफल समेत बड़ी संख्या में हथियार व गोला-बारूद भी जब्त किया गया था। आतंकियों की गिरफ़्तारी के बाद पुलिस ने बताया कि आतंकियों की गिरफ्तारी और हथियार की बरामदगी एक ट्रक से हुई है जो पंजाब से कश्मीर जा रहा था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अब्बू, दादा और 3 चाचाओं ने मिल कर 9 साल की बच्ची को मार डाला, वो तड़पती रही-ये वीडियो बनाते रहे: पड़ोसियों को फँसाने...

पीलीभीत में 9 साल की बच्ची की हत्या का दर्दनाक मामला सामने आया है। इस घटना को बच्ची के अब्बू अनीस, दादा व चाचाओं ने मिलकर अंजाम दिया।

बोस्टन की यूनिवर्सिटी में ‘The Wire’ की आरफा का ‘व्याख्यान’, भारत में लोकतंत्र पर प्रोपेगंडा: आयोजकों में आतंकवादियों के हमदर्द, छिपाया नाम

भारत में ओपन सोसायटी फाउंडेशन की स्थापना के बाद से जॉर्ज सोरोस ने विभिन्न प्रकार के एनजीओ और संगठनों को फंडिंग कर भारत की छवि धूमिल करने का प्रयास किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
236,950FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe