Sunday, October 17, 2021
Homeदेश-समाजप्रेमी से बात करने पर अब्बू-अम्मी ने किशोरी को दी तालिबानी सज़ा, दोनों पैरों...

प्रेमी से बात करने पर अब्बू-अम्मी ने किशोरी को दी तालिबानी सज़ा, दोनों पैरों में हथौड़े से ठोकी कीलें

इस बर्बर उत्पीड़न के बाद पीड़िता किसी तरह अपने घर से भाग निकली। उसकी हालत इतनी ख़राब थी कि वह ज्यादा दूर भाग भी नहीं पाई और सड़क पर ही बेहोश होकर गिर पड़ी। दर्द से कराहती किशोरी को...

बरेली में एक किशोरी को अपनों द्वारा ही प्यार करने की ऐसी सज़ा दी गई, जिसे सुन कर कोई भी काँप जाए। 16 वर्षीय किशोरी पर हुए अत्याचार की जानकारी जब पुलिस को मिली, तो अधिकारी भी इस दर्द भरी दास्तान को सुन कर सिहर गए। मामला उत्तर प्रदेश के बरेली स्थित इज्ज़त नगर का है। मदरसे में पढ़ी किशोरी पड़ोस के एक दुकानदार से प्यार करती है। जब यह बात उसके अब्बू, अम्मी व भाई को पता चली, तो तीनों ने मिल कर उसकी चोटी काट दी। इसके बाद उसे एक कमरे में बंद कर के लाठी-डंडों से इतना पीटा गया कि उसका हाथ टूट गया। जब इतने पर से भी परिजनों का मन नहीं भरा तो पीड़िता के दोनों पैरों में कील ठोक कर लहूलुहान कर दिया।

इस घटना का खुलासा शनिवार (जून 8, 2019) की सुबह तब हुआ, जब उक्त किशोरी अपने घर से किसी तरह भाग निकली। उसकी हालत इतनी ख़राब थी कि वह ज्यादा दूर भाग भी नहीं पाई और सड़क पर ही बेहोश होकर गिर पड़ी। दर्द से कराहती किशोरी को यास्मीन जहाँ नामक एक समाजसेविका ने देखा, जिसके बाद पुलिस को मामले की जानकारी दी गई। ‘नारी सम्मान सेवा समिति’ के सदस्यों ने पुलिस को मौके पर बुलाया। पुलिस ने परिजनों के ख़िलाफ़ मामला दर्ज कर किशोरी को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती करा दिया है। पुलिस ने आरोपितों की जल्द गिरफ़्तारी का आश्वासन भी दिया।

दैनिक जागरण के ‘बरेली नगर’ संस्करण में छपी ख़बर

पीड़िता ने बताया कि इससे पहले उसके परिजन उसे नहीं मारते थे। इसीलिए जब उन्होंने उसे पीटना शुरू किया तो वह काफ़ी डर गई। वह अपने अम्मी व अब्बू से अल्लाह के नाम पर रहम माँगती रही लेकिन उन लोगों ने उसे पीटना जारी रखा। बार-बार गिड़गिड़ाने के बावजूद परिजनों ने अपनी बेरहमी जारी रखी। पीड़िता ने कहा कि वह अपनी प्रेमी से प्यार करती है और उससे ही निकाह करेगी, भले ही उसकी जान ही क्यों न चली जाए। परिजन उस पर कड़ी नज़र रखते थे। एक दिन जब वो अपनी प्रेमी से मिल कर घर पहुँची, तब से परिजन उसे कहीं भी फोन पर बात तक नहीं करने देते थे पर वो छिप कर किसी तरह बात कर लिया करती थी।

शनिवार को उसके छोटे भाई ने उसे फोन पर बात करते पकड़ लिया, जिसके बाद उसे कमरे में बंद कर पीटा गया। उसकी चोटी काटने के लिए चाकू व कैंची का इस्तेमाल किया गया। वहीं उसके पैरों में कील ठोकने के लिए हथौड़े का प्रयोग किया गया।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘हम देश को जाति-क्षेत्र और मजहब के आधार पर बँटने नहीं देंगे, दंगा किया…तो सात पुश्तें भरेंगी’: योगी आदित्यनाथ

पिछड़ा वर्ग सम्मेलन में सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा दंगा करोगे तो सात पुश्तों को इसकी भरपाई करनी पड़ेगी। मूर्ति कला उद्योग बना रोजगार का साधन।

‘और गिरफ़्तारी की बात मत करो, वरना सरेंडर करने वाले साथियों को भी छुड़ा लेंगे’: निहंगों की पुलिस को धमकी, दलित लखबीर को बताया...

दलित लखबीर की हत्या पर निहंग बाबा राजा राम सिंह ने कहा कि हमारे साथियों को मजबूरन सज़ा देनी पड़ी, क्योंकि किसी ने कोई कार्रवाई नहीं की।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,325FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe